स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

15 अगस्त को भी नहीं मिल पाएगी प्रदेश की पहली इ-लाइब्रेरी की सौगात

Amit Jaiswal

Publish: Aug 12, 2019 21:26 PM | Updated: Aug 12, 2019 21:26 PM

Khandwa

दावे नहीं पूरे...पौने एक करोड़ रुपए की स्वीकृति के बाद भी निर्माण में बहुत ज्यादा पिछड़े, उत्कृष्ट स्कूल परिसर में जिम्नेजियम व ग्रंथालय के बीच हो रहा है निर्माण।

खंडवा. प्रदेश में शिक्षा विभाग की पहली इ-लाइब्रेरी खंडवा में बनाए जाने के दावे तीन साल बाद भी अधूरे ही हैं। इस बार 15 अगस्त की उम्मीद थी लेकिन अब-भी निर्माण अधूरा ही है। ये सौगात नहीं मिल पाएगी।

शहर के उत्कृष्ट स्कूल कैंपस में जिम्नेजियम और ग्रंथालय के बीच इ-लाइब्रेरी बिल्डिंग का निर्माण हो रहा है। इसके निर्माण की अवधि का समय बढ़ाए जाने के बावजूद काम पूरा नहीं हुआ है। जबकि इस लाइब्रेरी के पूरा होने से विद्यार्थियों को बड़े फायदे होंगे।

2016 में की गई थी घोषणा
इ-लाइब्रेरी के लिए वर्ष 2016 में तत्कालीन शिक्षा मंत्री विजय शाह ने घोषणा की थी। तब उन्होंने कहा था कि विद्यार्थियों, शिक्षकों और आमजन के लिए ऑनलाइन किताबें उपलब्ध कराने के उद्देश्य से इ-लाइब्रेरी बनाएंगे। जो कि प्रदेश में शिक्षा विभाग की पहली इ-लाइब्रेरी होगी। इसमें विद्यार्थियों को 75 फीसदी तक डिस्काउंट देंगे।

15 अगस्त के लिए बढ़ाया था समय
इ-लाइब्रेरी का काम करीब छह महीने पहले ही पूरा हो जाना चाहिए था लेकिन ऐसा नहीं हो सका। अब एक बार फिर शिक्षा विभाग की तरफ से निर्माण एजेंसी पीआइयू के कांट्रेक्टर को काम में गति लाने के लिए लिखा है। साथ ही समय पर काम पूरा करने के लिए कहा है ताकि एक अच्छी योजना का लाभ विद्यार्थियों को मिल सके।
मॉनिटरिंग का अभाव बड़ी वजह
इ-लाइब्रेरी के भवन में देरी के पीछे सबसे बड़ी वजह मॉनिटरिंग का अभाव माना जा रहा है। जिले के शिक्षा अमले ने इस तरफ अगर सही तरीके से ध्यान दिया होता तो अब तक निर्माण पूरा हो जाता लेकिन ऐसा हो न सका। यहां ये बता दें कि पीआइयू के माध्यम से ठेका जिस कांट्रेक्टर के पास है, उसके जिम्मे ही मेडिकल कॉलेज के विस्तार के तहत अस्पताल में हो रहे निर्माण कार्य को पूरा करने में भी वो पिछड़ा है और अब कलेक्टर द्वारा फटकारे जाने के बाद उस तरफ ध्यान दिया जा रहा है, जिस कारण इ-लाइब्रेरी का काम पिछड़ा है।

- हमने तेजी लाने के लिए लिखाइ-लाइब्रेरी के संबंध में उम्मीद थी कि 15 अगस्त तक काम पूरा होगा लेकिन अभी फिनिशिंग शेष है। निर्माण कार्य में तेजी लाए जाने के लिए लिखा है।
जेएल रघुवंशी, डीइओ, खंडवा