स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

दहशत के पल: तेज धमाके के साथ आग के शोलों में बदल गया सबस्टेशन, चार कर्मचारी गंभीर रूप से झुलसे, इस वजह से हुआ हादसा

Balmeek Pandey

Publish: Jul 20, 2019 11:15 AM | Updated: Jul 20, 2019 11:15 AM

Katni

- कैमोर स्थित विद्युत विभाग के 144 केवी के सब स्टेशन में शुक्रवार रात उस समय अफरा-तफरी का माहौल निर्मित हो गया है जब एकाएक तेज धमाके के साथ सब स्टेशन आग के शोलों में तब्दील हो गया। इस हादसे में चार विद्युत कर्मचारी झुलस गए, इसमें एक की हालत गंभीर बनी हुई है।

- कैमोर स्थित विद्युत सब स्टेशन में प्रतिदिन की तरह शुक्रवार को भी कर्मचारी ड्यूटी पर तैनात थे। रात लगभग 9.15 बजे एकाएक सब स्टेशन में तेज धमाका हो गया। 132 केवी की सीटी भस्र्ट हो गई। गर्म तेल छिटककर कर्मचारियों के ऊपर पड़ा और कर्मचारी गंभीर रूप से झुलस गए।

- कर्मचारियों की चीख-चित्कार सुनकर आसपास मौजूद अन्य कर्मचारी व नगर के लोग पहुंचे और बचाव का प्रयास शुरू किया।

कटनी. कैमोर स्थित विद्युत विभाग के 144 केवी के सब स्टेशन में शुक्रवार रात उस समय अफरा-तफरी का माहौल निर्मित हो गया है जब एकाएक तेज धमाके के साथ सब स्टेशन आग के शोलों में तब्दील हो गया। इस हादसे में चार विद्युत कर्मचारी झुलस गए, इसमें एक की हालत गंभीर बनी हुई है। जानकारी के अनुसार कैमोर स्थित विद्युत सब स्टेशन में प्रतिदिन की तरह शुक्रवार को भी कर्मचारी ड्यूटी पर तैनात थे। रात लगभग 9.15 बजे एकाएक सब स्टेशन में तेज धमाका हो गया। 132 केवी की सीटी भस्र्ट हो गई। गर्म तेल छिटककर कर्मचारियों के ऊपर पड़ा और कर्मचारी गंभीर रूप से झुलस गए। कर्मचारियों की चीख-चित्कार सुनकर आसपास मौजूद अन्य कर्मचारी व नगर के लोग पहुंचे और बचाव का प्रयास शुरू किया। घटना की तत्काल डायल 100 को जानकारी एडवोकेट ब्रम्हमूर्ति तिवारी ने दी। मौके पर पहुंची डायल 100 से घायल कर्मचारियों को स्वास्थ्य केंद्र कैमोर में भर्ती कराया। हालत गंभीर होने पर विजयराघवगढ़ सिविल अस्पताल के लिए रैफर किया गया। इस हादसे में विद्युत कर्मचारी मनीष पाठक निवासी कुआं सलैया बरही गंभीर रूप से घायल हुआ है। मनीष का उपचार जिला अस्पताल में जारी है।

 

दो घंटे फंसी रही लिफ्ट, हलक में अटकी रही चार बच्चों की जान, जिला अस्पताल के ट्रामा सेंटर में लगी लिफ्ट का मामला

 

आग की लपटों से घिरा सब स्टेशन
जैसे ही सीटी भस्र्ट हुई वैसे ही पूरे स्टेशन में शॉट-सर्किट की स्थिति निर्मित हो गई। देखते ही देखते सब स्टेशन आग के शोलों में तब्दील हो गया। सब स्टेशन में आग की लपटों को देखकर क्षेत्र में दहशत का माहौल निर्मित हो गया। हालांकि कुछ देर बाद आग शांत हो गई।

 

अजब बेपरवाही: ...तो इस वजह से शहर में मच रही है बूंद -बूंद के लिए त्राहि-त्राहि

 

हादसे के बाद गुल हुई बिजली
जैसे ही सीटी भस्र्ट हुई वैसे ही क्षेत्र में अंधेरा छा गया। नगर में अंधेरा छा गया। सब स्टेशन से जुड़े गांवों की बिजली गुल हो गई। बिजली गुल होने के बाद मौके पहुंचे अन्य विद्युत कर्मचारियों ने रेस्क्यू शुरू किया। खबर लिखे जाने तक सब स्टेशन में हुए फॉल्ट को सुधारने का प्रयास किया जा रहा था।

 

शराब से किया तौबा तो आठ साल बाद पत्नी रहने हुई तैयार, इस केंद्र से घर में लौटीं खुशियां

 

ये कर्मचारी भी घायल
इस हादसे में तीन अन्य कर्मचारी भी झुलस गए हैं। इसमें रत्नेश समदडिय़ा, रोहित गौतम सिक्योरिटी गार्ड व राजकुमार बर्मन भी जल गए हैं। जिनका उपचार सिविल अस्पताल विजयराघवगढ़ में जारी है।

इनका कहना है
स्थानीय लोगों द्वारा घटना की जानकारी दी गई थी। तत्काल टीम को भेजकर जांच शुरू करा दी गई है। घायलों का उपचार शुरू हो गया है।
सौरभ कुमार, थाना प्रभारी कैमोर।