स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

रक्षाबंधन: बाजारों में उमड़ी ऐसी भीड़ फिर हुआ ऐसा....

Dinesh Kumar Sharma

Publish: Aug 14, 2019 21:51 PM | Updated: Aug 14, 2019 21:51 PM

Karauli

करौली. भाई-बहन के स्नेह का त्योहार रक्षाबंधन गुरुवार को हर्षोल्लास से मनाया जाएगा।

करौली. भाई-बहन के स्नेह का त्योहार रक्षाबंधन गुरुवार को हर्षोल्लास से मनाया जाएगा। इस अवसर पर जहां बहनें भाईयों की कलाई रेशम की डोर से सजाएंगी, वहीं भाई भी बहनों को उपहार सौपेंगे। रक्षाबंधन को लेकर बुधवार को घरों में तैयारियों नजर आईं।

महिलाओं-युवतियों ने मेहन्दी रचाई। वहीं बाजारों में लहरिया की खूब बिक्री हुई। त्योहार के मद्देनजर खरीदारी के लिए बुधवार को शहर के विभिन्न बाजारों में भीड़ रही। ग्रामीण और शहरी क्षेत्र के लोगों ने त्योहार पर पकवान बनाने के लिए सामग्री की खरीद की, वहीं महिला, बालिकाओं ने अपने भाईयों की कलाई सजाने के लिए राखियां खरीदी।

भीड़ के चलते चौधरी पाड़ा, बजाजा बाजार, हिण्डौनगेट, फूटाकोट सहित कई स्थानों पर दिन में कई बार जाम लगने की नौबत आई।

राखियों से सजे बाजार
रक्षाबंधन के मद्देनजर शहर के विभिन्न बाजारों में राखियों की दुकानें सजी हैं। जिन पर खूब बिक्री भी हुई। रक्षाबंधन पर भाई की कलाई सजाने के लिए बहनों ने राखियों की खरीदी। शहर के सदर बाजार, भूडारा बाजार, फूटाकोट, बूरा-बताशा गली, ट्रक यूनियन, हिण्डौन गेट, चौधरी पाड़ा सहित अन्य बाजारों में राखियों की दुकानें सजी हैं।

नई-नई डिजाइनों की आई राखियों को महिलाएं पसंद कर रही हैं। राखी विक्रेताओं के अनुसार विशेष रूप से बच्चों की मोटू-पतलू, स्पीनर, शॉफनर, खिलौना राखी के अलावा महिलाओं की कड़े राखी, वैलेक पॉलिस, धागा मोती पसंद की जा रही हैं। राखी विक्रेताओं के अनुसार राखियों की कीमत 5 रुपए से लेकर 120 रुपए तक है।