स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

ठाकुरजी को लगी सर्दी, धारण किए ऊनी वस्त्र, भोग में गुड़-अदरक

Jagdish Paraliya

Publish: Nov 16, 2019 11:14 AM | Updated: Nov 16, 2019 11:14 AM

Jhalawar

मौसम में बदलाव का असर, दर्शन का समय भी बदला

अब दाल-चावल के साथ लड्डू अर्पित किए जा रहे
झालरापाटन. मौसम में बदलाव के साथ द्वारिकाधीश मंदिर में भगवान के दर्शन के समय, भोग व पहनावे में बदलाव हो गया है।
देव स्थान विभाग से संचालित इस मंदिर में देव प्रबोधनी एकादशी से शाम के दर्शन में आधे घंटे का बदलाव किया। द्वारिकाधीश पुष्टि भक्ति सत्संग समिति प्रवक्ता रविराज पाटीदार ने बताया कि मंदिर में प्रात:कालीन सेवा में कोई अंतर नहीं आया है, लेकिन संध्या कालीन सेवा में बदलाव किया है। शीत ऋतु शुरू होने के साथ ही ठाकुर जी को ऊनी पौशाक धारण कराई जा रही है। भोग में अब दाल-चावल के साथ लड्डू अर्पित किए जा रहे हैं। पाटीदार ने बताया कि मंदिर में मंगला का समय सुबह ७ बजे के दर्शन, राजभोग के दर्शन १० बजे कराए जा रहे हंै।
द्वारिकाधीश मंदिर में देवप्रबोधनी एकादशी से ठाकुरजी के लिए सिगड़ी रखी जाने लगी है। शयन में रजाई भी ओढ़ाई जा रही है, भोग में अदरक, नींबू, गूड व गन्ने का रस अर्पित किया जा रहा है। यह क्रम बसंत पंचमी तक जारी रहेगा। मुख्य पुजारी अनिल कुमार शर्मा ने बताया कि ठाकुरजी की सेवा बालरूप में होती है। जिस तरह से हम पर ऋतुओं का असर होता है, हम जैसा महसूस करते हैं, उसी के अनुरूप ठाकुरजी की सेवा करते हैं। इसी कारण हर ऋतु के अनुसार शृंगार, भोग व समय में बदलाव करते हैं। यह भी कह सकते हैं कि यह भाव रूप से ठाकुरजी के प्रति सेवा का रूप है।

हज यात्रियों को जुलूस निकाल रवाना किया
बकानी . कस्बे में उमराह पर जाने वाले १० हज यात्रियों का जामा मस्दिज से जुलूस निकाला। ग्राम पंचायत की ओर से स्वागत द्वारा लगाकर वहीद पठान, शब्बीर हुसैन, खलील लुहार, जावेद मोहम्मद मन्सुरी, इकराम लुहार, नन्ही बाई, अजीजन बी, सहित 10 ही लोगों को वाना की। इस दौरान सरपंच प्रतिनिधी दीनदयाल कुशवाह, प्रकाश कुशवाह, पीसीसी सदस्य प्रकाश बाफना, वार्ड पंच फारूख मोहम्मद, आसिफ इकबाल सहित कई लोग उपस्थित रहे।

[MORE_ADVERTISE1]

c