स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

सवालों की बौछार के बीच से जाना पड़ गया

Chandra Prakash sain

Publish: Oct 10, 2019 20:15 PM | Updated: Oct 10, 2019 20:15 PM

Karnal

रेवाड़ी. केंद्रीय राज्य मंत्री राव इंदरजीत सिंह द्वारा अपने समर्थक सुनील मुसपुरिया को भाजपा के टिकट दिलवा ना महंगा पड़ रहा है ।

रेवाड़ी. केंद्रीय राज्य मंत्री राव इंदरजीत सिंह द्वारा अपने समर्थक सुनील मुसपुरिया को भाजपा के टिकट दिलवा ना महंगा पड़ रहा है और सुनील के साथ केंद्रीय राज्य मंत्री का जमकर विरोध हो रहा है। वीरवार को केंद्रीय राज्य मंत्री राव इंदरजीत सिंह हरियाणा भाजपा के उपाध्यक्ष अरविंद यादव के कार्यालय पर दोपहर 3 बजे पहुंचे वहां पर पहले से ही बैठक में सैकड़ों भाजपा के कार्यकर्ताओं मौजूद थे और कार्यकर्ताओं ने बैठक शुरू होते ही मंत्री पर सवालों की बौछार कर दी जिसके चलते मंत्री को बैठक के बीच से भागना पड़ गया ।
केंद्रीय राज्य मंत्री ने भाजपा की टिकटों को लेकर केंद्रीय नेताओं पर परिवारवाद का आरोप लगाते हुए कहा कि जब देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, हरियाणा के जाट नेता एवं पूर्व मंत्री चौधरी बिरेंदर सिंह के अलावा एक दर्जन से अधिक नेताओं के परिवारों को टिकट मिलती है तो मेरी बेटी तो क्यों नहीं । उन्होंने हरियाणा भाजपा उपाध्यक्ष अरविंद यादव को अपने समर्थकों के सामने कहा कुछ गड़बड़ हुई तो पार्टी से हाथ धोना पड़ सकता है जिसको लेकर भाजपा के कार्यकर्ता मंत्री के विरोध में आग बबूला हो गए और जिस को लेकर रेवाड़ी भाजपा के कार्यकर्ताओं की बैठक में मंत्री के विरोध में नारेबाजी हुई बैठक में मंत्री के विरोध में लगे नारे में कहा मोदी से कोई बेर नहीं नहीं इंद्रजीत तेरी खैर नहीं ।
भाजपा नेताओं ने कहा जो कार्यकर्ता 40 सालों से भाजपा में संघर्ष कर रहा है उसे टिकट नहीं और जो कभी भाजपा की बैठक में नहीं गया और भाजपा के नियमों से वाकिफ नहीं है उसे मंत्री के कहने से टिकट मिली है ।
रेवाडी भाजपा के उम्मीदवार के विरोध के साथ मंत्री का उनके घर में ही विरोध होने लगा है और कई कार्यकताओं ने कहा राव हमेशा अपने कद के सामने मुख्यमंत्री से लेकर भाजपा के बड़े नेताओं को छोटा समझते हैं । लेकिन अब दक्षिण हरियाणा की जनता को राजा नहीं चाहिए सेवक चाहिए राजा सही अब नहीं चलेगी । कार्यकर्ताओं ने राव पर कई सवाल दागे लेकिन मंत्री बार.बार बैठक से भागने का प्रयास करते रहे । मगर बैठक में कार्यकर्ता सवाल दाग दे ही रहे ।