स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

फोरलेन को लेकर प्रशासन की कवायद शुरू, की रोड की नप्ती

Manish Arora

Publish: Jan 18, 2020 12:09 PM | Updated: Jan 18, 2020 12:09 PM

Khandwa

-इंदिरा चौक से लेकर माता तक 22.5 मीटर रोड का होगा चौड़ीकरण
-अतिक्रमणों के साथ निजी, सरकारी भवन भी आ रहे फोरलेन की जद में

खंडवा. इंदिरा चौक से माता चौक तक फोरलेन को लेकर शुक्रवार से प्रशासनिक कवायद शुरू हो गई। शुक्रवार को एमपीआरडीसी, राजस्व और नजूल अधिकारियों ने इंदिरा चौक से लेकर पेट्रोल पंप पुलिया के पहले तक सड़क की नप्ती की। फोरलेन के लिए सड़क के बीच से दोनों ओर 11.25-11.25 मीटर कुल 22.50 मीटर रोड का चौड़ीकरण होना है। नप्ती के दौरान यहां अतिक्रमण सहित कई निजी और सरकारी भवनों पर निशान लगाकर रोड की चौड़ाई निर्धारित की गई।
पिछले दिनों साप्ताहिक समीक्षा की बैठक में कलेक्टर तन्वी सुंद्रियाल ने सख्ती से निर्देश दिए थे कि इंदिरा चौक, माता चौक का अतिक्रमण हटाकर फोरलेन का अधूरा कार्य जल्दी पूरा किया जाए। बैठक के चौथे दिन ही एमपीआरडीसी के एजीएम प्रतीक शर्मा, डायवर्सन आरआई विजय महाजन, नजूल के अनिल वैष्णव, ओमप्रकाश चतुर्वेदी, कमलेश पाराशर, पटवारी अश्विन सैनी और दल मौके पर पहुंचा। यहां इंदिरा चौक से लेकर पेट्रोल पंप पुलिया के पहले तक नप्ती कार्य किया गया। पिछले दिनों यहां से हटाए गए अतिक्रमणों के अलावा भी कई भवन नजूल की जमीन पर बने पाए गए। रोड की जद में आने वाले सभी भवनों का चिह्नांकन किया गया।
बाद में बनेगी विवाद की स्थिति
यहां फोरलेन में बाधक बन रहे अतिक्रमणों के साथ कई निजी भवन, दुकान और शासकीय भवन भी आ रहे है। जिसमें सेल्स टैक्स विभाग का पुराना कार्यालय, एसएन कॉलेज का पिछला हिस्सा भी शामिल है। वहीं, निजी भवनों में एक होटल का करीब छह मीटर का हिस्सा आ रहा है। बताया जा रहा कि निजी भवनों की रजिस्ट्रिया भी मकान मालिकों के पास है। जबकि नजूल राजस्व रिकार्ड में उक्त जगह रोड की बताई जा रही है। हालांकि चिह्नांकन के समय कोई विरोध सामने नहीं आया, लेकिन भविष्य में ये मामला विवादास्पद बन सकता है। सूत्रों के मुताबिक निजी भवन मालिक कोर्ट की शरण भी ले सकते हैं।

[MORE_ADVERTISE1]