स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

चुनौतियों का सामना करना ही पुलिस का काम, अगले बजट से पहले सभी थानों में लग जाएंगे कैमरे : डीजीपी यादव

Harshwardhan Singh Bhati

Publish: Aug 19, 2019 11:31 AM | Updated: Aug 19, 2019 11:31 AM

Jodhpur

मण्डोर रोड पर आरपीटीसी के सुल्तानसिंह स्टेडियम में सोमवार सुबह सात बजे आयोजित दीक्षांत परेड में पीटीएस के बैच संख्या-35, आरपीटीसी के बैच संख्या 76 व 77 की 442 महिला कांस्टेबल पुलिस बेड़े में शामिल हुईं।

वीडियो : विकास चौधरी/जोधपुर. राजस्थान पुलिस ट्रेनिंग सेंटर (आरपीटीसी) और पुलिस ट्रेनिंग सेंटर (पीटीएस) की सोमवार को आयोजित संयुक्त दीक्षांत परेड में बतौर मुख्य अतिथि भाग लेने डीजीपी यादव पहुंचे। यहां समारोह के बाद मीडिया से बातचीत में उन्होंने कहा कि आरपीटीसी को और उत्कर्ष करने पर जोर दिया जाएगा। चुनौतियां का सामना करना ही पुलिस का काम है। पुलिस का कार्य है सभी प्रकार के अपराधों को रोकने का प्रयास करना। यथाशक्ति पुलिस अपना काम कर रही है। कभी कबार कमी रह जाती है। जिसे पूरा किया जाता रहेगा। थानों में अगले बजट से पहले सीसीटीवी कैमरे लगावा दिए जाएंगे। साइबर क्राइम को रोकने के लिए सभी पुलिस स्टेशन में ट्रेनिंग दी जा रही है। राज्य स्तर पर इकाई को संवद्र्धित करने का प्रयास किया जा रहा है। जिस गैंग के वीडियो वायरल हो रहे हैं। उन्हें जल्द ही गिरफ्तार कर कार्रवाई की जाएगी।

442 महिला कांस्टेबल होंगी पुलिस बेड़े में शामिल

मण्डोर रोड पर आरपीटीसी के सुल्तानसिंह स्टेडियम में सोमवार सुबह सात बजे आयोजित दीक्षांत परेड में पीटीएस के बैच संख्या-35, आरपीटीसी के बैच संख्या 76 व 77 की 442 महिला कांस्टेबल पुलिस बेड़े में शामिल हुईं। समारोह के मुख्य अतिथि डीजीपी यादव महिला कांस्टेबलों के पुलिस बेड़े में शामिल होने की घोषणा की।


अफसर मैस में स्वागत और गार्ड ऑफ ऑनर

सडक़ मार्ग से रविवार शाम जोधपुर पहुंचे डीजीपी यादव का पुलिस लाइन के अफसर मैस में पुलिस महानिरीक्षक (रेंज) सचिन मित्तल व पुलिस कमिश्नर प्रफुल्ल कुमार ने स्वागत किया था और पुलिस जवानों ने उन्हें गार्ड ऑफ ऑनर दिया था। डीजीपी यादव ने आरपीटीसी के प्राचार्य व डीआइजी डॉ. विष्णुकांत शर्मा, एसीबी के डीआइजी सवाईसिंह गोदारा, पुलिस उपायुक्त डॉ. रवि, एसपी (ग्रामीण) राहुल बारहठ, एसपी (जीआरपी) ममता बिश्नोई, डीसीपी प्रीति चन्द्रा, धर्मेन्द्र सिंह व अन्य अधिकारियों से मुलाकात की थी।