स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

दूसरों की जान नहीं जाए इसलिए रास्ते में पड़े डीपी के स्टे वायर को हटा रहा था यह भाजपा का पदाधिकारी, करंट लगा और मौत

Jitendra Kumar Yogi

Publish: Aug 18, 2019 12:41 PM | Updated: Aug 18, 2019 12:41 PM

Jhunjhunu

बिजली निगम की लापरवाही के चलते भाजपा युवा मोर्चा के ग्रामीण मंडल अध्यक्ष बीबासर निवासी संदीप डांगी की शनिवार सुबह करंट लगने से मौत हो गई। जानकारी के अनुसार अपने गांव बीबासर में 35 वर्ष का संदीप अल सुबह आठ बजे के करीब घर से अपने नोहरे में जा रहा था। रास्ते में डीपी के टूटे पड़े स्टे वायर को लकड़ी की सहायता से दूर कर रहा था, लेकिन इस दौरान खुद ही चपेट में आ गया। गंभीर हालत में परिजन उसे बीडीके अस्पताल लेकर आए। जहां पर चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित घर दिया।

झुंझुनूं. बिजली निगम की लापरवाही के चलते भाजपा युवा मोर्चा के ग्रामीण मंडल अध्यक्ष बीबासर निवासी संदीप डांगी की शनिवार सुबह करंट लगने से मौत हो गई।
जानकारी के अनुसार अपने गांव बीबासर में 35 वर्ष का संदीप अल सुबह आठ बजे के करीब घर से अपने नोहरे में जा रहा था। रास्ते में डीपी के टूटे पड़े स्टे वायर को लकड़ी की सहायता से दूर कर रहा था, लेकिन इस दौरान खुद ही चपेट में आ गया। गंभीर हालत में परिजन उसे बीडीके अस्पताल लेकर आए। जहां पर चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित घर दिया। उसके शव को मान नगर स्थित भाजपा कार्यालय लाया गया। जहां पर मृतक के परिवार को मुआवजा देने की मांग की गई। इस दौरान सांसद नरेन्द्र कुमार, सभापति सुदेश अहलावत, अशोकसिंह बड़ागांव, विशम्भर पूनिया, कुलदीप पूनिया, प्रमोद जानू, प्रमोद खंडेलिया, सचिन भाम्बू, दिनेश धाबाई, राजकुमार खेदड़, सतीश कुमार बाकरा व अन्य ने श्रद्धांजलि दी।
बाद में गांव में गमगीन माहौल में संदीप का अंतिम संस्कार कर दिया गया। संदीप के भतीजे विकास ने सदर पुलिस थाने में बिजली निगम की लापरवाही से करंट लगने से मौत का मामला दर्ज कराया है।
दो बेटियों का पिता था संदीप
संदीप की शादी करीब पांच साल पहले हुई थी और उसके दो बेटियां हैं। संदीप की तीन बहनें हैं। तीनों की शादी कर दी गई और तीनों शिक्षक हैं। वहीं, संदीप का बड़ा भाई दिलीप जोधपुर में कृषि वैज्ञानिक के पद पर कार्यरत है। संदीप के पिता रामकुमार की भी मौत हो चुकी है, जबकि बेटे का शव देखकर मां बेसुध हो गई।