स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

जिले में दो हेलमेट व रसीद दिखाने पर बाइक का होगा पंजीयन, बदली व्यवस्था, जानिए क्यों

Dharmendra Pandey

Publish: Jul 20, 2019 11:29 AM | Updated: Jul 20, 2019 11:29 AM

Katni

सड़क हादसों का कम करने केंद्र सरकार ने उठाया कदम, अब एक कलर के बनेंगे वाहनों के लाइसेंस व रजिस्ट्रेशन कार्ड

 

कटनी. यदि आप नई बाइक खरीदकार आरटीओ कार्यालय में पंजीयन कराने गए हैं और साथ में दो हेलमेट व रसीद लेकर नहीं गए तो वाहन का पंजीयन नहीं होगा। निराश लौटना पड़ेगा। क्योंकि आए दिन हो रहे सड़क हादसों को कम करने के लिए केंद्रीय परिवहन विभाग सख्त हो गया हैं। दो हेलमेट व उसकी रसीद दिखाने पर ही वाहन का पंजीयन होगा। इसके अलावा अब वाहनों के रजिस्टेशन व लाइसेंस भी अब एक जैसे बनेंगे। दोनों का कलर भी अब एक जैसा होगा। हालांकि यह व्यवस्था 1 अक्टूबर 19 से लागू होगी। इस संबंध में केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्रालय ने नोटिफिकेशन जारी कर दिया है। रजिस्ट्रेशन कार्ड और ड्राइविंग लाइसेंस नए आवेदन पर एक अक्टूबर से दिए जाएंगे। परिवहन विभाग के अधिकारियों ने बताया कि लाइसेंस का काम स्मार्ट चिप कंपनी को दिया गया है। नए फार्मेंट के अनुसार ड्राइविंग लाइसेंस और रजिस्टे्रशन कार्ड की व्यवस्था जल्द ही शुरू होगी। सभी प्रदेशों के लाइसेंस कार्ड, रजिस्ट्रेशन का कलर भिन्न रगों के आकार में है। जिन लोगों के पास पुराने कार्ड बने हुए है, उनके यथावत ही रहेंगे। रिनुवल कराने पर नए फार्मेंट का कार्ड जारी किया जाएगा।

ऐसा होगा नया कार्ड
अधिकारियों के मुताबिक वाहन की जानकारी, कैटेगरी, वैद्यता के साथ ही रजिस्टे्रशन कार्ड और लाइसेंस में क्यूआर कोड भी रहेगा। इसे सारथी सॉफ्टवेयर से जोड़ा जाएगा। इससे देशभर के किसी भी वाहन और लाइसेंस की जानकारी आसानी से मिल जाएगी।

कार्ड में यह जानकारी भी होगी
लाइसेंस कार्ड के पीछे हिस्से में लाइसेंस की कैटेगरी की जानकारी रहेगी। जिसमें दो पहिया, चार पहिया, लाइट, लर्निंग व हैवी वाहन चलाने की जो भी अनुमित है, उसकी तारीख लिखी होगी। इसके साथ ही इमरेजेंसी मोबाइलन नंबर भी दर्ज होगा।

नए लाइसेंस में होगा क्यूआर कोड भी
चिप के पीछे की तरफ हो जाएगी। यही पर क्यू आर कोड होगा। पहले भाग पर फोटो होगा। लाइसेंसी का नाम भी एक ही लाइन में होगा। अभी दो लाइन में लिखते थे। नए लाइसेंस का पता लिखने के लिए तीन लाइनों की जगह है। ब्लड़ गु्रप के कॉलम के पास लाइसेंसी अंगदाता है या नहीं है इसकी भी जानकारी दी जएगी।

-आरटीओ कार्यालय में बाइक का पंजीयन दो हेलमेट व उसकी रसीद दिखाने पर ही होगा। इसके अलावा अब रजिस्ट्रेशन व लाइसेंस कार्ड एक जैसे रहेंगे। दोनों का कलर भी एक ही तरह का होगा। ऐसी तैयारी चल रही है। एक अक्टूबर से व्यवस्था शुरू हो जाएगी।
एमडी मिश्रा, एआरटीओ।