स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

ओलावृष्टि से हुए फसल खराबे का जायजा लेने पहुंचे दूसरे दिन भी खेतों में पहुंचे विधायक

Manish Panwar

Publish: Dec 14, 2019 22:48 PM | Updated: Dec 14, 2019 22:48 PM

Jodhpur

भोपालगढ़. जोईन्तरा, गोविंदपुरा, लवेरा खुर्द, पूनियों की बासनी, रुदिया व ओस्तरां सहित ग्रामीण इलाकों में ओलावृष्टि से किसानों के खेतों में खड़ी जीरा, रायड़ा व कपास आदि रबी की फसलों में नुकसान हुआ है।

भोपालगढ़. क्षेत्र के बावड़ी-खेड़ापा रोड पर स्थित जोईन्तरा, गोविंदपुरा, लवेरा खुर्द, पूनियों की बासनी, रुदिया व ओस्तरां सहित आसपास के ग्रामीण इलाकों में बीते गुरुवार की रात हुई भारी ओलावृष्टि की वजह से किसानों के खेतों में खड़ी जीरा, रायड़ा व कपास आदि रबी की फसलों में व्यापक स्तर पर नुकसान हुआ है। जिसको लेकर शुक्रवार को लगातार दूसरे दिन भी क्षेत्रीय विधायक पुखराज गर्ग एवं राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के जोधपुर जिला संयोजक राजूराम खोजा ने ओलावृष्टि प्रभावित गांवों में पहुंचकर रबी फसलों में हुए खराबे का जायजा लिया। साथ ही उपखण्ड स्तर पर गठित की गई सरकारी कार्मिकों की टीम के साथ बैठक कर प्राथमिक स्तर पर ओलावृष्टि से फसलों में हुए नुकसान का आकलन किया। वहीं ओलावृष्टि के कारण हुए फसल खराबे एवं किसानों को हुए नुकसान के संबंध में विधायक गर्ग ने दूरभाष पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से बात कर प्रभावित किसानों को राहत देने के लिए शीघ्र ही विशेष पैकेज जारी करने की मांग की।रालोपा के जिला संयोजक राजूराम खोजा ने बताया कि भोपालगढ़ विधानसभा क्षेत्र के खेड़ापा-बावड़ी इलाके पूनियों की बासनी, लवेरा खुर्द, गोविंदपुरा, जोईन्तरा, ओस्तरां, मंडली, रुदिया व बिराणी समेत आसपास के कई गांवों में गुरुवार को देर शाम भारी ओलावृष्टि हुई। जिसकी वजह से किसानों के खेतों में खड़ी जीरा, रायड़ा, मिर्च व कपास आदि रबी फसलों में व्यापक स्तर पर खराबा हुआ है। यहां तक कि अच्छी तरह से पनप रही रबी की फसलों में एकाएक हुई ओलावृष्टि के कारण ये फसलें पूरी तरह से खराब होकर जमीदोंज हो गई। ऐसे में शुक्रवार को जब इन गांवों के किसान अपने खेतों में पहुंचे तो खराब हुई फसलों की हालत देखकर कई किसानों की आंखों में आंसू भी आ गए। यहां तक कि फसलों में हुए खराबे को देखने के लिए कई किसानों की तो खेत के अंदर जाने तक की हिम्मत ही नहीं हो पाई। किसानों के अनुसार ओलावृष्टि की वजह से इन गांवों के अधिकांश खेतों में खड़ी जीरा, रायड़ा, मिर्च व कपास आदि रबी की फसलें पूरी तरह से नष्ट हो जाने की वजह से किसानों को भी लाखों का नुकसान भुगतना पड़ेगा। इसके साथ ही फसलों में हुए खराबे का आंकलन करने पर तो पीडि़त किसानों की हालत ही पतली हो गई और वे रोने भी लगे।

विधायक गर्ग ने लिया जायजा
क्षेत्र के गांवों में गुरुवार की देर शाम हुई ओलावृष्टि की वजह से हुए फसल खराबे की सूचना मिलने पर भोपालगढ़ विधायक पुखराज गर्ग ने दूसरे दिन भी कई गांवों का दौरा किया। उन्होंने खेतों में जाकर फसल खराबे का अवलोकन किया और पीडि़त किसानों को राहत दिलाने के लिए हरसंभव प्रयास करने का भरोसा भी दिलाया। जिला कलक्टर ने बावड़ी उपखण्ड अधिकारी को टीम गठित कर विधायक गर्ग के साथ भेजने के निर्देश दिए। जिसको लेकर बावड़ी तहसीलदार धन्नाराम गोदारा के साथ इन गांवों के हल्का पटवारी एवं राजस्व विभाग के कई अन्य कार्मिकों ने भी विधायक गर्ग व अन्य जनप्रतिनिधियों के साथ पीडि़त किसानों के खेतों में पहुंचकर रबी की फसलों में हुए खराबे का आंकलन किया। साथ ही उपखण्ड स्तर पर गठित की गई सरकारी कार्मिकों की टीम ने भी शनिवार को लगातार दूसरे दिन विधायक गर्ग के साथ अपनी रिर्पोट तैयार कर उपखण्ड अधिकारी के मार्फत जिला कलक्टर के समक्ष पेश की।

[MORE_ADVERTISE1]