स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

इन तरीकों से निपटें ऑफिस के नकारात्मक माहौल से

Jamil Ahmed Khan

Publish: Sep 18, 2019 16:06 PM | Updated: Sep 18, 2019 16:06 PM

Jobs

काम में नकारात्मकता आपके स्वास्थ्य और व्यक्तिगत जीवन के लिए गंभीर साबित हो सकती है। यदि आपको लगता है कि आप एक विषैले वातावरण में काम कर रहे हैं तो आपको अपने ऑफिस को काम करने के लिए एक बेहतर जगह बनाने के लिए स्थायी समाधान ढूंढना होगा।

यह कोई रहस्य नहीं है : काम के साथ तनाव आता है। अगर आपको लगता है कि ऑफिस में सयम बुरा गुजर रहा है तो आप खराब माहौल से गुजर रहे हैं। काम में नकारात्मकता आपके स्वास्थ्य और व्यक्तिगत जीवन के लिए गंभीर साबित हो सकती है। यदि आपको लगता है कि आप एक विषैले वातावरण में काम कर रहे हैं तो आपको अपने ऑफिस को काम करने के लिए एक बेहतर जगह बनाने के लिए स्थायी समाधान ढूंढना होगा। जब बात आपके स्वास्थ्य को लेकर हो तो उसे अनदेखा करना या यह कहना है कि समस्या अपने आप दूर हो जाएगी तो यह एक अच्छा संकेत नहीं है। हम आपको कुछ टिप्स बताने जा रहे हैं ऑफिस के नकारात्मक माहौल से निपटने में आपके लिए मददगार साबित हो सकते हैं।

1. समस्याओं और समाधानों का अनुमान लगाएं
अगर काम पर लगातार आप तनावग्रस्त रहते हैं, तो जानने की कोशिश करें इसकी वजह क्या है। क्या रोज होने वाली मीटिंग के कारण चिकचिक होती है, या किसी व्यक्ति के साथ काम करने से आपको कोई दिक्कत होती है। यदि आप तनावपूर्ण स्थितियों का अनुमान लगा सकते हैं, तो आप शांत और अतिरिक्त इच्छाशक्ति के साथ इन स्थितियों को दूर कर सकते हैं।

2. बातों से दूर करें समस्याओं को
यदि कोई पहचानने योग्य समस्या है, तो किसी ऐसे व्यक्ति के साथ रचनात्मक माहौल बनाएं जो स्थिति को ठीक करने में मदद कर सकें। प्रतिक्रियाओं का आदान प्रदान करने के लिए एक मीटिंग करें। यह सुनिश्चित करने के लिए कि यह किसी के प्रति एकतरफा हमला नहीं है, तो इस बात को सबके साथ शेयर करें कि क्या चीज अच्छे से काम कर रही है, क्या सुधार किया जा सकता है, उसे साझा करें। चूंकि आप दूसरे लोगों से अपनी प्रतिक्रिया को गंभीरता से लेने की अपेक्षा करते हैं, इसलिए उनकी गंभीरता को भी उसी तरह लें। और अपनी 'लड़ाई' को ध्यानपूर्वक चुनें। हर कोई आपकी परिपक्व बातचीत के लिए खुला नहीं होगा।

3. ऑफिस में शिकायत नहीं करें
ऑफिस में बेवजह किसी भी बात को लेकर शिकायत नहीं करें। इससे आपके लिए ही कुछ दिक्कतें खड़ी हो सकती हैं। जैसे - 1. शिकायत करते वक्त बॉस आपको सुन सकता है, 2. आपकी टीम को लगेगा कि आप नकारात्मक रवैये अपना रहे हैं या आपके नकारात्मक रवैये को पसंद नहीं कर सकते हैं, जिससे एक साथ काम करना मुश्किल हो सकता है। 3. सहकर्मी भी नकारात्मका पर उतर सकते हैं जिससे ऑफिस का माहौल विषैला हो सकता है। जब आप ऑफिस में हो, बेहतर होगा कि मुश्किल वक्त के समय भी आप सकारात्मक रवैया अपनाकर रखें। अगर आपके सहकर्मी शिकायत करते हैं तो बेहतर होगा कि आप ऐसी बातों से दूरी बनाकर रखें। ऐसे समय आप हेडफोन लगा लें या वॉशरूम ब्रेक ले लें।

4. बाहरी समर्थन प्रणाली का पता लगाएं
अगर आपको लगता है कि आपके शर्मीले मिजाज के कारण या जिस व्यक्ति से आपको समस्या है, उससे बात करने से कोई हल नहीं निकलने वाला है तो कोई बात नहीं। अगर आप ऑफिस में समस्याओं के प्रति अपनी आंखें बंद कर लेंगे तो इससे आपको कोई फायदा नहीं होने वाला है। अगर आप नकारात्मकता से उबल रहे हैं तो बेहतर होगा कि ऑफिस के बाहर अपनी भावनाओं को निकालें। आप अपनी भावनाओं को माता-पिता, पति, पत्नी, दोस्तों के साथ शेयर कर सकते हैं। इससे आपको काफी मदद मिलेगी।

5. नकारात्मकता को दूर रखें
आप अन्य लोगों, उनके कार्यों, या रसोई में कई रसोईयों के द्वारा बनाए गए रात के खानें को नियंत्रित नहीं कर सकते हैं। जब चीजें गड़बड़ हो जाएं तो एक लंबी सांस लें, अपने आप को बताएं कि चीजें बदतर हो सकती हैं और अपने आपको आगे बढ़ाने में मदद करें। नकारात्मक सोच को पकड़े रहने से ये आपके दिमाग में घर कर जाती हैं और खराब माहौल को और बदतर बना सकती हैं। याद रखें की नकारात्मक बातों को पकड़ कर नहीं रखें। ऐसा करने से आपको महसूस होगा कि आपके आसपास का माहौल इतना खराब नहीं है जितना आप सोचते हैं।

6. सुनिश्चित करें की आप खुद समस्या नहीं हैं
यह एक कठिन बात हो सकती है। इससे पहले की आप हाथ खड़ें कर दें और नौकरी छोड़ दें, इस बात को सुनिश्चत करें कि ऑफिस के खराब माहौल के लिए आप जिम्मेदार नहीं हैं। नहीं तो नकारात्मकता आपका पीछा नहीं छोड़ेगी। अपने प्रदर्शन को सुधारने के लिए एक अच्छा मौका है कि विशिष्ट प्रतिक्रिया के लिए अपने बॉस या किसी विश्वसनीय सहयोगी से बात करें। अगर उन्हें लगता है कि आपके पास सुधार करने का मौका है तो इससे आपको अपने काम में सुधार करने का मौका मिल सकता है।