स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

Job Market: जॉब्स वर्सेज स्किल्ड लेबर की बहस: एक विवेचना

Sunil Sharma

Publish: Sep 20, 2019 12:50 PM | Updated: Sep 20, 2019 12:50 PM

Jobs

Job Market: कुछ समय पूर्व जयपुर के नगर निगम में सफाईकर्मियों की सरकारी भर्ती निकली थी। इन नौकरियों के लिए न केवल योग्य उम्मीदवारों ने वरन एमबीए, पीएचडी पास कैंडीडेट्स ने भी अप्लाई किया था।

Job Market: कुछ समय पूर्व जयपुर के नगर निगम में सफाईकर्मियों की सरकारी भर्ती निकली थी। इन नौकरियों के लिए न केवल योग्य उम्मीदवारों ने वरन एमबीए, पीएचडी पास कैंडीडेट्स ने भी अप्लाई किया था। इसी प्रकार रेलवे में निकली खलासी की भर्तियों के लिए भी ऊंची डिग्री वाले अभ्यर्थियों ने अप्लाई किया था जिसके बार पूरे देश में बहस छिड़ गई कि आखिर हम किस मार्ग पर चल रहे हैं।

ये भी पढ़ेः JNU अब नेतागिरी नहीं, Engineering की पढ़ाई के लिए होगा प्रसिद्ध

ये भी पढ़ेः सरकारी कॉलेज से डॉक्टर बनना महंगा, 17 गुना बढ़ाई MBBS की फीस

देखा जाए तो न केवल भारत वरन पूरी दुनिया में ही जॉब्स वर्सेज स्किल्ड लेबर की बहस छिड़ चुकी है। आज नौकरियां इतनी कम हो गई है कि एक-एक नौकरी के लिए सैकड़ों हजारों लोग आवेदन कर रहे हैं। ऐसे में केवल स्किल्ड युवा ही जॉब पाने में कामयाब हो पा रहे हैं, बाकी को निराशा ही हाथ लग रही है। देखा जाए तो आज के गलाकाट कॉम्पीटिशन के युग में जिसके पास ज्यादा स्किल्स होंगे वहीं जॉब पाने में कामयाब होगा। अगर आप दूसरों से ज्यादा स्किल्ड है, ज्यादा काबिल हैं तो भी आप स्वतः ही अच्छी नौकरी के हकदार बन जाते हैं।

ये भी पढ़ेः जॉब में रखें इन बातों का ख्याल तो फटाफट होगा प्रमोशन, बढ़ेगी तनख्वाह

ये भी पढ़ेः फ्रीलांसर बन कर घर बैठे कमा सकते हैं आप हर महीने लाखों रुपए, जानिए कैसे

अगर आज कोई भी युवा जॉब पाना चाहते हैं तो उसके लिए सबसे पहली प्राथमिकता यही होनी चाहिए कि वो ज्यादा से ज्यादा स्किल्स हासिल करें, ज्यादा से ज्यादा योग्य बनें। तभी उसे जॉब लिस्टिंग में फर्स्ट प्रेफरेंस दिया जाएगा। इसके साथ ही दूसरी बात जो युवाओं को जॉब के लिए ध्यान रखनी चाहिए कि जो कुछ आज चल रहा है, उस पर ध्यान न दें वरन उस पर ध्यान केन्द्रित करें जो भविष्य का ट्रेंड होगा। अगर ऐसा करेंगे तो युवा इस जॉब्स वर्सेज स्किल्ड लेबर की बहस को दरकिनार कर अच्छी जॉब पा सकेंगे अन्यथा दुनिया भर के लाखों-करोड़ों युवाओं की तरह उनके सिर पर भी हमेशा तलवार लटकी रहेगी।