स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

अयोध्या पर फैसले के बाद खंडवा में इंटरनेट सेवा बंद, बुरहानपुर में 40 लोगों को हिरासत में लिया गया

Muneshwar Kumar

Publish: Nov 09, 2019 16:21 PM | Updated: Nov 09, 2019 17:23 PM

Khandwa

सुबह से ही जिले के सभी अफसर सड़क पर कर रहे हैं गश्त

खंडवा/ अयोध्या पर फैसले के बाद मध्यप्रदेश के सभी जिलों में धारा 144 लागू है। सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। सड़कों पर सन्नाटा है। पुलिस लोगों ने अपील कर रही है कि आज घरों में आराम करें। स्कूल-कॉलेज बंद हैं। साथ ही सोशल मीडिया पर पैनी नजर रखी जा रही है। अशांति फैलाने वाले लोगों की पहचान पुलिस ने पहले ही कर ली है और उनपर विशेष नजर रखी रही है।

[MORE_ADVERTISE1]

मध्यप्रदेश के खंडवा जिले में मोबाइल इंटरनेट को बंद कर दिया गया है। प्रशासन ने यह फैसला स्थानीय स्तर पर हालात को देखकर लिया है। खंडवा में धारा 144 लागू ही है। डीएम-एसपी भी शहर में लगातार गश्त कर रहे हैं। शांति समितियों की बैठक कर प्रशासन फैसले से पहले से ही कर रही है। कंट्रोल रूम से सीसीटीवी कैमरों से भी शहर के हालात पर नजर रखे जा रहे है।

[MORE_ADVERTISE2]

बुरहानपुर में हिरासत में लिए गए लोग

प्रशासन ने फैसले से पहले ही लोगों को हिदायत दी थी कि सोशल मीडिया पर कुछ भी अनर्गल पोस्ट नहीं करें, जिससे कि माहौल बिगड़े। लेकिन उसके बावजूद कुछ लोगों ने ऐसी कोशिश की। प्रशासन ऐसे लोगों पर निगाह रखी हुई थी। बुरहानपुर से 40 लोगों को पुलिस ने हिरासत में लिया है जो सोशल मीडिया पर भड़काऊ पोस्ट कर रहे थे। पुलिस शहर के संवदेनशील इलाकों में लगातार गश्त कर रही है।

[MORE_ADVERTISE3]

जिले में तैनात थे अतिरिक्त पुलिस बल
वहीं, खंडवा में प त्यौहारों को लेकर पहले से शहर में अतिरिक्त पुलिस बल आया हुआ है। इस समय जिले में तीन हजार से अधिक पुलिस बल तैनात हैं। शुक्रवार की रात से शहर के सभी चौराहों और संवदेनशील इलाकों में अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किया गया है जो अपने क्षेत्रों की हर गतिविधि पर नजर बनाए हुए हैं। वहीं पुलिस लगातार फ्लैग मार्च भी कर रही है।

सड़क पर हैं पुलिस अफसर
जिले के तमाम प्रशासनिक अधिकारी लॉ एंड ऑर्डर को लेकर शनिवार को सुबह से ही सड़क पर थे। सभी अफसर शहर में लगातार गश्त करते नजर आए। संवेदनशील इलाकों में पुलिस बल के साथ कंमाडों तैनात किए गए हैं। हर गतिविधियों पर नजर रखी गई है। शहर के सभी प्रमुख बाजार सुबह से ही बंद हैं। शहर के किसी भी क्षेत्र में पुलिस ने लोगों को समूह में जमा नहीं होने दिया।