स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

लॉरेंस व मदिया गैंग से जुड़े हो सकते हैं फाइनेंस संचालक पर फायरिंग करने के आरोपितों के तार

Jitendra Kumar Yogi

Publish: Aug 31, 2019 12:38 PM | Updated: Aug 31, 2019 12:38 PM

Jhunjhunu

कार में सवार होकर आए अज्ञात युवकों ने रीको फाटक के पास फाइनेंस का कार्य करने वाले एक युवक को निशाना बनाकर शुक्रवार शाम फायर किए। पुलिस के अनुसार गांव धीरासर हाल बसंत विहार झुंझुनूं निवासी विकास सीगड़ ने रीको फाटक के पास फाइनेंस कार्यालय कर रखा है। शुक्रवार शाम करीब सवा पांच बजे वह अपने कार्यालय से बाहर निकला। इसी दौरान चूरू नंबर की एक सफेद रंग की स्विफ्ट वीडीआइ कार में सवार होकर आए युवकों ने उसकी तरफ गोली चला दी। गोली विकास के पैरों के पास से निकल गई। अचानक हुई फायरिंग से घबराया विकास फाइनेंस कार्यालय के अंदर घुस गया और दरवाजा बंद कर लिया। ऐसे में फायरिंग करने वाले आरोपित युवक वारिसपुरा-देरवाला की तरफ भाग गए।

झुंझुनूं. कार में सवार होकर आए अज्ञात युवकों ने रीको फाटक के पास फाइनेंस का कार्य करने वाले एक युवक को निशाना बनाकर शुक्रवार शाम फायर किए। पुलिस के अनुसार गांव धीरासर हाल बसंत विहार झुंझुनूं निवासी विकास सीगड़ ने रीको फाटक के पास फाइनेंस कार्यालय कर रखा है। शुक्रवार शाम करीब सवा पांच बजे वह अपने कार्यालय से बाहर निकला। इसी दौरान चूरू नंबर की एक सफेद रंग की स्विफ्ट वीडीआइ कार में सवार होकर आए युवकों ने उसकी तरफ गोली चला दी। गोली विकास के पैरों के पास से निकल गई। अचानक हुई फायरिंग से घबराया विकास फाइनेंस कार्यालय के अंदर घुस गया और दरवाजा बंद कर लिया। ऐसे में फायरिंग करने वाले आरोपित युवक वारिसपुरा-देरवाला की तरफ भाग गए। फायरिंग की सूचना पर कोतवाली थानाधिकारी गोपालसिंह ढाका मौका स्थल पहुंचे और मुख्य रास्तों पर नाकाबंदी कराई। परंतु आरोपित युवक गाड़ी लेकर भागने में कामयाब हो गए।


खंगाले सीसीटीवी फुटेज
घटना के बाद पुलिस ने रीको में एक कॉम्पलेक्स में लगे सीसीटीवी फुटेज खंगाले। सीसीटीवी फुटेज में चूरू नंबर की एक सफेद रंग की स्विफ्ट वीडीआइ कार रीको फाटक की तरफ से आती है और मान पैराडाइज के पास होते हुए वारिसपुरा-देरवाला की तरफ आगे निकल जाती है। फिर अचानक यह कार पीछे होते हुए गली से विकास सीगड़ के फाइनेंस कार्यालय के पास पहुंचती है और इसमें बैठे युवक विकास की तरफ फायरिंग करते हैं। परंतु विकास के अंदर घुस जाने से वे एक गोली चलाने के बाद इसी रास्ते से होते हुए वारिसपुरा-देरवाला की तरफ गाड़ी को भगा ले जाते हैं।


पांच लाख की फिरौती के लिए मिल चुकी है धमकी
पीडि़त विकास सीगड़ ने बताया कि उसे पहले दो बार पैसे की मांग को लेकर फोन पर उसे धमकी मिल चुकी है। एक बार उसे लोरेंस गैंग के नाम पर और दूसरी बार मदिया गैंग के नाम पर फोन पर धमकी मिली, जिसमें पांच लाख रुपए मांगे गए।

कार में दिखाई दिए दो युवक
पीडि़त विकास सीगड़ ने बताया कि चूरू नंबरों की इस कार में उसे दो ही युवक दिखाई दिए। कार के टायरों के बीच लगे रिम कवर भी अलग-अलग रंग के थे।

इनका कहना है...
रीको फाटक के पास फायरिंग हुई है। फायरिंग करने वाले आरोपित युवकों के पास चूरू नंबर की सफेद रंग की स्विफ्ट वीडीआइ कार थी और एक गोली चलाकर फरार हो गए। मामले की जांच की जा रही है कि कार की नंबर प्लेट असली है या नकली और आरोपित कौन हैं।
-गोपालसिंह ढाका, कोतवाली थानाधिकारी (झुंझुनूं)