स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

शेखावाटी के भाजपा नेता के पास आया धमकी भरा फोन, कहा परिणाम भुगतने के लिए तैयार रहना

rajesh sharma

Publish: Oct 05, 2019 19:14 PM | Updated: Oct 05, 2019 19:14 PM

Jhunjhunu

भाजपा का यह नेता चिड़ावा नगर पालिका का अध्यक्ष रह चुका। वर्तमान में इनकी पत्नी मधु शर्मा पालिकाध्यक्ष है।


झुंझुनूं/चिड़ावा. राजस्थान के झुंझुनूं जिले के एक भाजपा नेता के पास धमकी भरा फोन आया है। फोन करने वाले ने परिणाम भुगतने की धमकी दी है।
भाजपा का यह नेता चिड़ावा नगर पालिका का अध्यक्ष रह चुका। वर्तमान में इनकी पत्नी मधु शर्मा पालिकाध्यक्ष है।
पालिकाध्यक्ष मधु शर्मा के पति एवं पूर्व पालिकाध्यक्ष सुभाष शर्मा ने पूर्व पार्षद सुरेश भूकर पर मोबाइल पर धमकी देने का आरोप लगाया है। शर्मा ने बताया कि भूकर ने फोन कर टेंडर का वर्कऑर्डर जारी नहीं करने की बात कही। वर्कऑर्डर जारी करने पर परिणाम भुगतने की धमकी दी है। पूर्व पालिकाध्यक्ष ने फोन पर भूकर द्वारा दी धमकी की रिकॉर्डिंग भी पत्रकारों व अधिकारियों को सुनाई। उधर, पूर्व पार्षद भूकर ने आरोपों को खारिज किया। उन्होंने कहा कि टैंडर प्रक्रिया में भारी धांधली की गई। उन्होंने धमकी दिए जाने के सवाल पर कहा कि चेयरमैन के पति ने आधी-अधूरी रिकॉर्डिंग सुनाई है।

पूरी ईमानदारी से किया कार्य-अनिता
इओ अनिता खींचड़ ने कहा कि शहर में विभिन्न सड़कों, नालियों के लिए करीब तीन करोड़ 83 लाख के टैंडर लिए गए हैं। जिसके निर्माण कार्य आचार संहिता के बाद शुरू किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि टेंडर प्रक्रिया में पूरी तरह से पारदर्शिता बरती गई। मगर कुछ लोग नगरपालिका का माहौल खराब करना चाहते है। इसलिए टेंडर की प्रकिया पर सवाल उठा रहे है। टेंडर ऑनलाइन हुए थे। ऐसे में धांधली होने का सवाल ही नहीं उठता।
पालिकाध्यक्ष मधु शर्मा ने कहा कि प्रक्रिया में पूर्ण पारदर्शिता बरती गई है। कुछ लोग माहौल बिगाडऩे की कोशिश कर रहे हैं। मधु ने कहा कि शहर की साफ-सफाई व रोशनी व्यवस्था से प्रत्येक वर्ग खुश है। मगर कुछ लोग राजनीति चमकाने के लिए आरोप लगा रहे हैं। उन्होंने जन कल्याण संस्थान के धरने को राजनीति से पे्ररित बताया। उन्होंने कहा कि उक्त लोगों ने चार साल तक जनता की सुध नहीं ली। मगर चुनाव नजदीक देखकर धरने दे रहे हैं। वरिष्ठ पार्षद सुरेश जलिंद्रा, पार्षद मनोज महमिया, सुरेंद्र नायक, संदीप गोदारा, भूपेंद्र अरड़ावतिया, सुनील पारीक झाबर, कन्हैयालाल शर्मा, अनिल शर्मा, जगदीश प्राण, शबनम, सुरेंद्र सैनी, मनोज महमिया, अनूप नेहरा, जेइएन रमेश चौधरी आदि मौजूद थे। गौरतलब है कि गुरुवार को टैंडर प्रक्रिया के दौरान पूर्व पार्षद भूकर ने धांधली के आरोप लगाए थे। ठेकेदारों को टैंडर जमा की रसीद नहीं देने पर पूर्व पार्षद भूकर व जेइएन रमेश चौधरी में कहासुनी व हाथापाई हो गई थी।