स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

रक्षाबंधन के दिन बहन को भूलकर भी नहीं देना चाहिए ये गिफ्ट, होता है अशुभ

Bhawna Chaudhary

Publish: Aug 09, 2019 14:34 PM | Updated: Aug 09, 2019 14:34 PM

Kanker

Raksha Bandhan 2019: रक्षाबंधन के दिन बहनों को ये गिफ्ट भूलकर भी नहीं देना चाहिए

हिन्दू धर्म में अनेक त्यौहार मनाए जाते है। इनमे से ही एक है रक्षा - बंधन। भाई - बहन के रिश्तों की गहराई के लिए यह त्यौहार मनाया जाता है। इस त्यौहार में बहन अपने भाई की दीघार्यु के लिए हाथ में रेशम का धागा बांधती है। जिसके बदले में भाई उसकी रक्षा का वचन देता है।

लेकिन अब समय के साथ चीजे बदल रही है। अब भाई सिर्फ रक्षा का वचन नहीं देता बल्कि साथ में देता है गिफ्ट। जी हां, आज के समय में भाई - बहन को गिफ्ट देकर अपने प्यार का इजहार करता है। अक्सर तोहफे खरीदते समय हम ये सोचते है कि क्या दे और क्या ना दें। तो आज हम आपको बताने वाले है अपनी बहन को तोहफे में क्या दें और क्या नहीं देना है....

raksha bandhan gift

इन चीजों को भूलकर भी न दें
हिन्दू शास्त्रों और पंडितों के अनुसार रक्षाबंधन पर बहनों को ऐसी नुकीली और धारदार चीजे गिफ्ट ना करें। उदाहरण के लिए मिक्सी, नाइफ सेट, मिरर, फोटो फ्रेम्स आदि। इसके साथ ही रुमाल और तौलिया भी बहन को बतौर गिफ्ट नहीं देना चाहिए। इन्हें भी अशुभ माना जाता है।

आपने ये तो जान लिया कि गिफ्ट में क्या नहीं देना है। अब जानते है बहनों को क्या दे। ज्यादातर लड़कियों और महिलाओं को कपड़े , गहने जैसे उपहार पसंद आते है। इसके अलावा लड़कियों को चॉकलेट भी दिया जाता है। इसके अलावा शादीशुदा महिलाओं के लिए सबसे ज्यादा ज़रूरी होता है, प्यार।

raksha bandhan gift

एक और जहां रुमाल और तौलिया बहन के लिए अशुभ हैं तो वहीं उसे पहनने के लिए वस्त्र देना शुभ है। माना जाता है कि महिलाओं में लक्ष्मी का वास होता है। भाई यदि उन्हें नए कपड़े दें तो उन्हें आशीर्वाद प्राप्त होता है और कृपा बरसती है। गहनों को तोहफे में देने पर भी मां लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं, जिससे न सिर्फ भाई बल्कि बहन के घर में भी सुख-समृद्धि बरसती है।

मीठी वाणी का उपयोग हमें हमेशा करना चाहिए, लेकिन शक्ति रूपी महिलाओं से बात करते हुए इसका विशेष ध्यान रखें। बहनों का सत्कार व सम्मान करें, इससे उनके चित्त को भी शांति मिलेगी और वह सुखी रहेंगी।