स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

राजस्थान के झुंझुनूं जिले में हमेशा ही रोचक रहे हैं उप चुनाव

rajesh sharma

Publish: Oct 05, 2019 12:15 PM | Updated: Oct 05, 2019 12:15 PM

Jhunjhunu

सबसे ज्यादा दो उप चुनाव खेतड़ी में हुए। इसके अलावा झुंझुनूं, मंडावा व सूरजगढ़ में भी उप चुनाव हो चुके। मंडावा में यह दूसरा उप चुनाव है। इससे पहले 1983 में भी मंडावा में उप चुनाव हो चुके।


राजेश शर्मा
झुंझुनूं. जिले में अब तक विधानसभा के पांच उप चुनाव हो चुके। इस बार मंडावा में यह छठा उप चुनाव है। खास बात यह है कि पांचों बार पुरूष प्रत्याशी ही आमने-सामने रहे हैं।
यह पहला मौका है जब उप चुनाव में भाजपा व कांग्रेस दोनों ने महिलाओं को अपना प्रत्याशी बनाया है। सबसे ज्यादा दो उप चुनाव खेतड़ी में हुए। इसके अलावा झुंझुनूं, मंडावा व सूरजगढ़ में भी उप चुनाव हो चुके। मंडावा में यह दूसरा उप चुनाव है। इससे पहले 1983 में भी मंडावा में उप चुनाव हो चुके।

election news mandawa

पहला उप चुनाव 1969 में हुआ।यह चुनाव तत्कालीन विधायक रघुवीर सिंह के इस्तीफा देने के कारण हुआ।इस चुनाव में कांग्रेस के शीशराम ओला जीते।
दूसरा उप चुनाव मंडावा में 1983 में तत्कालीन विधायक लच्छूराम के निधन के कारण हुआ।इस चुनाव में दयाराम को हराकर कांगे्रस के रामनारायण चौधरी विधायक बने।
इसके बाद खेतड़ी में 1988 में तत्कालीन विधायक मालाराम गुर्जर के निधन के कारण तीसरा उप चुनाव हुआ।इस उप चुनाव में कांग्रेस के डॉ जितेन्द्र ङ्क्षसह ने दाताराम गुर्जर को हराया।
चौथा उप चुनाव झुंझुनूं में 1996 में हुआ। बहुचर्चित इस उप चुनाव में भाजपा के डॉ मूलङ्क्षसह शेखावत व कांग्रेस के दिग्गज नेता शीशराम ओला के पुत्र बृजेन्द्र ओला के बीच मुकाबला हुआ। जिसमें डॉ मूल सिंह शेखावत ने जीत दर्ज की।

mandawa news
पांचवां उप चुनाव सूरजगढ़ विधायक संतोष अहलावत के सांसद बनने के कारण हुआ। इस उप चुनाव में भाजपा के डॉ दिगम्बर सिंह व कांग्रेस के श्रवण कुमार मैदान में रहे। भाजपा सत्ता में होने के बावजूद उसे हार का सामना करना पड़ा, जीत कांग्रेस के श्रवण कुमार की हुई।जिले में मंडावा का यह छठा उप चुनाव है। इसमें एक तरफ कांग्रेस की रीटा चौधरी है तो दूसरी तरफ भाजपा की सुशीला सीगड़ा है। वहीं कांग्रेस के बागी सत्यवीर कृष्णिया भी ताल ठोक रहे हैं। कुल नौ प्रत्याशी मैदान में हैं।

कुल मतदाता
2 लाख 28 हजार 201
कुल बूथ- 259

-मतदान दिवस- 21 अक्टूबर
-मतदान का समय-
सुबह सात से शाम छह बजे तक
-मतगणना- 24 अक्टूबर को
मंडावा सीट अस्तित्व में
आई 1957
पहले विधायक-
लच्छूराम
-----------------------------
यह जीत चुके उप चुनाव में
-शीशराम ओला
-डॉ जितेन्द्रसिंह
-रामनारायण चौधरी
-डॉ मूल सिंह शेखावत
-श्रवण कुमार
--------------------