स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

90 रुपए के एक्स-रे के लिए प्राइवेट अस्पताल में देने पड़ रहे 450 रुपए

Riyaz Sagar

Publish: Dec 13, 2019 13:43 PM | Updated: Dec 13, 2019 13:43 PM

Khandwa

जिला अस्पताल में नहीं दे रहे फिल्म, टेक्निशियन मोबाइल पर दे रहे रिपोर्ट

 

खंडवा. जिला अस्पताल में एक्स-रे मात्र 90 रुपए में किया जाता है। इसके बाद भी मरीजों को प्राइवेट अस्पतालों में जाकर कई गुना Óयादा कीमत चुकाकर एक्स-रे कराना पड़ रहा है। जिला अस्पताल में एक्सरे फिल्म नहीं दिए जाने के कारण मरीज बाहर जाने के लिए मजबूर हो रहे हैं।
आमजन को मुफ्त या बेहद कम कीमत में स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया कराने के लिए सरकार करोड़ों रुपए खर्च जरूर कर रही है पर जिम्मेदारों की अनदेखी के कारण मरीजों को इनका लाभ ही नहीं मिल पा रहा। जिले के सबसे बड़ी सरकारी अस्पताल में भी कुछ ऐसा ही चल रहा है। यहां मरीजों के एक्सरे किए जाने की सुविधा तो है पर Óयादातर मरीज इसका समुचित लाभ नहीं ले पा रहे। अस्पताल में मरीजों का एक्स-रे किया जाता है पर उन्हें एक्स-रे फिल्म नहीं दी जा रही है।
जिला अस्पताल में एक्सरे के लिए स्पेशलिस्ट रेडियोग्राफर नहीं है। हालांकि इसके बावजूद अस्पताल में एक्सरे तो किए जा रहे हैं पर इस सुविधा में बड़ी कमी है। एक्स-रे करने के बाद विभाग के टेक्निशियन रिपोर्ट सीधे डाक्टर को भेज देते हैं जबकि नियमानुसार बाकायदा एक्सरे फिल्म के साथ रिपोर्ट मरीज को देनी चाहिए।
फिल्म नहीं दिए जाने से ये हो रही परेशानी
एक्सरे फिल्म में आमजन भी अपनी टूटी हुई हड्डियों या अन्य समस्याओं को खुद देख सकता है। फिल्म नहीं दिए जाने से वह इस बड़ी सुविधा से वंचित हो जाता है।
एक्सरे फिल्म नहीं देकर सीधे डॉक्टर को रिपोर्ट भेजने से मरीज को उसकी दिक्कतों के बारे में मालूम ही नहीं चल पाता है।
मरीज तुरंत को इलाज कराकर चला जाता है पर दोबारा समस्या पैदा होने पर उसे फिर एक्स-रे कराना होता है।
ऐसे मरीज जब कहीं बाहर जाते हैं और उन्हें दर्द होता है या उनकी बीमारी दोबारा सताने लगती है तो उन्हें तुरंत एक्स-रे कराना होता है। एक्स-रे फिल्म के अभाव में डॉक्टर्स इलाज करने से मना कर देते हैं।
इन झंझटों से बचने के लिए मरीज प्राइवेट अस्पताल में ही एक्सरे कराने को मजबूर हो रहे हैं।
जिला अस्पताल में एक्सरे के लिए दो दरें हैं- 90 रुपए और 120 रुपए। इनकी तुलना में प्राइवेट अस्पतालों में एक्सरे कम से कम 450 रुपए में किया जाता है। जरूरतमंद मरीज को एक्सरे कराने के लिए 5 गुना अधिक राशि चुकानी पड़ रही है।
मोबाइल पर भेजे जानेवाली एक्सरे उतने साफ नहीं होते। मोबाइल की पिक्चर क्वालिटी अ'छी नहीं होने से कई बार डाक्टर्स भी गफलत में पड़ जाते हैं।

[MORE_ADVERTISE1]

फैक्ट फाइल
90 रुपए प्रति एक्स-रे जिला अस्पताल में सामान्य एक्सरे की दर
120 रुपए प्रति एक्स-रे जिला अस्पताल में छाती-पेट आदि के गंभीर केस के एक्सरे की दर
200 मरीज प्रतिदिन औसतन जिला अस्पताल में एक्स-रे कराने आते मरीज
450 रुपए प्रति एक्सरे औसतन प्राइवेट अस्पतालों में एक्स-रे की दर-
जरुरत पडऩे पर कराते हैं उपलब्ध
&हमारे यहां माह में 5 हजार से Óयादा एक्स-रे होते हैं। ऐसे में योजनाओं के अंतर्गत फ्री एक्स-रे कराने वालोंं को फिल्म नहीं दे जाती है। अस्पताल की व्यवस्थाओं को चलाने के लिए रोगी कल्याण समिति द्वारा ये चीजें निर्धारित की गई हैं। जरूरत पडऩे पर हम इन मरीजों को भी फिल्म उपलब्ध करा देते हैं।
प्रभारी एक्सरे विभाग,
जिला चिकित्सालय, खंडवा

[MORE_ADVERTISE2]