स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

नियमित करने की मांग को लेकर जिले के 50 मदरसा स्कूलों में पढ़ाने वाले 143 पैराटीचर्स रहे अवकाश पर

Datar singh Shekhawat

Publish: Jul 19, 2019 12:09 PM | Updated: Jul 19, 2019 12:09 PM

Jhunjhunu

झुंझुनूं. राजस्थान मदरसा शिक्षा सहयोगियों को नियमित करने की मांग को लेकर गुरुवार को जिले के 50 मदरसों में पढ़ाने वाले मदरसा पैराटीचर्स सामूहिक अवकाश पर रहे।सुबह शहीद स्मारक में बैठक के बाद सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए रैली के रूप में कलक्ट्रेट पहुंचे।बाद में कलक्टर के मॉर्फत मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा।शहीद स्मारक पर सभा को समभोधित करते हुए जिला परिषद सदस्य इंजी.प्यारेलाल ढूकिया ने कहा कि वर्षों से अल्प वेतन पर कार्यरत मदरसा पैराटीचर्स को स्थाई करना चाहिए।उन्होंने कहा कि अल्प मानदेय में महंगाई के दौर में परिवार का पालन-पोषण करना बहुत ही मुश्किल है।

नियमित करने की मांग को लेकर जिले के 50 मदरसा स्कूलों में पढ़ाने वाले 143 पैराटीचर्स रहे अवकाश पर
कलक्ट्रेट पर प्रदर्शन कर जताया विरोध
झुंझुनूं. राजस्थान मदरसा शिक्षा सहयोगियों को नियमित करने की मांग को लेकर गुरुवार को जिले के 50 मदरसों में पढ़ाने वाले मदरसा पैराटीचर्स सामूहिक अवकाश पर रहे।सुबह शहीद स्मारक में बैठक के बाद सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए रैली के रूप में कलक्ट्रेट पहुंचे।बाद में कलक्टर के मॉर्फत मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा।शहीद स्मारक पर सभा को समभोधित करते हुए जिला परिषद सदस्य इंजी.प्यारेलाल ढूकिया ने कहा कि वर्षों से अल्प वेतन पर कार्यरत मदरसा पैराटीचर्स को स्थाई करना चाहिए।उन्होंने कहा कि अल्प मानदेय में महंगाई के दौर में परिवार का पालन-पोषण करना बहुत ही मुश्किल है। युनूस अली भाटी ने आवश्यकता पडऩे पर विधानसभा का घेराव की बात कही गई। मुस्लिम वेलफेयर फ्रंट के जिला अध्यक्ष इंजी.एम इब्राहिम खान ने कहा कि सरकार चुनावी घोषणा पत्र में किए गए वादे को पूरा करें।
इस मौके पर संगठन के जिला अध्यक्ष आरिफ अली, सह सचिव सदाकत अली फारूकी, संरक्षक मुस्ताक अली कासमी, इमरान टाक, एम. हारून कुरैशी, हितेश खटोड, आबिद नूंआ, शमा कमर, राजबाला, फराह खान, हिना कमर दारा सिंह, शब्बीर अली पठान, सुल्ताना खान,सुभाष पिलानियां आदि उपस्थित रहे।

 

विवाद के बाद बुहाना से मेल नर्स पवन व जीएनएम पूनम को हटाया


बुहाना. मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. छोटेलाल ने गुरुवार को कस्बे के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में कार्यरत जीएनएम पूनम शर्मा एवं मेल नर्स द्वितीय पवन कुमार को हटा दिया है। अब दोनों कार्मिकों का मुख्यालय झुंझुनूं रहेगा। दोनों कार्मिकों के बीच बुधवार को सवेरे रात्रिकालीन ड्यूटी को लेकर विवाद हो गया था। विवाद इतना बढ़ा था कि दोनों के बीच लात-घूंसे चले थे। दोनों की तरफ से बुहाना थाने में एक दूसरे के खिलाफ मामले दर्ज करवाए गए। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी के निर्देश पर जांच अधिकारी बीसीएमओ सूरजगढ़ डॉ. श्रवण कुमार व बीसीएमओ बुहाना डॉ. बीएस सोमरा ने सरकारी अस्पताल पहुंचकर बुधवार को हुई घटना की जानकारी लेकर मौका रिपोर्ट तैयार की। दोनों अधिकारी तीन दिवस में अपनी रिपोर्ट सौंपेंगे। रिपोर्ट मिलने के बाद आला अधिकारियों की तरफ से दोषी कार्मिक के खिलाफ नियमानुसार कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। नर्सिंगकर्मियों की आपसी खींचतान का खमियाजा क्षेत्र के मरीजों का भुगतना पड़ रहा है। चिकित्सा प्रभारी अधिकारी महेन्द्र नेहरा ने कार्य पर लौटने की पुष्टि करते हुए बताया कि दोनों कार्मिकों को एपीओ कर दिया गया है। एपीओ की पालना दोनों कार्मिकों को करा दी गई है।

jhunjhunu news