स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

जंगली भैंसे ने कपास तोड़ रहे किसान पर हमला कर बाहर निकाल दी पेट की अतडिय़ां

Tarunendra Singh Chauhan

Publish: Dec 13, 2019 02:32 AM | Updated: Dec 13, 2019 02:32 AM

Khandwa

गंभीर हालत में जिला अस्पताल में भर्ती

बुरहानपुर. शाहपुर वन परिक्षेत्र के ग्राम चौंड़ी में जंगली भैंसे ने खेत में काम कर रहे किसान पर हमला कर दिया। किसान का पेट फटने से अतडिय़ां बाहर आ गईं, जिसे गंभीर हालत में जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। जंगली भैंसा पांच दिन पहले गांव में एक गड्ढे में गिरकर फंस गया था, जिसे वन विभाग की सहायता से बाहर निकाला गया था, उसी ने किसान पर हमला कर दिया।
किसान वसराम पिता मारू चौहान (35) गुरुवार को अपने खेत में मजदूरों के साथ कपास तोडऩे के लिए गया था। किसान का खेत जंगल से लगा होने के कारण सुबह 11 बजे जंगली भैंसा खेत में पहुंच गया और किसान पर हमला कर दिया। यह देख अन्य मजदूर घबरा गए। किसान के पेट पर गंभीर घाव लगने से उसकी अंंतडिय़ां तक बाहर आ गईं। मजदूरों की मदद से किसान को गंभीर हालत में उपचार के लिए जिला अस्पताल पहुंचाया गया। इमरजेंसी ड्यूटी पर मौजूद डॉ. दर्पण टोके ने किसान का उपचार किया। परिजन करण चौहान ने कहा कि ग्राम चौंड़ी जंगल से लगा होने के कारण जंगली जानवर पहुंचते हैं। जंगली भैंसे के खेत में पहुंचने की जानकारी वन विभाग के अधिकारियों को भी दी गई है।
5 दिन पहले नदी किनारे गड्ढे में गिरे जंगली भैंसे को ग्रामीणों ने था निकाला
पांच दिन पहले जंगल की ओर भागते समय भैंसा नदी किनारे गड्ढे में गिर गया था। भैंसा के गड्ढे में होने की खबर मिलते ही ग्रामीणों की भीड़ लग गई। वन विभाग शाहपुर का अमला ग्राम चौंड़ी पहुंचकर भैंसे को बाहर निकाला और जंगल में छोड़ दिया गया। किसान पर हुए हमले के बाद खेतों में काम करने वाले किसानों और मजदूरों में भय बना हुआ है। ग्रामीणों ने कहा कि एक भैंसा और नजर आया है अब यह कहना मुश्किल है कि बाद में दिखे भैंसे ने हमला किया या फिर जिसे गड्ढे से निकाला गया उस भैंसे ने मारा।

[MORE_ADVERTISE1]