स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

करौली में जिला स्थापना के कार्यक्रमों में आम ही नहीं खासों ने भी बनाई दूरी

Dinesh Kumar Sharma

Publish: Jul 20, 2019 14:11 PM | Updated: Jul 20, 2019 14:11 PM

Karauli

करौली. जिला स्थापना दिवस के मौके पर आयोजित किए गए कार्यक्रम पूरी तरह औपचारिक बनकर रह गए।

करौली. जिला स्थापना दिवस के मौके पर आयोजित किए गए कार्यक्रम पूरी तरह औपचारिक बनकर रह गए। जिले कीवर्षगांठ के प्रति ना आमजन ने कोई रुचि दर्शाई और ना ही अधिकारी-कर्मचारियों को इससे कोई सरोकार नजर आया। इसके चलते कार्यक्रमों की महज औपचारिकता निभाई गई।

19 जुलाई 1997 को जिला बने करौली की शुक्रवार को वर्षगांठ थी। इसे लेकर सुबह मदनमोहनजी मंदिर में महाआरती का आयोजन था, लेकिन अधिकारी पहुंचे ही नहीं। चंद लोगों ने महाआरती की। इसके बाद नगाडख़ाना दरवाजे से रन फोर करौली का आयोजन किया गया, लेकिन किसी भी जिला स्तरीय अधिकारी ने इसमें रुचि ही नहीं दर्शाई।

निर्धारित समय से करीब एक घण्टे देरी से शुरू हुई रैली में प्रशासन की ओर से तहसीलदार आरएन मीना, नायब तहसील पहुंचे। इनके अलावा विकास अधिकारी गुलाब सिंह गुर्जर व जिला शिक्षा अधिकारी (प्रा.) भी शामिल हुए। वहीं जनभागीदारी पूरी तरह नगण्य रही।

रैली को उपसभापति अजय प्रजापत, तहसीलदार आरएनमीना, विकास अधिकारी गुलाब सिंह गुर्जर ने हरी झण्डी दिखाई। इस मौके पर समाजसेवी बबलू शुक्ला, रामेश्वर प्रजापत ठेकेदार भी मौजूद थे। गौरतलब है कि जिला कलक्टर अवकाश पर हैं।

जिम्मेदारी भी नहीं निभाई
जिला स्थापना के कार्यक्रमों के प्रति बेरुखी का और भी ज्यादा नमूना उस वक्त सामने आया, जब स्कूली बच्चे दौड़ लगाते कलक्ट्रेट पहुंचे तो वहां ना पेयजल की व्यवस्था थी ना अल्पाहार की। बताया गया कि जिला प्रशासन ने रसद विभाग व नगरपरिषद को यह जिम्मेदारी सौंपी थी, लेकिन रसद विभाग ने विभाग ने इसमें सहयोग नहीं किया। ऐसे में आनन-फानन में नगरपरिषद से यह व्यवस्थाएं कराई गईं।

35 यूनिट हुआ रक्तदान
जिला स्थापना दिवस के मौके पर यहां सामान्य चिकित्सालय में आयोजित रक्तदान शिविर में करीब 35 यूनिट रक्तदान हुआ। शिविर में अतिरिक्त जिला कलक्टर सुरेशकुमार भी पहुंचे। उन्होंने कहा कि रक्तदान किसी को जीवनदान दे सकता है और इससे बड़ा कोई दान नहीं है।
रानू एवं मिताली प्रथम
जिला स्थापना दिवस पर सूचना केन्द्र में पेन्टिगं प्रतियोगिता हुई। दो वर्गों में हुई पेन्टिंग प्रतियोगिता में सीनियर वर्ग में रानू ने प्रथम स्थान, दिशा समाधिया ने द्वितीय, साहिल अहमद ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। इसी प्रकार जूनियर वर्ग में मिताली वर्मा ने प्रथम, शुभम शर्मा ने द्वितीय एवं खुशी कौशिक ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। विजेताओं को मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी गणपत लाल एवं जिला परिवहन अधिकारी योगेश कुमार शर्मा ने स्मृति चिन्ह एवं प्रशस्ति पत्र प्रदान किए। प्रतियोगिता में जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय के बनवारी लाल शर्मा, स्काउट गाइड के सचिव अभय कुमार शास्त्री आदि मौजूद थे।