स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

बच्चों को बताया प्लास्टिक से पर्यावरण को कैसे होता है नुकसान...

Mukesh Tiwari

Publish: Sep 18, 2019 12:00 PM | Updated: Sep 18, 2019 12:00 PM

Katni

कपड़े की थैले का उपयोग करने दी समझाइश, मां जालपा परमार्थ सेवा समिति ने शेर चौक स्कूल में किया आयोजन

कटनी. बच्चों को पॉलीथिन के नुकसान बताने और कपड़े या कागज के थैलों का उपयोग को जागरुक करने मां जालपा परमार्थ सेवा समिति द्वारा शेर चौक स्कूल में जागरुकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। मां सरस्वती के पूजन के साथ कार्यक्रम की शुरुआत हुई और उसके बाद समिति अध्यक्ष नीरा सेठिया ने बच्चों को पॉलीथिन से होने वाले पर्यावरण के नुकसान की जानकारी दी। सेठिया ने बच्चों से कहा कि सिंगल यूज प्लास्टिक सामग्री से जहां भूमि की उर्वरा शक्ति समाप्त हो रही है तो वहीं मवेशी भी उन्हें खाकर मर रहे हैं। ऐसी चीजों का उपयोग बंद करें। उन्होंने बच्चों से अपने माता पिता को कपड़े की थैली लेकर ही बाजार जाने को लेकर जागरुक करने प्रेरित किया।

चार पहिया वाहन चुराए, एक के पुर्जे खोले, दूसरे को बेचने की थी तैयारी...

बच्चों व स्टॉफ को पॉलीथिन बैग का उपयोग न करने का संकल्प भी दिलाया गया। कार्यक्रम के अंत में प्रधानमंत्री के जन्मदिन पर बच्चों को संस्था की ओर से टाफियां, मिष्ठान का वितरण किया गया। इस दौरान गीता मिश्रा, अनीता बिचपुरिया, रजनी गुप्ता, मंजू गुप्ता, सुनीता बर्मन सहित अन्य जन मौजूद थे।