स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

online shopping - ग्राहक को नुकसान, जो माल दिखाया वो नहीं भेजा

deepak deewan

Publish: Oct 17, 2019 16:54 PM | Updated: Oct 17, 2019 16:54 PM

Khandwa

ग्राहक को नुकसान

सेंधवा. त्योहारों के सीजन में व्यापारी ग्राहकों का इंतजार कर रहे हैं। अपनी दुकानों पर लाखों रुपए का माल स्टॉक करने के बाद भी ग्राहक नहीं आने से हम हताश हैं। ऑनलाइन शॉपिंग के कारण रिटेल व्यापार लगभग ठप हो चुका है और अब सरकार की नीति के कारण कई व्यापारी आर्थिक संकट से जूझ रहे हैं। ये कहना नगर के व्यापार से जुड़े हुए व्यापारियों का। मंगलवार रात को व्यापारियों ने एकत्र होकर बैठक का आयोजन किया। इसमें उन्होंने ऑनलाइन शॉपिंग का पूर जोर विरोध करते हुए इसे तत्काल बंद करने की मांग की।
व्यापारियों को हो रहा लाखों का नुकसान
मंगलवार रात महाराष्ट्र मंदिर परिसर में हुई बैठक के दौरान व्यापारियों ने अपनी नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि जब से ऑनलाइन शॉपिंग का चलन बढ़ा है, तब से रिटेल काउंटर पर बिक्री नहीं होने की समस्या खड़ी हो गई है। अब ग्राहक ऑनलाइन शॉपिंग को तवज्जो दे

जिससे वे संकट से जूझ रहे हैं। बैठक में मोबाइल, इलेक्ट्रॉनिक, फर्नीचर, किराना, कम्प्यूटर, हार्डवेयर, मेडिकल, फुटवियर, कपड़ा, सहित कई व्यापारी शामिल हुए।
बैठक में व्यापारियों ने ये तय किया है कि वह अपने-अपने दुकानों पर पोस्टर बैनर लगाकर ऑनलाइन शॉपिंग का विरोध करेंगे। ग्राहकों को भी समझाएंगे कि ऑनलाइन शॉपिंग के क्या नुकसान है। व्यापारियों ने कहा कि जो माल दिखाया जाता है वो नहीं भेजा जाता है।
इसके अतिरिक्त तहसील स्तर सहित जिला स्तर पर आगामी समय में बैठक का आयोजन कर व्यापारियों को एकत्र किया जाएगा और ऑनलाइन शॉपिंग का विरोध करने के लिए रणनीति बनाई जाएगी। व्यापारियों ने एकमत होकर केंद्र सरकार की उस नीति का विरोध किया है, जिसमें ऑनलाइन शॉपिंग को बढ़ावा दिया जा रहा है। कई व्यापारियों ने अपनी दुकानों पर बैनर पोस्टर लगाकर विरोध शुरू भी कर दिया है। व्यापारियों ने बताया कि आगामी समय ज्ञापन देकर विरोध जताया जाएगा। बैठक के दौरान दामोदर गुप्ता, परेश सेठिया, सचिन मंडोरा, सुशील चोमू वाला, केसी जैन, संतोष जैन, प्रवीण झंवर, मोहसिन शेख मौजूद थे।