स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

अब दस रुपए में चार रोटी, चावल, दाल और सीजनल सब्जी

Satyendra Porwal

Publish: Dec 28, 2019 19:59 PM | Updated: Dec 28, 2019 19:59 PM

Karnal

हरियाणा में किसानों, मजदूरों को मिलेगा खाना।
नए साल में पांच जिलों शुरू होगा पायलट प्रोजेक्ट।
सीएम करनाल से करेंगे शुरूआत।

करनाल. चंडीगढ़. नए साल में हरियाणा की अनाज मंडियों में आने वाले किसानों तथा मजदूरों को दस रुपए में भरपेट खाना मिलेगा। देश के पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी के नाम से शुरू हुई अटल किसान मजदूर कैंटीन योजना हरियाणा में रविवार को करनाल की अनाज मंडी से शुरू होने जा रही है। योजना की शुरूआत मुख्यमंत्री मनोहर लाल द्वारा की जाएगी।
नए साल में पंाच जिलों को करेंगे कवर
नए साल में इस योजना का विस्तार करते हुए पंाच जिलों को कवर किया जाएगा। वर्ष 2020 में प्रदेश की सभी अनाज मंडियों में कैंटीन से किसानों-मजदूरों को भोजन मिलना शुरू हो जाएगा। सबसे खास बात यह होगी खाना पौष्टिक होगा और सीसीटीवी से कैंटीन पर मार्केटिंग विभाग के अधिकारी नजर रखेंगे। यही नहीं समय-समय पर कैंटीन का खाना भी चेक किया जाएगा, ताकि किसी को दिक्कत न हो सके।
अधिकारियों का कहना है कि थाली में चार रोटी, चावल, दाल और सीजनल सब्जी उपलब्ध कराई जाएगी। खाना स्वयं सहायता समूह की महिलाएं तैयार करेंगी। एक थाली पर 25 रुपए खर्च आएगा और रोजाना कम से कम 300 थालियों की राशि दी जाएगी। 10 रुपए किसान या मजदूर देंगे, शेष 15 रुपए मार्केटिंग विभाग वहन करेगा। रसोई में खाना बनाने के लिए जिन महिलाओं की डयूटी लगाई जाएगी, उन्हें विभाग की ओर से एक ई रिक्शा दी जाएगी। इस ई रिक्शा के जरिए वे न केवल घर से आ जा सकेंगी, बल्कि सामान आदि भी ला सकेंगी।
पहले खाना परोसेंगे, फिर खाने का स्वाद भी चखेंगे

[MORE_ADVERTISE1]अब दस रुपए में चार रोटी, चावल, दाल और सीजनल सब्जी[MORE_ADVERTISE2]

करनाल से सीएम 29 दिसंबर को दोपहर एक बजे कैंटीन की शुरूआत करेंगे। वह खुद पहले खाना परोसेंगे, फिर खाने का स्वाद भी चखेंगे। यही नहीं कृषि मंत्री जेपी दलाल भी उनके साथ खाना खाएंगे। करनाल के बाद पंचकूला, भिवानी, फतेहाबाद व नूंह में जनवरी 2020 में यह कैंटीन शुरू हो जाएगी। हरियाणा मार्केटिंग बोर्ड के मुख्य प्रशासनिक अधिकारी जे गणेशन ने इस योजना की पुष्टि करते हुए बताया कि मंडियों में फसल लेकर आने वाले किसानों, मजदूरों के लिए हरियाणा सरकार ने 10 रुपए में थाली देने की योजना बनाई है। इसमें खाना पौष्टिक होगा।

[MORE_ADVERTISE3]