स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

साहब! हमें छोड़ दो, हमें झुंझुनूं की इस हत्या का राज पता है, हत्यारे का भी पता जानते हैं

rajesh sharma

Publish: Sep 19, 2019 11:49 AM | Updated: Sep 19, 2019 11:49 AM

Jhunjhunu

साहब! आप हमें मत पकड़ो। हमें छोड़ दो। अगर आपने हमें छोड़ दिया तो हम आपको ऐसा राज बताएंगे कि आपके कान खड़े हो जाएंगे। साहब! हमें जिले की बड़ी हत्या का राज पता है। हमें पता है कि किसकी हत्या हुई? हत्या कब और किसने की? हत्या के बाद शव कहां डाला? और हमें तो यह भी पता है हत्या करने का आरोपी अभी कहां है। बुहाना में नशे में मोटरसाइकिल चलाते समय रात को नाकाबंदी में पकड़े गए दो युवकों ने पुलिस को यह बात बताई तो पुलिस के भी एक बार यह बात गले नहीं उतरी। बाद में दोनों को पुलिस मौके पर लेकर गई तो हत्या का रा


पिलानी(झुंझुनूं). साहब! आप हमें मत पकड़ो। हमें छोड़ दो। अगर आपने हमें छोड़ दिया तो हम आपको ऐसा राज बताएंगे कि आपके कान खड़े हो जाएंगे। साहब! हमें जिले की बड़ी हत्या का राज पता है। हमें पता है कि किसकी हत्या हुई? हत्या कब और किसने की? हत्या के बाद शव कहां डाला? और हमें तो यह भी पता है हत्या करने का आरोपी अभी कहां है। बुहाना में नशे में मोटरसाइकिल चलाते समय रात को नाकाबंदी में पकड़े गए दो युवकों ने पुलिस को यह बात बताई तो पुलिस के भी एक बार यह बात गले नहीं उतरी। बाद में दोनों को पुलिस मौके पर लेकर गई तो हत्या का राज खुल गया।
बुहाना थाना इलाके के खांदवा गांव निवासी युवक हंसराज यादव की उसी के पड़ौसी एवं दोस्त राजवीर उर्फ रामवीर यादव ने पिलानी के पास देवरोड़ में हत्या कर दी। हत्या के बाद शव कुएं में भी डाल दिया। किसी को पता भी नहीं चला, लेकिन झुंझुनूं में हुई लूट के बाद जिलेभर में नाकाबंदी में सख्ती बरती जा रही है। बुहाना में मंगलवार रात को नाकाबंदी में पकड़ गए युवकों ने पूछताछ के दौरान हत्या का यह राज उगल दिया। पूछताछ में पकड़े गए युवक हत्या के आरोपी के दोस्त हैं। हत्या के बाद आरोपी रामवीर ने अपने दोस्तों को यह बात बताई थी। इससे राज खुल गया।
थाना अधिकारी मदनलाल कड़वासरा ने बताया कि खांदवा निवासी हंसराज तथा राजवीर उर्फ रामवीर यादव ने मिलकर देवरोड निवासी श्रीराम कुल्हरि के खेत को ठेके पर लिया था। दोनों युवकों ने श्रीराम के खेत पर कपास आदि की बुवाई कर रखी है। मंगलवार शाम को पुलिस ने जिलेभर में नाकाबंदी की थी, इसी दौरान बुहाना में भी नाकाबंदी की जा रही थी। बुहाना पुलिस ने दो युवकों को शराब के नशे में बाइक चलाते गिरफ्तार किया। गिरफ्तार युवकों ने पुलिस से छूटने के बदले में पुलिस को एक राज बताने की पेशकश की। बुहाना पुलिस ने दोनों से पूछताछ की तो उन्होंने देवरोड के खेत में एक शव होने की जानकारी दी। इसी को आधार बनाकर बुहाना पुलिस ने जीरो नंबर की एफआईआर दर्ज कर खांदवा निवासी आरोपित राजवीर उर्फ रामवीर यादव को हिरासत में लेकर कड़ाई से पूछताछ की तो उसने अपने खेत के साथी ठेकेदार हंसराज यादव की हत्या कर उसका शव कुएं में डालने की जानकारी दी। बुहाना पुलिस ने एफआइआर पिलानी पुलिस को भेजकर मामले की जानकारी दी।
थानाधिकारी ने बताया कि पिलानी पुलिस ने बुधवार को श्रीराम के खेत पर पहुंचकर आरोपित राजवीर उर्फ रामवीर की निशानदेही पर कुएं से हंसराज यादव का शव बरामद कर पिलानी के बिरला सार्वजनिक अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया। गुरुवार सुबह मृतक के परिजनों की उपस्थिति में मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम करवाया जाएगा। थानाअधिकारी ने बताया कि आरोपी से हुई प्रारंभिक पूछताछ में उसने कबूला है कि 16 सितंबर की शाम को आरोपित राजवीर उर्फ रामवीर तथा हंसराज ने शराब का सेवन किया था। इसी समय दोनों में किसी बात को लेकर कहासुनी हो गई। हंसराज कुएं के पास बैठकर नहाने लगा। नहाते समय ही राजवीर उर्फ रामवीर ने एक पाइप लेकर हंसराज के सिर में हमला कर दिया। जिससे हंसराज अचेत होकर वहीं गिर गया। कुछ देर बाद आरोपित राजवीर उर्फ रामवीर ने हंसराज को कुएं में धकेल दिया। खुद अपने गांव के लिए रवाना हो गया। रामवीर ने घटना की जानकारी अपने दोस्त को दे दी। उस दोस्त ने ही पुलिस से बचने के लिए शराब के नशे में राज उगल दिया। इधर बुधवार सुबह श्रीराम की पत्नी अपने खेत पर पहुंची तो खेत पर कोई नहीं मिला। उसने रामवीर उर्फ राजवीर को फोन कर पूछा तो राजवीर ने कोई जवाब नहीं दिया। पुलिस आरोपित से पूछताछ कर रही है।

पशुओं का भी व्यापार करता था हंसराज
बुहाना. हंसराज पशुओं की खरीद फरोख्त का व्यापार करता था। उसने एक पिकअप भी ला रखी है। मृतक हंसराज व उसकी हत्या का आरोपी एक ही गांव के हैं। दोनों पड़ौसी व मित्र थे।