स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

निगरानी बदमाश की चाकु ओं से गोदकर हत्या, खून से लथपथ शव नहर में फेंका

Jitendra Tiwari

Publish: Sep 18, 2019 07:02 AM | Updated: Sep 18, 2019 00:10 AM

Khandwa

बड़वाह थाना के निगरानी बदमाश की चाकुओं से गोदकर हत्या कर दी गई। शव को मोरटक्का स्थित एक्वाडक्ट पुल के नीचे नहर में फेंक दिया।

खंडवा. बड़वाह थाना के निगरानी बदमाश की चाकुओं से गोदकर हत्या कर दी गई। शव को मोरटक्का स्थित एक्वाडक्ट पुल के नीचे नहर में फेंक दिया। मंगलवार सुबह नहर में शव देख लोगों ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने शव को बाहर निकलवाया। मृतक के शरीर पर चाकू के दस घाव लगे थे। उसकी पहचान राहुल उर्फ दगडू पिता भवानीराम (26) निवासी दशहरा मैदान बड़वाह के रूप में हुई। सूचना पर मौके पर पहुंचे परिजन ने पुलिस को बताया कि सोमवार रात 11 बजे राहुल घर पर ही था। उसका दोस्त विजय यादव आया और अपने साथ ले गया। इसके बाद राहुल रातभर घर नहीं लौटा। सुबह उसका शव नहर में पड़ा होने की सूचना मिली। पुलिस ने पंचनामा बनाकर शव अस्पताल भेजा, जहां पोस्टमार्टम करा परिजन को सौंप दिया। मांधाता पुलिस ने अज्ञात आरोपियों के खिलाफ हत्या का प्रकरण दर्ज किया है।

घटनास्थल पर मिले खून के धब्बे
मांधाता पुलिस ने घटनास्थल का जायजा लिया, जहां खून के धब्बे मिले। मृतक की गर्दन, पेट, सीने, पीठ सहित अन्य हिस्सों पर चाकू के दस घाव मिले हैं। सूचना पर एफएसएल अधिकारी ने मौके पर पहुंच वारदात से जुड़े साक्ष्य जुटाए। वारदात देख अंदाजा लगाया जा रहा है कि नशे में होने के दौरान युवकों के बीच विवाद हुआ। इसमें हत्या को अंजाम दिया गया।

कै मरे में विवाद कैद, दोस्त फरार

वारदात की जांच के दौरान पुलिस ने मिडवे होटल और पेट्रोप पंप के सीसीटीवी कै मरों के फु टेज खंगाले। इनमें मृतक राहुल और एक अन्य के बीच विवाद नजर आ रहा है। घर से राहुल को साथ लाने वाला दोस्त विजय यादव भी फरार है। पुलिस ने उसके घर व परिचितों से पूछताछ की, लेकिन किसी को भी जानकारी नहीं है। इससे पुलिस को विजय पर भी संदेह बना हुआ है।

मृतक पर 18 के स, वसूली में था फरार
पुलिस के अनुसार राहुल बड़वाह थाने का निगरानी बदमाश था। उस पर मारपीट सहित 18 प्रकरण दर्ज हैं। हाल ही में उसने अवैध वसूली को लेकर मारपीट की थी। इसमें बड़वाह थाने में प्रकरण दर्ज हुआ। इस मामले में राहुल फरार चल रहा था। संदिग्ध तीन युवकों की तलाश में टीमें अलग-अलग क्षेत्रों के लिए रवाना की है।

वर्जन

युवक की चाकुओं से गोदकर हत्या की गई है। बड़वाह थाने का निगरानी बदमाश हाने वह अवैध वसूली मामले में फरार चल रहा था। हत्या का प्रकरण दर्ज किया है। मृतक का दोस्त फरार है। उसके सामने आने पर वारदात की कहानी पता चलेगी। जांच के दौरान मिले साक्ष्यों के आधार पर संदिग्धों की तलाश की जा रही है। जल्द आरोपी पुलिस गिरफ्त में होंगे।
जगदीश पाटीदार, टीआई, मांधाता