स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

व्हाट्सअप पर स्टेटस लगाने को लेकर जमकर चली गोलियां, उसके बाद हुआ कुछ ऐसा कि दहशत में आए लोग

Neeraj Patel

Publish: Jul 28, 2019 19:29 PM | Updated: Jul 28, 2019 19:29 PM

Kannauj

कन्नौज सदर कोतवाली क्षेत्र के मोहल्ला अहमदी टोला निवासी खुर्शीद पुत्र अफरोज और शोएब हसन पुत्र मुस्तफा का व्हाट्सअप पर स्टेटस लगाने को लेकर विवाद में जमकर गोलियां चलीं।

कन्नौज. जिले में दो पक्षों के बीच मामूली बात पर दिन दहाड़े फायरिंग हुई। जिससे आस-पास के क्षेत्र में सनसनी फैल गई। फायरिंग की सूचना पुलिस को हुई। आनन-फानन मौके पर पहुंची पुलिस ने फायरिंग कर रहे लोगों को चिन्हित किया लेकिन पुलिस को देखते हुए वह भाग गये पुलिस ने आरोपियों के घर मौजूद महिलाओं को जल्द हाजिर होने का अल्टीमेटम देते हुए आरोपियों के घर मौजूद गाड़ियां अपने साथ कोतवाली ले आई।

मामूली बात पर चली गोलियां

कन्नौज सदर कोतवाली क्षेत्र के मोहल्ला अहमदी टोला निवासी खुर्शीद पुत्र अफरोज और शोएब हसन पुत्र मुस्तफा का व्हाट्सअप पर स्टेटस लगाने को लेकर विवाद हो गया। जिसके बाद अहमदी टोला में अचानक गोलियों की तड़तड़ाहट सुनाई पड़ने लगी। जब तक मोहल्ले वाले कुछ समझ पाते तब खुर्शीद और उसके भाई चांद बाबू को गोली लग चुकी थी। जिसके बाद दोनों घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां दोनों की हालत में सुधार है। आरोप है कि शोएब ने अपने कुछ साथियों के साथ मिलकर इन दोनों पर हमला किया। वही मामले की भनक लगते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई।

ये भी पढ़ें - विवादित गाने पर यूपी पुलिस की बड़ी कार्रवाई, जय श्री राम पर गीत, 40 मुकदमें, 4 गिरफ्तार

पुलिस को देख भागे युवक

पुलिस को देख फायरिंग करने वाले युवक भागने लगे और कुछ लोग पुलिस से बचने के लिए एक मकान में छुप गये। जिसके बाद पुलिस ने फायरिंग कर रहे शोएब हसन व मुस्तेहसन, छोटे उर्फ इफकिदा व वस्सन उर्फ मुस्तफा को पकड़ने के लिए मकान का दरबाजा खटखटाया लेकिन दरबाजा अन्दर से बन्द था और पुलिस के खुलवाने पर जब किसी ने भी दरबाजा नही खोला तो पुलिस ने लोहे का दरबाजा काटने के लिए मौके पर गैस कटर मंगवाकर दरबाजे का लाॅक कटवाया। जिसके बाद दरबाजा खुल गया। लेकिन जब तक दरबाजे के अन्दर पुलिस दाखिल होती आरोपी सभी भाग चुके थे। पुलिस ने आरोपियों से सम्बन्धित सभी गाड़ियों को जब्त कर कोतवाली ले आई और महिलाओं को अल्टीमेटम भी दिया कि जल्द वह कोतवाली हाजिर हो जायें अन्यथा महिलाओं पर भी कार्यवाही की जायेगी।

व्हाट्सअप स्टेटस बनी बजह

पुलिस इस झगड़े की बजह वाॅट्सअप पर स्टेटस को लेकर बता रही है। वहीं पुलिस मामले की छानबीन कर कार्यवाही की बात कह रही है। वही मामले में पीड़ित पक्ष अफरोज की तरफ से शोएब हसन व मुस्तेहसन, छोटे उर्फ इफकिदा व वस्सन उर्फ मुस्तफा को नामदर्ज करते हुए एक अप्लीकेशन दी गई है।

ये भी पढ़ें - शिक्षक का अपने ही स्कूल की नाबालिक छात्रा पर आया दिल, और कर दिया यह बड़ा काम

आपस में हैं रिश्तेदार

बताते चले कि मामूली बात पर विवाद करने वाले दोनों ही पक्ष एक दूसरे के रिश्तेदार है। बताया जाता है कि दोनों ही पक्षों में वर्चस्व को लेकर अक्सर झगड़े होते रहते हैं। जिससे दोनो पक्ष एक दूसरे से रंजिश मानते थे। इसी रंजिश के चलते एक पक्ष ने वाट्सअप पर कुछ टिप्पणी की जिसको लेकर दूसरे पक्ष ने एतराज जताया। दोनों पक्ष आमने सामने आए तो झगड़ा बढ़ गयां और इस दौरान शोएब ने फायरिंग करते हुए गोली मार दी। जिससे खुर्शीद व चांदबाबू घायल हो गए।