स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

70 रुपए देकर बोले-जो खरीदना है खरीद लो, हम चाय पीकर आते हैं

Riyaz Sagar

Publish: Nov 10, 2019 18:42 PM | Updated: Nov 10, 2019 18:42 PM

Khandwa

खंडवा.बस स्टैंड से दस वर्षीय बालिका के अपहरण के मामले में कोतवाली पुलिस ने नीमच के माता क्षेत्र से बालिका को सुरक्षित दस्तयाब कर लिया है। अपह्रत बालिका साक्षी को लेकर पुलिस खंडवा लेकर पहुंची है। पूछताछ में बालिका ने बताया सिकंदर और रेखाबाई शुक्रवार दोपहर ***** माता के पास लेकर पहुंचे। वहां मुझे 70 रुपए दिए और बोले तुम्हें जो खरीदना हो खरीद लो, हम चाय पीकर आते है। इसके बाद वह लौट कर नहीं आए।

टीम के साथ गए बालिका के मौसा संदीप ने बताया टीम के साथ नीमच जा रहे थे। तभी इंदौर के पास शुक्रवार दोपहर करीब 1.30 बजे फोन आया और उसने साक्षी के संबंध में जानकारी दी। साक्षी से बात भी कराई। इस पर पुलिस टीम ने उक्त मोबाइल धारक से साक्षी को नजदीकी पुलिस थाने में पहुंचने की बात कही। ***** पहुंचे तो साक्षी थाने में मौजूद थी। सुरक्षित बेटी को सामने देख मां पुष्पाबाई बिलखकर रोने लगी। मामले में पुलिस ने बालिका के बयान लिए। कानूनी कार्रवाई करने के बाद बालिका को परिजन के साथ घर रवाना कर दिया गया। पुलिस ने आरोपियों के सीसीटीवी फुटेज वायरल किए थे। उक्त फुटेज आरोपियों के परिजन और रिश्तेदारों के पास पहुंचे। मामले की जानकारी मिलते ही पकड़े जाने के डर से बालिका को आरोपी छोड़कर फरार हो गए। मामले में स्थानीय पुलिस की मदद से कोतवाली पुलिस आरोपियों की तलाश कर रही है। मोबाइल लोकेशन ट्रेस की जा रही है। 7 नवंबर को बस स्टैंड से चप्पल दिलाने का झांसा देकर साक्षी (10) निवासी नवगरे पांगरी (वाशिम) का अपहरण हुआ था। बालिका की मां पुष्पा की शिकायत पर पुलिस ने सिकंदर और रेखाबाई के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया था।

[MORE_ADVERTISE1]