स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

अधिवक्ता के घर डांका डालने वाला डकैत तीन साल बाद इंदौर से गिरफ्तार

Jitendra Tiwari

Publish: Dec 13, 2019 12:24 PM | Updated: Dec 13, 2019 12:24 PM

Khandwa

अधिवक्ता के घर डकैती का तीन साल से फरार इनामी डकैत इंदौर से गिरफ्तार

घासपुरा स्थित अधिवक्ता फिदबी के परिवार को बंधक बनाकर की थी वारदात

खंडवा. अधिवक्ता फिदबी के घर डकैती की वारदात में तीन साल से फरार इनामी डकैत को कोतवाली पुलिस ने गुरुवार को इंदौर से धरदबोचा। आरोपी वारदात के बाद से ही फरार चल रहा था। इसकी पुलिस लगातार तलाश कर रही थी। वहीं न्यायालय ने स्थाई गिरफ्तारी वारंट जारी किया था। बुधवार रात पुलिस को मुखबिर से आरोपी शकील पिता जुम्मा (32) निवासी सलूजा कॉलोनी घासपुरा के इंदौर में होने की सूचना मिली। जानकारी मिलते ही पुलिस ने आरोपी शकील की लोकेशन खंगाली और कार्रवाई के लिए टीम रवाना की। इसमें एएसआइ जितेन्द्र सिंह चौहान, आरक्षक रफीक और अमर प्रजापत ने गुरुवार को इंदौर में घेराबंदी कर आरोपी को पकड़ा और खंडवा लेकर आए। आरोपी को पुलिस ने न्यायालय में पेश किया, जहां से उसे जेल भेज दिया। उल्लेखनीय है कि 7 अगस्त 2016 की रात अधिवक्ता गनीभाई फिदवी निवासी घासपुरा के घर में डाका पड़ा था। आरोपियों ने परिवार से मारपीट कर बंधक बनाया और लूटपाट की थी।

आठ को हुई सजा, दो आरोपी है फरार
वारदात सामने आते ही पुलिस ने 11 आरोपियों के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया था। इसमें कार्रवाई करते हुए आठ आरोपियों को गिरफ्तार किया था। प्रकरण में न्यायालय ने सुनवाई करते हुए 14 फरवरी को आठ डकैतों को सात-सात वर्ष की सजा सुनाई। वारदात के बाद से आरोपी विष्णु पिता गंगाराम शिंदे निवासी वरफल जिला जालना (महाराष्ट्र) और सद्दाम पिता सइद खान निवासी घासपुरा, शकील पिता जुम्मा फरार थे। इन आरोपियों पर वर्ष 2017 में तत्कालीन एसपी नवनीत भसीन ने पांच-पांच हजार रुपए का इनाम घोषित किया। इसी बीच पुलिस ने शकील को गिरफ्तार कर लिया। फरार दो अन्य आरोपियों की तलाश जारी है।

[MORE_ADVERTISE1]

बीएमडी मशीन से जांची 153 लोगों में कैल्शियम की मात्रा

खंडवा. ऑस्टियोपोरोसिस हड्डियों के दर्द से संबंधित जांच शिविर का आयोजन गुरुवार को पुलिस लाइन में किया गया। शिविर में 153 महिला व पुरुष मरीजों की जांच की गई। डॉक्टर्स की टीम ने बीएमडी मशीन के जरिये महिला और पुरुष की हड्डियों में कैल्शियम की मात्रा को जांचा। कैल्शियम कम मिलने पर उक्त मरीजों को परामर्श दिया गया। इस दौरान डॉ पर्व तिवारी और उनकी टीम विनोद जायसवाल, संतोष धनगर, मनोज साध, योगेंद्र कुशवाह, किशन वर्मा द्वारा परीक्षण किया गया।

फुटकर में 70 रुपए किग्रा बिकी प्याज

खंडवा. प्याज की बढ़ती कीमतों के चलते खाने का स्वाद फीका हो गया है। कीमतें देख बाजार में प्याज की खरीदी कम हुई है। दुकानदार आशीष कुमार ने बताया गुरुवार को बाजार में फुटकर प्याज 40 से 70 रुपए किग्रा बिकी। इसमें सड़ी-गली प्याज 40 रुपए किग्रा बेची गई। वहीं दो हजार से 2400 रुपए मन और पांच से छह हजार रुपए क्विंटल प्याज की बिक्री बाजार में हो रही है।

[MORE_ADVERTISE2]