स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

एक करोड़ का सालाना वेतन छोड़, नौक्षम ने की टिकट की दावेदारी

Chandra Prakash sain

Publish: Aug 24, 2019 18:43 PM | Updated: Aug 24, 2019 18:45 PM

Karnal

विदेश में पढ़ी आईएएस माता और जज पिता की बेटी ने शनिवार को अपने पैतृक गांव पैमाखेड़ा में भाजपा ज्वाइन कर टिकट की दावेदारी पेश कर

नूंह. विदेश में पढ़ी आईएएस माता और जज पिता की बेटी ने शनिवार को अपने पैतृक गांव पैमाखेड़ा में भाजपा ज्वाइन कर टिकट की दावेदारी पेश कर दी है। आगामी 29 अगस्त को होने वाली जन आशीर्वाद यात्रा में भी नौक्षम चौधरी अपनी ताकत पुन्हाना स्थित पैमाखेड़ा मोड़ पर दिखाएगी। भाजपा जिलाध्यक्ष सुरेंद्र देशवाल और सदस्यता अभियान प्रमुख जाहिद हुसैन बाई, निगरानी एवं सतर्कता कमेटी सदस्य गंगादान डागर की मौजूदगी में शनिवार को पैमाखेड़ा में आयोजित कार्यक्रम में पटका पहनाकर उनको पार्टी में शामिल किया।

आपको बता दें कि नौक्षम चौधरी की उम्र 26 साल है। मिरांडा कालेज दिल्ली में छात्र संघ नेता रही। चौधरी दस भाषाओं का ज्ञान रखती है। एक करोड़ रुपए सालाना वेतन के ऑफर ठुकराकर वह सूबे की सबसे पिछड़ी विधानसभा पुन्हाना में बड़े - बड़े दिग्गजों को चुनौती देने के लिए उतर आई। पत्रकारवार्ता में नौक्षम चौधरी ने कहा कि वह किसी से नहीं डरती। वो मेवात की बेटी या छोरी हैं। उनको गीदड़भभकी से डर नहीं लगता। पार्टी युवाओं को देशभर में टिकट दे रही है। वे टिकट के काबिल हैं। पीएम नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता ने उन्हें बहुत प्रभावित किया। अब वे विदेश और माता - पिता के पास चंडीगढ़ नहीं जाएंगी बल्कि अपने पैतृक गांव पैमाखेड़ा और पुन्हाना के हालात बदलने की दिशा में काम करेंगी। खुदा न खास्ता अगर टिकट नहीं मिला तो भाजपा के लिए वे काम करना नहीं छोड़ेंगी। नौक्षम चौधरी के पहले ही कार्यक्रम में डेमरोत पाल के अलावा पुन्हाना शहर के लोगों और दलित समुदाय के लोगों के जो जाने-माने चेहरे दिखे और कई सरपंच भी शामिल हुए। उसने टिकट का प्रबल दावा कर रहे निवर्तमान विधायक रहीस खान की नींद जरूर उड़ा दी है। पंचायत समिति चैयरमेन इरशाद, भूरू सरपंच , जहीर सरपंच , तैयब सरपंच सहित कई बड़े नाम शनिवार को कार्यक्रम में शामिल हुए और हरसंभव मदद का भरोसा दिलाते हुए कहा कि सूबे में सबसे ज्यादा वोटों से गांव की बेटी की जीत होगी। सदस्यता प्रमुख जाहिद हुसैन ने पार्टी में आने पर स्वागत करते हुए कहा कि पढ़ी लिखी काबिल बेटियों के आने से पार्टी मजबूत होगी। वे यात्रा के दौरान सीएम मनोहर लाल के सामने अपना लगाव और उत्साह दिखाना चाहती हैं। सीएम साहब को उनके कार्यक्रम में रुकवाया जाएगा। नौक्षम चौधरी के मैदान में आने से पुन्हाना विधानसभा की राजनीतिक सरगर्मियां तेज हो गई हैं। यह पहला मौका होगा जब कोई मेवात की शिक्षित बेटी विधानसभा में जाने के लिए जद्दोजहद करती दिखाई देगी। पुन्हाना में अब रहीस खान निवर्तमान विधायक रहीस खान, हज कमेटी चैयरमेन औरंगजेब के अलावा नौक्षम चौधरी के मैदान में आने से टिकट की लड़ाई रोचक हो गई है।

हरियाणा की ताजा खबरें पढऩे के लिए क्लिक करें