स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

राजनीति के अखाड़े में हार के डर से फूंक फूंक के कदम रख रहे छात्र संगठन

Deepak Sharma

Publish: Aug 18, 2019 19:16 PM | Updated: Aug 18, 2019 19:19 PM

Kota

कॉमर्स कॉलेज के प्रत्याशियों की घोषणा में लगा सवा घंटे का समय, पुलकित गहलोत होंगे छात्रसंघ अध्यक्ष प्रत्याशी

कोटा. छात्रसंघ चुनाव से पहले ही ABVP एबीवीपी में असमंजस की स्थिति दिखने लगी है। इधर, NSUI एनएसयूआई अब तक वैट एंड वॉच वाली स्थिति में है। सूत्रों के मुताबिक एनएसयूआई को जिताऊ प्रत्याशी नहीं मिल रहे हैं। इसके चलते जोड़तोड़ कर प्रत्याशी खड़े करने का जुगाड़ किया जा रहा है। कोटा जिले में KOTA UNIVERSITY कोटा विवि समेत दस कॉलेज है, जहां एनयूआई को प्रत्याशियों की घोषणा करना बाकी है।

ऐसे खुली एबीवीपी की गुटबाजी
कॉमर्स कॉलेज में छात्रसंघ प्रत्याशियों की कार्यकारिणी को लेकर छावनी स्थित पालीवाल कम्पाउण्ड में रविवार दोपहर 2 बजे प्रत्याशियों की घोषणा की जानी थी। संगठन ने अध्यक्ष पद प्रत्याशी पर पुलकित गहलोत की घोषणा तो कर दी, लेकिन सवा घंटे इंतजार के बाद भी महासचिव, उपाध्यक्ष व संयुक्त सचिव पद के प्रत्याशियों की घोषणा नहीं हुई। सूत्रों ने बताया कि इन पदों पर कई दावेदार हैं। ऐसे में सबको मनाकर एकजुट करने का प्रयास किया जा रहा है वरना आगे यह गुटबाजी का रूप ले सकता है।
विभाग सहसंयोजक कपिल मेहता ने बताया कि कार्यकारिणी की सर्वसम्मति नहीं बन पाई है। इस कारण विलम्ब हुआ है। शाम या कल तक इसकी घोषणा की जाएगी। मामला मीडिया में गया तो आनन-फानन में संगठन के पदाधिकारी हरकत में आए और कुछ देर बाद ही करीब चार बजे उन्होंने महासचिव व उपाध्यक्ष पद की घोषणा कर दी।

पांच कॉलेजों में एबीवीपी प्रत्याशी घोषित

एबीवीपी ने छात्रसंघ चुनाव की घोषणा के बाद से अब तक पांच कॉलेजों में छात्रसंघ प्रत्याशियों की घोषणा कर दी है। इसमें राजकीय कला महाविद्यालय, संस्कृत कॉलेज, जेडीबी कन्या विज्ञान, जेडीबी कन्या कला, कॉमर्स कॉलेज शामिल हैं।

 

एनएसयूआई ने जल्द कॉलेजों में प्रत्याशियों की घोषणा करेगी। इसकी तैयारियां पूरी हो चुकी है।

प्रफुल्ल पाठक, जिलाध्यक्ष, एनएसयूआई कोटा

प्रदेश के कई कॉलेजों में एनएसयूआई ने अपने प्रत्याशी घोषित कर दिए है। कोटा में एक-दो दिन में छात्रसंघ प्रत्याशी घोषित कर दिए जाएंगे।
अभिमन्यु पूनिया, प्रदेश अध्यक्ष, एनएसयूआई