स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

अस्थायी डेम बनाया तब खाली हुआ पानी, पाइपलाइन जोड़ी पर आज भी होगी परेशानी

Amit Jaiswal

Publish: Nov 12, 2019 13:34 PM | Updated: Nov 12, 2019 13:34 PM

Khandwa

नर्मदा जल योजना...23 घंटे में जुड़ पाई आशापुर के पास फूटी पाइपलाइन, नाले का पानी बना रहा रोड़ा, चारखेड़ा से खंडवा तक लाइन भरने में लगेगा समय, दोपहर बाद ही मिलेगा नर्मदा जल।

खंडवा. शहर में पेयजल समस्या खत्म होने का नाम नहीं ले रही है। भरपूर बारिश के बाद भी लोगों को पेयजल आसानी से नहीं मिल पा रहा है।

मंगलवार को भी शहरवासियों को नर्मदा जल दोपहर बाद ही मिल पाएगा, क्योंकि आशापुर के पास फूटी पाइपलाइन को जोडऩे में 23 घंटे से ज्यादा का समय लग गया। शाम 4 बजे पाइपलाइन जुडऩे के एक घंटे बाद चारखेड़ा स्थित वाटर ट्रीटमेंट प्लांट के पंप चालू किए गए। अब चारखेड़ा से खंडवा तक की पाइपलाइन को भरने में समय लगेगा। क्योंकि रास्ते में कई जगह लीकेज होने के कारण ये ज्यादा खाली हो गई है। ऐसे में मंगलवार दिन में नर्मदा जल सप्लाई होने की संभावनाएं कम हैं। शाम 5 बजे के बाद ही सप्लाई की स्थिति बनेगी।

नाले में फूटी थी लाइन, खाली करने में लगा वक्त
आशापुर में रविवार शाम करीब 4.45 बजे पाइपलाइन फूटी थी। इसके बाद विश्वा कंपनी का अमला अलर्ट हुआ लेकिन पाइपलाइन जोडऩे में परेशानी इसलिए आई, क्योंकि यहां नाला होने के कारण पानी खाली करना मुश्किल हो गया। पीछे से आ रहे पानी को रोकने के लिए अस्थायी डेम बनाया।

कांक्रीट तोड़ा फिर मिला रास्ता
नाले व पाइपलाइन में भरा पानी खाली नहीं हो रहा था और इसके बगैर लाइन जोडऩा मुश्किल था, ऐसे में पाइपलाइन के दूसरे स्थान का कांक्रीट तोड़ा गया, जिसके बाद वहां से लाइन खाली हुई और फिर इसे जोड़ पाए। रात में फिर से कांक्रीटीकरण किया गया।

सुक्ता, नागचून से संभाल रहे व्यवस्था
शहर में पेयजल व्यवस्था बिगड़ी हुई है। निगम के जिम्मेदार फिलहाल नागचून, सुक्ता व ट्यूबवेल से व्यवस्था संभाल रहे हैं। सोमवार को सिटी सप्लाई में सुक्ता ने बड़ी भूमिका निभाई लेकिन मंगलवार को आनंदनगर, किशोरनगर, सिंधी कॉलोनी व अन्य क्षेत्रों में लोग परेशान होंगे।

डिस्ट्रीब्यूशन लाइन की कनेक्टिविटी पर टला मंथन
शहर में तीन अलग-अलग कंपनियों डाली गई डिस्ट्रीब्यूशन लाइन की कनेक्टिविटी पर सोमवार को होने वाला मंथन टल गया। विश्वा कंपनी के जिम्मेदारों का आशापुर में फूटी पाइपलाइन को जोडऩे में व्यस्त रहना इसकी बड़ी वजह बना। करीब 70 स्थानों पर पाइपलाइन जोड़ी जाना है और विश्वा, इपीसी तथा एनआरइपीसी के बीच ये काम अटका है। अब बताया जा रहा है कि बुधवार सुबह 11 बजे से महापौर, एमआईसी सदस्य और निगम अफसर-इंजीनियरों की मौजूदगी में रणनीति बनेगी, जिसमें तीनों कंपनी के जिम्मेदार भी मौजूद रहेंगे। मंथन कर निर्णय लिया जाएगा।

- जोड़ दी गई है पाइपलाइन
पाइपलाइन को जोड़ दिया गया है। चारखेड़ा से पंप भी चालू कर दिए गए हैं। मंगलवार को दोपहर बाद सप्लाई सुचारू करने का प्रयास करेंगे।
हिमांशु सिंह, आयुक्त, ननि

[MORE_ADVERTISE1]