स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

खंडवा कृषि उपज मंडी में कपास की बंपर आवक, दो दिन में 520 वाहन आए

Riyaz Sagar

Publish: Jan 29, 2020 12:24 PM | Updated: Jan 29, 2020 12:24 PM

Khandwa

खंडवा के अलावा पड़ोसी जिले खरगोन के भीकनगांव तहसील के किसान भी कपास बेचने खंडवा पहुंचे है

खंडवा.कृषि उपज मंडी में पिछले कुछ दिनों से कपास की बंपर आवक हो रही है। खंडवा के अलावा पड़ोसी जिले खरगोन के भीकनगांव तहसील के किसान भी कपास बेचने खंडवा पहुंचे है । दो दिन में 520 वाहन कपास की आवक हुई। वहीं कपास के भाव किसानों की उम्मीदों के अनुरूप नहीं मिल रहे। कम भाव मिलने से किसानों के चेहरे पर खुशी की बजाय मायूसी नजर आ रही।
पिछले दो माह से कपास की आवक हो रही। व्यापारियों के अलावा भारतीय कपास निगम लिमिटेड (सीसीआई) भी कपास खरीद रहा है। जिसमें पहले रोजाना 100 से 150 वाहन ही कपास मंडी पहुंच रहा था। एक सप्ताह में 200 से ज्यादा वाहन कपास की आवक हुई। साथ ही इस सीजन का सबसे ज्यादा कपास की आवक सोमवार को मंडी में हुई। 302 वाहन और 5 बैलगाड़ी भरकर कपास आया था। दूसरे दिन भी 218 वाहन और 9 बैलगाड़ी भरकर 3408 क्विंटल कपास आया।
मंडी में किसानों को उनकी उम्मीदों के अनुरूप कपास के भाव नहीं मिल रहा है। पिछले वर्ष 6500 रुपए प्रति क्विंटल तक कपास बिका था। इस वर्ष कपास के सरकारी भाव ही 5550 रुपए निर्धारित है। साथ ही अधिक बारिश से भी कपास की फसल को भारी नुकसान पहुंचा है। मंडी प्रभारी एचएस सोलंकी ने बताया पिछले एक सप्ताह से कपास की आवक बढ़ गई है। जिसमें से दो दिन में सबसे ज्यादा आवक हुई। जिसमें भीकनगांव के कई किसान भी कपास बेचने खंडवा मंडी आए। उन्होंने बताया भीकनगांव में पिछले तीन दिन से मंडी बंद है।

[MORE_ADVERTISE1]