स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

अगस्त में बारिश का आंकड़ा पहुंचा पार, 39 बांध लबालब

Suraksha Rajora

Publish: Aug 17, 2019 23:48 PM | Updated: Aug 17, 2019 23:48 PM

Kota

heavy rain ये बांध हो गए लबालब

कोटा. अगस्त माह में हुई झमाझम बारिश से हाड़ौती के छोटे-बड़े 39 बांध लबालब हो गए हैं। कई बांधों में जल आवक में अतिक्रमण के कारण बाधाएं हैं, इसके बाद भी बांध भर गए। कोटा में इस साल अब तक 1088 एमएम बारिश हो चुकी है। अगस्त में बारिश की बात करें तो यह आंकड़ा 300 एमएम के पार हो चुका है।

कोटा बैराज से हाई अलर्ट, 48 घंटों की बारिश से कई बस्तियां थर थर्राई, जन जीवन बेपटरी, 181 मंदबुद्धि लोग फंसे, टायर बन रहे तारणहार


ये बांध हो गए लबालब

कोटा जिला
- कोटा बैराज, अलनिया डेम, रानपुर, सावनभादौ

बूंदी जिला
बरधा, बूंदी का गोठड़ा, चाकन, भीमलत, पाइबालापुरा, अभयपुरा, इंद्राणी, पेच की बावड़ी, माछली, रोणीजा, बंसोली, मोतिपुरा, बांकिया खाळ, गरडिया, चांदा का तालाब, मेंडी, नारायणपुरा, जैतसागर में चादर चल रही है।

बारां जिला
गोपालपुरा, उम्मेद सागर, इकलेरा सागर, बिलासडेम, लासी, बैथली, उम्मेदपुरा छलक उठे हैं।

झालावाड़ जिला
कालीसिंध बांध, भीमसागर, छापीडेम, गागरिन, पीपलाद, राजगढ़, चवली डेम, भीमनी, कालीटेह पर चादर चल रही।

 

48 घंटे में मिला पानी
इधर तलवंडी में ही एसएफएस कॉलोनी के वाशिंदों को 48 घंटों के बाद पानी मिला। क्षेत्र के सुरेन्द्र गोयल विचित्र ने बताया कि रात को करीब 10.30 बजे के बाद पानी आया। क्षेत्र में आरपीएस पंप हाउस से जलापूर्ति होती है, ऐसे में सबसे बाद ही लोगों को पानी मिलता है। गत दिनों भी लोगों को पानी के लिए काफी परेशानी उठानी पड़ी थी। शनिवार को भी बाजार से पानी खरीदकर काम चलाया।