स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

राजस्थान पुलिस को चैलेंज देने वाले योगेश ने छीन लिया एक परिवार का सुकून

rajesh sharma

Publish: Oct 10, 2019 12:06 PM | Updated: Oct 10, 2019 12:06 PM

Jhunjhunu

योगेश चारणवासी व उसके साथियों ने 15 सितम्बर को दिन दहाड़े रोड नम्बर तीन के पास स्थित प्रकाश ज्वैलर्स की दुकान पर डकैती की थी। योगेश चारणवासी ने दुकान में अपना पहचान पत्र देते हुए पुलिस को पकडऩे का चैलेंज दिया था। साथ ही कहक र गया था कि पुलिस को कह देना उसमें दम है तो पकड़कर दिखाए।

crime news og yogesh charnwasi


झुंझुनूं ञ्च पत्रिका. डकैती के बाद अपना पहचान पत्र छोड़कर पुलिस को चैलेंज देने वाले आरोपी योगेश चारणवासी व उसके साथियों ने राजस्थान के झुंझुनूं शहर के एक परिवार का सुख चैन छीन लिया। परिवार की खुशियां जीवनभर के गम में बदल गई। घटना के बाद भी आरोपी पुलिस की पकड़ से दूर है।
जिला मुख्यालय पर माननगर में स्थित न्यू प्रकाश ज्वैलर्स पर लूट के बाद आरोपितों की गोली लगने से घायल हुए मालिक जतिन सोनी उर्फ बाइसराम (32) घटना के 25वें दिन 9 अक्टूबर को जिंदगी की जंग हार गया। घटना के दौरान 15 सितंबर को गोली लगने के बाद जतिन सोनी को जयपुर के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। गंभीर हालत होने पर उसे लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रखा गया। 24वें दिन मंगलवार शाम को उसे जयपुर के एसएमएस अस्पताल में शिफ्ट किया गया था। जहां पर बुधवार को इलाज के दौरान 25वें दिन दम तोड़ दिया। जतिन का शव गुरुवार को झुंझुनूं लाया गया तो परिवार पर कहर टूट पड़ा। बच्चे व पत्नी बेसुध हो गए।

jatin soni murder jhunjhunu
पापा बोल क्यों नहीं रहे आप?
जतिन सोनी की शादी विद्या देवी के साथ हुई थी। जतिन के तीन संतान हैं। जिसमें दो पुत्र हर्षित आठ साल, विवेक छह साल तथा एक दस साल की पुत्री नंंदिनी हैं। जतिन के पिता चंद्रप्रकाश सोनी व माता जगदीश्वरी देवी हैं तथा इसके एक छोटा भाई संदीप है जिसकी ताल में सोने-चांदी की दुकान है। दोपहर को जैसे ही शव पहुंचा घर में कोहराम मच गया। मासूम बच्चे तुतलाती आवाज में पूछते रहे पापा आप बोल क्यों नहीं रहे?

jatin soni murder jhunjhunu
पुलिस को चिढ़ा रहा योगेश
आरोपी योगेश चारणवासी व उसके साथियों ने 15 सितम्बर को दिन दहाड़े रोड नम्बर तीन के पास स्थित प्रकाश ज्वैलर्स की दुकान पर डकैती की थी। योगेश चारणवासी ने दुकान में अपना पहचान पत्र देते हुए पुलिस को पकडऩे का चैलेंज दिया था। साथ ही कहक र गया था कि पुलिस को कह देना उसमें दम है तो पकड़कर दिखाए। बाद में एक आरोपी ने भागते समय सर्राफा व्यवसायी जतिन सोनी को गोली मार दी थी। घटना के कई दिन बाद भी पुलिस अभी तक आरोपी योगेश व विनोद को नहीं पकड़ पाई है।

चार हो चुके गिरफ्तार
घटना में शामिल छह नामजद आरोपितों में से पुलिस अभी तक चार आरोपितों को गिरफ्तार कर पाई है। जिसमें आबूसर निवासी अंकित ऊर्फ मिठ्ठू, चुड़ेला का बास निवासी प्रतापसिंह, चारणवासी निवासी प्रमोद उर्फ धोलिया तथा जिंद क्षेत्र के निवासी दीपक को पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है। जिसने जतिन को गोली मारी थी उस आरोपी दीपक को पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है।

जतिन के इलाज पर लाखों रुपए खर्च
जतिन सोनी के इलाज पर लाखों रुपए खर्च हो चुके हैं। स्वर्णकार समाज सेवा समिति ने मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजकर पीडि़त परिवार की सहायता की मांग की है। वारदात में काम ली गई बोलेरो व बाइक बरामद
पुलिस ने वारदात में काम ली गई बोलेरो गाड़ी व बाइक को बरामद कर चुकी है। बोलेरो गाड़ी आबूसर के जोहड़े में मिली थी। वहीं, बाइक को हरियाणा क्षेत्र की एक नहर से बरामद किया गया था। आरोपितों ने न्यू प्रकाश ज्वैलर्स से लाखों रुपए की कीमत के गहने व सोना-चांदी लूटा था।

jatin soni murder jhunjhunu
रींगस में की अंतिम बात
परिजनों का कहना है कि जतिन के गाली लगने के बाद उसे जयपुर लेकर गए थे। रींगस तक वह हल्की सी बात कर रहा था, उसके बाद उसने बात नहीं की।

डकैती व हत्या की धारा जुड़ेगी
ज्वैलरी शोरूम मालिक जतिन की इलाज के दौरान जयपुर में मौत हो गई। मामले में आरोपितों के खिलाफ हत्या सहित डकैती का मामला दर्ज किया जाएगा। दो फरार आरोपितों की तलाश की जा रही है। इसके लिए पुलिस पूरा प्रयास कर रही है।
-गोपालसिंह ढाका, कोतवाली थानाधिकारी (झुंझुनूं)