स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

नाक की तरफ बढ़ रहे दांत को ऑपरेशन कर निकाला

Abhishek Bissa

Publish: Jul 21, 2019 02:00 AM | Updated: Jul 20, 2019 21:02 PM

Jodhpur

किशोर का ऑपरेशन

 

जोधपुर. मंडोर सैटेलाइट अस्पताल में एक 16 वर्षीय किशोर के मुख की बजाय नाक के अंदर की तरफ बढ़ रहे दांत को बाहर निकाला। इस सर्जरी में डेढ़ घंटे का वक्त लगा।

डेंटल सर्जन डॉ. तरुण चौधरी ने बताया कि तिंवरी निवासी किशोर का दांत नाक के फ्लोर तक पहुंच चुका था। कुछ समय बाद नाक में उग कर उसे श्वसन तंत्र को प्रभावित करता। मरीज को लोकल एनेस्थेसिया देकर सुध अवस्था में ऑपरेट किया गया। इस ऑपरेशन में डॉक्टर ने मसूड़ों को ऊपर उठाकर हड्डी में दांत को ढूंढ़ा और फिर हड्डी में ड्रिल करते हुए मरीज के अनियंत्रित बढ़ रहे दांत को बाहर निकाला। इस दांत की साइज करीब डेढ़ सेंटीमीटर थी। जबकि अमूमन नॉर्मल दांत की साइज भी डेढ़ से दो सेंटीमीटर होती है।
ये होता नुकसान

इस मरीज ने पहले प्राइवेट सेंटर में भी दिखाया। उसके बाद सैटेलाइट अस्पताल की ओर रुख किया। डॉक्टरों के मुताबिक नाक की तरफ का इलाका काफी खतरनाक होता है। यहां से इंफेक्शन सीधा ब्रेन तक पहुंचता है। सर्जरी में हल्की सी चूक बालक के चेहरे को प्रभावित करती। इस बीमारी को डॉक्टर अपनी भाषा में मिसियोडेंस कहते है। अस्पताल पीएमओ डॉ. राजेश टेवानी ने कहा कि इस तरह के ऑपरेशन से अब मरीजों को बड़े सेंटर की तरफ रुख नहीं करना पड़ेगा। बड़े अस्पतालों में मरीज भार भी कम होगा।