स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

All India Strike 2020: मेगा हड़ताल में तमाम सरकारी विभाग लेंगे हिस्सा, सरकार की मुसीबत बढ़ी

Prateek Saini

Publish: Jan 06, 2020 20:05 PM | Updated: Jan 06, 2020 20:05 PM

Karnal

All India Strike 2020: तमाम सरकारी विभागों ने अपनी अलग-अलग मांगों (India OFF) को लेकर आठ जनवरी को (Bharat Band) हड़ताल का ऐलान कर दिया है...

(करनाल): हरियाणा में आगामी आठ जनवरी को रोडवेज के चक्काजाम के साथ कई अन्य सरकारी विभागों ने भी हड़ताल का ऐलान कर सरकार के सामने मुसीबत खड़ी कर दी है।


राज्य के तमाम सरकारी विभागों ने अपनी अलग-अलग मांगों को लेकर आठ जनवरी को हड़ताल का ऐलान कर दिया है। आठ जनवरी की हड़ताल का आह्वान सरकारी कर्मचारियों के सबसे बड़े संगठन सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा ने किया है। सर्व कर्मचारी संघ ने रविवार को सभी जिलों में कार्यकारिणी की बैठकें कर आठ जनवरी की हड़ताल की तैयारियों की समीक्षा की गई। मंगलवार तक हड़ताल के लिए राज्य में माहौल बनाया जाएगा।


संघ के प्रदेश अध्यक्ष सुभाष लांबा, महासचिव सतीश सेठी व वरिष्ठ उप प्रधान नरेश कुमार शास्त्री ने बताया कि 200 से ज्यादा टीमें फील्ड में उतरेंगी, जो सभी विभागों, बोर्डों, निगमों, विश्वविद्यालयों, नगर निगमों, पालिकाओं, परिषदों, बिजली घरों, जल घरों और शिकायत केंद्रों पर गेट मीटिंग कर कर्मचारियों से सीधा संपर्क करेंगी, ताकि हड़ताल को कामयाब बनाया जा सके।

 

महासचिव सतीश सेठी के अनुसार सात जनवरी को मोटरसाइकिलों के जत्थों के साथ तैयारियों को अंतिम रुप दिया जाएगा। मुख्य संगठनकर्ता धर्मबीर फौगाट व उप महासचिव सबिता मलिक ने बताया कि हरियाणा रोडवेज कर्मचारी तालमेल कमेटी के आह्वान पर किलोमीटर स्कीम के खिलाफ छह जनवरी के मशाल जुलूस और 7-8 जनवरी के चक्काजाम का भी सर्व कर्मचारी संघ ने पुरजोर समर्थन किया है। सरकार ने यदि किसी दमनकारी नीति का इस्तेमाल किया तो उसका पुरजोर विरोध होगा।

 

प्रदेश के सभी विश्वविद्यालयों के गैर शिक्षक कर्मचारियों और अनुबंधित साहयक प्रोफेसरों ने भी आठ जनवरी की हड़ताल मे शामिल होने का निर्णय लिया है। यह जानकारी देते हुए आल हरियाणा यूनिवर्सिटी गैर शिक्षक कर्मचारी फेडरेशन के चेयरमैन महेंद्र सिंह बैनीवाल ने बताया कि लुवास यूनिवर्सिटी मे हुई मीटिंग में सर्व सम्मति से सरकार पर वादाखिलाफी व दमनात्मक नीतियों को अपनाने का आरोप लगाते हुए आठ जनवरी की हड़ताल में शामिल होने का निर्णय लिया गया है।


बैठक में सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के अध्यक्ष सुभाष लांबा समेत चौधरी देवी लाल यूनिवर्सिटी सिरसा के महासचिव कुलदीप गहलावत, सचिव सुरेंद्र दलाल, एमडीयू रोहतक के प्रधान कुलवंत मलिक, पूर्व प्रधान सुमेर सिंह अहलावत, कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय कुरुक्षेत्र के प्रधान सुनील कक्कड़ व महासचिव नीलकंठ, जीजेयूहिसार के प्रधान विकास पंघाल, लुवास हिसार के प्रधान दयानंद वर्मा व पूर्व प्रधान महाबीर प्रसाद, मीरपुर रेवाड़ी यूनिवर्सिटी के प्रधान मुकेश यादव, मुरथल यूनिवर्सिटी से श्याम सुंदर व महेंद्र सिंह और वाइएमसीए यूनिवर्सिटी फरीदाबाद के प्रधान विजय कुमार व महासचिव अवनीश गौड ने भागीदारी करते हुए हड़ताल में शामिल होने का ऐलान किया है।

 

आल हरियाणा पावर कारपोरेशन वर्कर्स यूनियन के चेयरमैन देवेंद्र हुड्डा, प्रधान सुरेश राठी व महासचिव नरेश कुमार ने बताया कि बिजली निगमों के कर्मचारी व अधिकारी भी हड़ताल मे शामिल होंगे। सोमवार व मंगलवार को सभी सब डिविजन, डिविजन, सब स्टेशनों और शिकायत केंद्रों में मीटिंग की जाएगी। पीडब्ल्यूडी मेकेनिकल वर्कर्स यूनियन के प्रधान कृष्ण शर्मा, महासचिव कंवर लाल यादव व उप प्रधान सीलक राम मलिक ने दावा किया की पीडब्ल्यूडी बी एंड आर, सिंचाई व जन स्वास्थ्य विभाग के 20 हजार से ज्यादा कर्मचारी आठ जनवरी को हड़ताल पर रहेंगे।

 

कर्मचारियों मे जलापूर्ति व सीवरेज के काम को नगर निगमों के हवाले करने, टर्म अपवाइटी को तृतीय श्रेणी में शामिल न करने व पंचायती पंप आपरेटर को पूर्णकालिक कर्मचारी मानकर वेतन न देने को लेकर भारी नाराजगी है। नगर पालिका कर्मचारी संघ हरियाणा के प्रधान नरेश कुमार शास्त्री व महासचिव मांगे राम तिगरा ने दावा किया कि नगर निगमों, पालिकाओं व परिषदों के 32 हजार कर्मचारी आठ जनवरी को हड़ताल पर रहेंगे।

[MORE_ADVERTISE1]