स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

समय पर नहीं निकल पाई सद्भावना दौड़, लोग भी ज्यादा नहीं जुट पाए

Riyaz Sagar

Publish: Aug 21, 2019 17:27 PM | Updated: Aug 21, 2019 17:27 PM

Khandwa

पहले करते रहे इंतजार, जब दौड़ शुरू होने लगी तब आई कलेक्टर, फिर किया रवाना
कांग्रेस के भी ज्यादा लोग नहीं जुट पाए, प्रथम, द्वितीय और तृतीय को किया पुरस्कृत

खंडवा. देश के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के जन्मदिन को मंगलवार को सद्भावना दिवस के रूप में मनाया गया। जिला मुख्यालय पर सद्भावना दौड़ आयोजित की गई लेकिन ये रस्म अदायगी बनकर रह गई। न तो ये समय पर शुरू हो पाई और न ज्यादा लोग जुटे। पहले कलेक्टर का इंतजार होता रहा, जब दौड़ शुरू होने लगी तब वे यहां आईं। फिर रवाना किया गया।
मांधाता विधायक नारायण पटेल व कलेक्टर तन्वी सुन्द्रियाल ने नगर निगम चौराहे से हरी झंडी दिखाकर सद्भावना दौड़ को रवाना किया। नगर निगम कार्यालय परिसर से यह दौड़ शुरू हुई। जलेबी चौक, बजरंग चौक, सिटी कोतवाली से रेल्वे स्टेशन के सामने से होते हुए बॉम्बे बाजार से वापस नगर निगम प्रांगण में सम्पन्न हुई। दौड़ में शा. कॉलेज, पॉलीटेक्निक कॉलेज व आईटीआई के विद्यार्थी, एनसीसी कैडेट्स तथा एनएसएस के छात्र शामिल हुए। कांग्रेस शहर अध्यक्ष इंदलसिंह पंवार, जिला पंचायत सीइओ रोशन कुमार सिंह, डीइओ जेएल रघुवंशी, उत्कृष्ट स्कूल प्राचार्य आरके सेन, नेहरू स्कूल प्राचार्य संजीव मंडलोई मौजूद थे। कांग्रेसियों की कम उपस्थिति चर्चा का विषय रही। संचालन संदीप जोशी ने किया। कार्यक्रम के बाद एमएलबी स्कूल में पौधरोपण भी किया गया।
विजेताओं को
पुरस्कृत किया
बालक वर्ग: प्रथम सिम्कू तडोले एसएन कॉलेज, द्वितीय राजू डाबर व तृतीय पप्पू मुजाल्दे एसएन कॉलेज।
बालिका वर्ग: प्रथम स्वाति पवार, द्वितीय समिता पटेल व तृतीय प्रियल पालीवाल।
ओपन वर्ग: प्रथम दीपक गौर, द्वितीय सुमित चौरे, तृतीय विश्वास वानखेड़े।

जनप्रतिनिधि, अफसर व अन्य दौड़ में पैदल ही चले। कलेक्टर अपनी बेटी पंखुड़ी को कंधे पर लेकर रास्ते में चलती रहीं।
Riyaz sagar IMAGE CREDIT: Riyaz sagar