स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

थाना प्रभारी की सक्रियता के कारण आखिरी बार पति को देख पायी पत्नी, जानिये क्या है पूरा मामला

Karunakant Chaubey

Publish: Aug 21, 2019 22:51 PM | Updated: Aug 21, 2019 22:51 PM

Kondagaon

कर्नाटक में काम करने गए युवक की मृत्यु के बाद थाना प्रभारी की सक्रियता के कारण उसे शव को केशकाल लाया जा सका

कोंडागांव. मानवता की मिसाल पेश करते हुए केशकाल के थाना प्रभारी ने एक गरीब परिवार का अंतिम इच्छा पूरी की । गरीब परिवार का मुखिया कर्नाटक के एक बोर कंपनी में काम करने गया था। जहां पर करंट की चपेट में आने से उसकी मौत हो गई थी।

शादी में मिले तो हो गया प्यार, बनाया शारीरिक सम्बन्ध और जब युवती गर्भवती हो गयी तो...

पीड़ित परिवार के गुहार लगाने पर थाना प्रभारी ने तत्काल कर्नाटक के पुलिस से संपर्क कर कम्पनी के मालिक से बात कि और शव को केशकाल भिजवाने का निवेदन किया। मालिक ने भी तत्काल शव को हवाई जहाज से रायपुर भिजवा दिया और बुधवार दोपहर शव को केशकाल लाया गया और परिजनों को सौंप दिया ।

इकलौता कमाने वाला था मृतक

नगर पंचायत केशकाल डिहिपारा निवासी राजबती जुर्री को सोमवार सुबह कर्नाटक से कॉल आया कि बोर में काम करने जाते समय बोरगाड़ी बिजली तार की चपेट में आने से सुरेश जुर्री का मौत गया । जैसे ही परिवार वालों को मौत की खबर मिली। वो रोने बिखलने लगे क्योंकि सुरेश जुर्री के परिवार मे बुजुर्ग मां-बाप के अलावा पत्नी और चार बच्चे हैं।

पूरे परिवार का भार उसी के ऊपर था। काम की तलाश में शहर से बाहर कर्नाटक गया हुआ था और पिछले 9 माह से घर भी लौट कर नहीं आया था। पत्नी ने पति को अंतिम बार देखने थाना प्रभारी से गुहार लगाई ।

जहां के इलाकों में सूरज की रोशनी भी नहीं पहुंचती, वहां के बच्चे जापान ओलंपिक में दिखाएंगे मलखंभ का जलवा

 

थाना प्रभारी की सक्रियता के कारण आखिरी बार पति को देख पायी पत्नी, जानिये क्या है पूरा मामला

मौत की खबर सुनते ही पूरा परिवार शोक में डूब गया। गरीबी के कारण वो कर्नाटक नहीं जा सकते थे। ऐसे में कम्पनी का मालिक उसका अंतिम संस्कार वहीं करने वाला था। मृतक की पत्नी अपने पति को आखिरी बार देखना चाहती थी। उसने पूरी बात थाना प्रभारी आलक्ष्मी को बताई और उनसे मदद की गुहार लगाई। थाना प्रभारी ने मामले को गंभीरता से लेते हुए तत्काल कर्नाटक के पाण्डवपुरा जिला मण्डया के थाना प्रभारी से संपर्क किया और उनके माध्यम से कंपनी के मालिक से बात की ।

दुकानों में अब बड़ा डिस्प्ले बोर्ड लगाना पड़ेगा महंगा, निगम ने किया ये बड़ा फैसला

मालिक ने प्लेन भेजा शव

थाना प्रभारी ने कम्पनी के मालिक को मृतक के परिवार की स्थिति बताते हुए उसकी पत्नी द्वारा उसे आखिरी बार देखने के अनुरोध को भी बताया। मालिक शव को प्लेन से भेजने के लिए राजी हो गया। थाना प्रभारी ने सभी जरुरी दस्तावेज तैयार कर तैयार कर कर्नाटक के पाण्डवपुरा थाने को भेज दिया।

जिसके बाद मालिक ने सुरेश कुमार के शव को कर्नाटक से हवाई जहाज रायपुर के लिए रवाना कर दिया। बुधवारसुबह को शव को केशकाल लाया गया। थाना प्रभारी के द्वारा त्वरित कार्यवाही के कारण गरीब परिवार कि इच्छा पूरी हुई।