स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

कन्नौज में हुई किसान की निर्मम हत्या, यह वजह आ रही हैं सामने

Akansha Singh

Publish: Aug 23, 2019 09:31 AM | Updated: Aug 23, 2019 09:31 AM

Kannauj

जिले में देर रात आटा चक्की में सो रहे अधेड़ की धारदार हथियारों से निर्मम हत्या कर दी गयी। सुबह जब पुलिस को हत्या की सूचना मिली तो मौके पर पुलिस के आलाधिकारी पहुंचे।

कन्नौज. जिले में देर रात आटा चक्की में सो रहे अधेड़ की धारदार हथियारों से निर्मम हत्या कर दी गयी। सुबह जब पुलिस को हत्या की सूचना मिली तो मौके पर पुलिस के आलाधिकारी पहुंचे। जिसके बाद आगे की कार्रवाई शुरू की गयी। मृतक के सिर, चेहरे, छाती, पेट और हाथ पर धारदार हथियार से वार किए गए थे। पुलिस के हाथ कई अहम सुराग लगे हैं। एक संदिग्ध की तलाश में टीमों को लगाया गया हैं। तीन-चार लोगों को हिरासत में लेकर पुलिस पूछताछ में जुटी है। पुलिस हत्या के कारण खोजने में जुट गई है।


खून से लथपथ मिला शव
कन्नौज के तालग्राम थाना क्षेत्र के धिंगपुर गांव का 45 वर्षीय ब्रहमपाल पुत्र बेंचे लाल छिबरामऊ थाना क्षेत्र के हरिपुर गांव स्थित अपनी आटा चक्की पर सोता था। देर रात उस पर अज्ञात बदमाशों ने धारदार हथियारों से हमला कर दिया। हमलावर बदमाश उसकी हत्या कर मौके से फरार हो गये। मामला रात का होने के चलते किसी को इस हत्या की जानकारी नही हुई सुबह जब लोगों ने चक्की में खून से लथपथ शव देखा तो पूरे गांव में सनसनी फैल गयी। पूरा गांव चक्की के पास जमा हो गया और 100 नम्बर पर पुलिस को हत्या की सूचना दे दी गयी। जिसके बाद मौके पर पुलिस के आलाधिकारी पहुंचे।


एक हफ्ते पहले हुआ था झगड़ा
फोरेंसिक टीम ने घटनास्थल से नमूने लिए। एसपी अमरेंद्र प्रसाद सिंह मौके भी पहुंच गए। उन्होंने परिजनों व पुलिस से जानकारी ली। पुलिस ने मृतक के पुत्र आकाश पाल की तहरीर पर अज्ञात के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया है। पुलिस ने मृतक के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस सूत्रों के मुताबिक करीब एक हफ्ते पहले ब्रह्मपाल का पास के गांव के एक व्यक्ति से एक महिला को लेकर झगड़ा हुआ था। घटना के बाद से वह व्यक्ति घर से लापता है। उसकी तलाश में पुलिस की टीमों को लगाया गया है। तीन-चार संदिग्धों को हिरासत में लेकर पुलिस पूछताछ कर रही है।


अच्छी थी मालीहालत
ग्रामीणों की माने तो हरीनगर की आटा चक्की संचालक राधे शाक्य ने पिछले वर्ष ब्रह्मपाल का गेहूं पीसने से मना कर दिया था। यह बात ब्रह्मपाल को अखर गई। गांव के ही श्यामनरायन की छह बिस्वा जमीन का बैनामा कराया। बाद में उसी के सामने की जमीन पर साझेदारी में चक्की लगा ली। चक्की लगने के बाद दोनों साझेदारों की आर्थिक स्थिति में सुधार होने लगा। आसपड़ोस के गांव हरीनगर, धिंगपुर, मढै़या, जयसिंहपुर, असेह, तालपार नगला, सिंहपुर व नगला छिद्द के अधिकांश लोग उसकी चक्की से गेहूं व दाना पिसाने आते थे। साझेदारी का पूरा हिसाब ब्रह्मपाल के पास रहता था।\

तो जिन्दा होता ब्रह्मपाल
चक्की के साझेदार श्याम नरायन दुबे ने बताया कि चक्की का गेट सिकंदरपुर में एक लोहे की दुकान से बनवा लिया था । यह गेट बने एक महीने का समय बीत चुका है। अभी तक इसे लगवाने का समय नहीं मिल पाया। आंखों में आंसू भरे श्याम नरायन का कहना था कि यदि चक्की में गेट लग गया होता तो साथी बह्मपाल आज जिंदा होता। मृतक ब्रह्मपाल भाजपा के जिला महामंत्री गौरव दुबे की अमरूद की बगिया की रखवाली भी करता था।

महत्वपूर्ण सुराग लगे पुलिस के हाथ
हत्याकांड के खुलासे के लिए फर्रुखाबाद से डाग स्क्वॉड को बुला लिया गया। खोजी कुत्ता आस्कर को पहले कमरे में घुमाया गया। यहां पर हत्यारे की चप्पल को सुंघाकर टीम के जयवेद व विपिन कुमार ने आस्कर को छोड़ा तो वह तेजी से खेतों की तरफ दौड़ा। आस्कर का पीछा कर रहे पुलिस कर्मियों को खेत में लंबी दौड़ लगानी पड़ी। लगभग एक किलोमीटर खेतों का निरीक्षण करने के बाद पक्की सड़क पर हरीनगर मोड़ के पास आस्कर के पांव थम गए। भीड़ अधिक होने के कारण आस्कर आगे कुछ खास नहीं कर पाया। पुलिस सूत्रों की मानें तो आस्कर ने जांच को सही दिशा में पहुंचा दिया है। घटना के संबंध में महत्वपूर्ण सुराग भी पुलिस के हाथ लगे हैं।


अनाथ हुए आकाश व प्रह्लाद
धिंगपुर निवासी ब्रह्मपाल की पत्नी भारती की पांच साल पहले बीमारी के चलते मौत हो गई थी। मां की मौत से बेटे आकाश व प्रह्लाद के सिर से ममता का साया उठ गया। अब पिता की असमय मौत से बेटे अनाथ हो गए। दोनों बेटे एसपी से शीघ्र ही पिता के हत्यारों को गिरफ्तार किए जाने की गुहार लगा रहे थे।

फोरेंसिक टीम ने की जांच
फोरेंसिक टीम के रामेंद्र श्रीवास्तव व कुलदीप कुमार मौके पर पहुंच गए। टीम ने कमरे का गहनता से निरीक्षण किया। यहां से नमूने इकट्ठे किए। टीम को घटनास्थल से एक जोड़ी चप्पल भी मिलीं। इनके हत्यारोपी की होने का अनुमान लगाया जा रहा है।