स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

जिला प्रशासन खंडवा का नवाचार पहला कदम

Manish Arora

Publish: Jan 18, 2020 12:28 PM | Updated: Jan 18, 2020 12:28 PM

Khandwa

पहला कदम की शुरुआत मास्टर ट्रेनर प्रशिक्षण से
-सीएसआर फंड से आंगनवाड़ी केंद्र होंगे सुसज्जित, कार्यकर्ता होंगे प्रशिक्षित
-डिप्टी कलेक्टर ने ली बैठक, बताई कार्यक्रम की रूपरेखा

खंडवा. जिले के पुनासा और किल्लौद ब्लॉक में पहला कदम कार्यक्रम के तहत आंगनवाडिय़ों को हाईटेक किया जाएगा। एनएचडीसी द्वारा सीएसआर फंड से इसके लिए जिला प्रशासन को राशि उपलब्ध कराई गई है। जिससे प्रशासन ने नवाचार के तहत पहला कदम कार्यक्रम की रूपरेखा बनाते हुए पुनासा और किल्लौद ब्लॉक की 319 आंगनवाडिय़ों को इसमें शामिल किया है। जिसमें आंगनवाडिय़ों में बच्चों को टेबलेट के माध्यम से शिक्षा उपलब्ध कराने, भवनों का जीर्णोद्धार करने व कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षित किया जाएगा। इसके लिए शुक्रवार को डिप्टी कलेक्टर ने बैठक लेकर कार्यक्रम की रूपरेखा बताई।
शुक्रवार को कलेक्टोरेट सभाकक्ष में हुई बैठक में डिप्टी कलेक्टर डॉ. आरती सिंह ने बताया कि सीएसआर मद से आंगनवाडिय़ों का कायाकल्प किया जाना है। वहीं, आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं की कार्य कुशलता बढ़ाने के लिए उन्हें प्रशिक्षित भी किया जाएगा। इसके पूर्व मास्टर ट्रेनर्स का प्रशिक्षण 23 जनवरी को आयोजित किया जाएगा। वहीं, आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं का 27 जनवरी को प्रशिक्षित किया जाएगा। बैठक में बलड़ी और किल्लौद विकासखंड के सेक्टर सुपर वाइजरर्स व परियोजना अधिकारी उपस्थित थे।
ये होगा पहला कदम
कलेक्टर तन्वी सुंद्रियाल ने बताया कि पुनासा व किल्लौद ब्लॉक की 319 आंगनवाडिय़ों में 11 हजार बच्चों को टेबलेट के माध्यम से पूर्व प्राथमिक नर्सरी की शिक्षा दी जाएगी। जिसमें नवाचार से जहां बच्चे अक्षरों को, आकारों को मनोरंजन के माध्यम से समझ सकेंगे। साथ ही उनका वैज्ञानिक दृष्टिकोण, कौशल विकास, भावनात्मक सामाजिक विकास भी हो सकेगा। कलेक्टर ने बताया कि सीएसआर मद से आंगनवाड़ी भवनों की मरम्मत एवं अन्य विकास कार्य भी कराए जायेंगे।

[MORE_ADVERTISE1]