स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

किसान ने घर में उगाई 5 फीट की लौकी, बनी आकर्षण का केंद्र

Manish Arora

Publish: Dec 09, 2019 12:41 PM | Updated: Dec 09, 2019 12:41 PM

Khandwa

-लौकी के बीज तैयार कर सब्जी की खेती करने की तैयारी
-जैविक पद्धति से अन्य फलों और सब्जियों के भी कर रहा बीज तैयार

खंडवा. समीपस्थ ग्राम सिलोदा में एक किसान के घर बेल में लगी 5 फीट की लौकी लोगों के लिए कौतुहल का विषय बनी हुई है। 20 दिन की इस लौकी का वजन करीब ढाई किलो है और लगातार बढ़ता जा रहा है। किसान अब इस लौकी के बीज तैयार कर खेत में सब्जी की खेती करने की तैयारी में है। जैविक पद्धति से किसान ने लौकी के साथ अन्य सब्जियां और फल भी लगा रखे है। जिनके भी बीज तैयार किए जा रहे है।
ग्राम सिलोदा निवासी किसान वासुदेव पटेल ने प्रयोग के तौर पर घर में कुछ सब्जियों की बेल, नीबू, पपीते के पेड़ लगा रखे है। बीस दिन पहले लौकी की बेल पर लौकी लगना आरंभ हुई। जिसमें से एक लौकी की लंबाई लगातार बढ़ती गई और 20 दिन में लौकी की लंबाई करीब 5 फीट हो गई। किसान ने बेल में लगी अन्य लौकी तो तोड़ ली, लेकिन लंबाई बढऩे वाली लौकी को नहीं तोड़ा। किसान वासुदेव ने बताया कि उसने लौकी में किसी प्रकार का उर्वरक खाद या दवाई नहीं डाली। जैविक पद्धति से गोबर, गोमुत्र और छांछ लौकी बेल की जड़ों में दिया। जिसका परिणाम अच्छा रहा। अब घर में लगाई गिलकी, तुरई, नीबू में भी ये ही प्रयोग कर रहे हैं।
बनाएंगे लौकी के बीज
किसान वासुदेव ने बताया कि लंबाई में बढ़ी लौकी के वे अब बीज तैयार करेंगे। इन बीजों से वे खेत में लौकी की खेती करेंगे। खेत में भी जैविक पद्धति ही अपनाएंगे। यदि इस तरह की सभी लौकी वहां भी तैयार होती है तो उनके भी बीज तैयार किए जाएंगे। जिससे इनकी अन्य जगह पर भी खेती की जा सके। इसी तरह का प्रयोग वे अपने घर लौकी देखने आ रहे अन्य किसानों को भी करने की सलाह दे रहे है।

[MORE_ADVERTISE1]