स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

युवक की मौत, अस्पताल कर्मचारियों पर लापरवाही का आरोप

Datar singh Shekhawat

Publish: Sep 19, 2019 12:37 PM | Updated: Sep 19, 2019 12:37 PM

Jhunjhunu

खेतड़ीनगर. सिंघाना के एक निजी अस्पताल में एक युवक की मौत के बाद परिजनों ने अस्पताल पर लापरवाही से इलाज करने का मामला दर्ज करवाया है। युवक का खेतड़ी के राजकीय अजीत अस्पताल में मेडिकल बोर्ड द्वारा पोस्टमार्टम करवाया गया।

खेतड़ीनगर. सिंघाना के एक निजी अस्पताल में एक युवक की मौत के बाद परिजनों ने अस्पताल पर लापरवाही से इलाज करने का मामला दर्ज करवाया है। युवक का खेतड़ी के राजकीय अजीत अस्पताल में मेडिकल बोर्ड द्वारा पोस्टमार्टम करवाया गया।
पुलिस के अनुसार सिंघाना निवासी सुरेश कुमार ने खेतड़ीनगर थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई कि उसके भाई राजेश कुमार को रात करीब साढ़े 12 बजे पेट में दर्द की शिकायत हुई, जिसको सिंघाना के राजकीय अस्पताल में ले जाया गया। तबीयत ज्यादा बिगडऩे पर उसे निजी राज अस्पताल ले जाया गया, जहां नर्स द्वारा भर्ती कर इलाज शुरू कर दिया गया तथा डॉक्टर को मौके पर नहीं बुलाया। कुछ समय बाद तबीयत और बिगडऩे पर नर्स द्वारा एक और इंजेक्शन लगाया गया, जिससे उसकी तबीयत में कोई सुधार नहीं आया। परिजनों ने नर्स से कहा कि डॉक्टर को बुलाओ लेकिन नर्स ने डॉक्टर को नहीं बुलाया। कुछ देर बाद राजेश कुमार निवासी सिंघाना की उपचार के बाद मौत हो गई। परिजनों ने अस्पताल प्रबंधन पर लापरवाही बरतने का आरोप लगाते हुए खेतड़ीनगर थाने में मामला दर्ज करवाया है। पुलिस की मौजूदगी में खेतड़ी के राजकीय अजित अस्पताल में मेडिकल बोर्ड द्वारा शव का पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सुपुर्द कर दिया गया।

इनका कहना है...
दो अस्पतालों में दिखाने के बाद पेट दर्द की शिकायत लेकर हमारे पास लेकर आए थे। हमने उसका इलाज भी शुरू कर दिया, लेकिन उसके लीवर में गड़बड़ थी जिसका पहले इलाज भी चल रहा था। हमने उसकी जांच करके उसको बड़े अस्पताल ले जाने के लिए कहा था लेकिन उन्होंने उसको लेकर नहीं गए। हमने उसको अच्छे से अच्छा इलाज दिया था। -डॉ रणवीर सिंह, निदेशक राज अस्पताल सिंघाना

सिंघाना के वार्ड नंबर 14 के सुरेश कुमार ने निजी अस्पताल पर लापरवाही से इलाज करने पर अपने भाई राजेश की मौत होने की रिपोर्ट दर्ज करवाई है शव का मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सौंप दिया है। मामले की गंभीरता से जांच की जा रही है।- किरण सिंह यादव, थानाधिकारी खेतड़ीनगर

युवक की मौत, अस्पताल कर्मचारियों पर लापरवाही का आरोप