स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

Disclosure : करंट से हुई थी मामा-भांजे की मौत, आरोपी किसान ने कुएं में डाले थे शव

Tarunendra Singh Chauhan

Publish: Sep 20, 2019 18:38 PM | Updated: Sep 20, 2019 18:38 PM

Khandwa

जंगली जानवरों को मारने के लिए किसान ने खेत में फैलाए थे करंट के तार
निंबोला पुलिस ने किया खुलासा

बुरहानपुर. निंबोला थाना क्षेत्र के वनग्राम उतांबी में 15 सितंबर को गहरे कुएं well में मामा- भांजे के शव मिलने के बाद पुलिस ने गुरुवार को मामले का खुलासा किया। आरोपियों ने खेत में जंगली जानवरों को मारने के लिए बिजली के तार बिछाए थे, जिसकी चपेट में आने से मामा, भांजे की मौत हो गई। बाद शव को कुएं में फेंक दिया गया था। पीएम रिपोर्ट के बाद पुलिस ने मामले की जांच कर दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

निंबोला थाना प्रभारी जगदीश सिंथिया ने बताया कि रविवार को धूलकोट क्षेत्र के वनग्राम उतांबी सखाराम पिता वेचान और मामा मोजीलाल पिता खजान के शव कुएं में मिले थे। एफएसएल टीम ने मौके पर जांच की थी। परिजनों द्वारा दोनों को करंट लगने की बात कही जा रही थी। घटना स्थल पर मृतकों के चप्पल भी नहीं मिले थे। शव को पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेजा गया था। जहां पोस्टमार्टम रिपोर्ट में दोनों की मौत करंट से होना बताया गया। पुलिस ने मामले की जांच करते हुए आरोपी कैलाश पिता जैतराम (51), अजय पिता कैलाश (24) को गिरफ्तार किया है। पूछताछ करने पर आरोपियों ने अपना जुर्म स्वीकार किया। आरोपियों ने बताया कि खेत में लगाई गई फसलों को जानवर नुकसान पहुंचा रहे थे। रात्रि के समय जानवारों को मारने के लिए बिजली के तार बिछाए थे। सुबह देखने पर खेत में दो शव पड़े मिले। आरोपी ने बेटे के साथ मिलकर दोनों शवों को कुएं में फेंकना स्वीकार किया।

थाना प्रभारी ने बताया कि आरोपियों ने दोनों की चप्पलों को खेत में ही छुपाकर रखाथा। कुएं में दोनों शव मिलने के बाद आरोपी भी ग्रामीणों की भीड़ में शामिल होकर पुलिस की कार्रवाई को देख रहे थे। मामले का खुलासा होने के बाद आरोपियों के पास से खेत में बिछाए गए बिजली के तार, मृतकों की चप्पलों को भी जब्त किया गया है। आरोपियों के विरुद्ध हत्या का मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी गई है।