स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

स्टॉक खत्म, बारिश से नहीं हो सकी बोवनी, 50 रु. किलो हुआ प्याज

Arun Tripathi

Publish: Sep 22, 2019 16:02 PM | Updated: Sep 22, 2019 16:02 PM

Jhalawar

-दीवाली तक दाम ऐसे ही रहने की उम्मीद

भवानीमंडी. मंडी में हर दिन 4 हजार क्विंटल आवक होने के बाद भी प्याज के दाम 50 रुपए किलो तक पहुंच गए हैं। पिछले एक महीने में ही प्याज के दाम 10 से 50 रुपए किलो तक बढ़ गए। जिले में व्यापारियों के पास प्याज का स्टॉक खत्म हो गया है। नया प्याज आने से पहले ही बारिश से खेत में ही नष्ट हो गया है। इसलिए भाव में रिकॉर्ड बढ़ोतरी हुई है। थोक सब्जी विक्रता दिलिप सेनी ने बताया कि फिलहाल दीवाली तक बाजार में प्याज के दाम ऐसे ही रहने की उम्मीद है।
मंडी में आवक कम होने से बाजार में अच्छे प्याज के दाम 50 रुपए किलो तक पहुंच गए हैं। जबकि हल्की क्वालिटी के भी 35-40 रुपए प्रति किलो हैं। पूर्व सरपंच सुल्तान सिंह ने बताया कि जिले में किसानों द्वारा जो प्याज की बुवाई की गई थी, वह लगातार हो रही बारिश से नष्ट हो गई। अगर जल्द ही नया प्याज बाजार में नहीं आया तो प्याज के दाम बड़कर दाम 60 से 80 रुपए प्रति किलो तक भी पहुंच सकते हैं।
जिले में साल में दो बार प्याज की बोवनी होती है। एक फसल तो इन दिनों आ जाती है, जबकि दूसरी बार प्याज की बोवनी नवंबर के महीने में होती है। इस बार बारिश में प्याज की फसल नहीं आई है। अब बारिश का दौर निकलने के बाद शेष बचे किसान बोवनी करेंगे।
-लहसुन भी पहुंचा 150 रुपए किलो तक
इस साल जहां प्याज महंगे दामों पर मिल रहा है, वहीं लहसुन के भाव भी आसमान छू रहे हैं। मंडी में अच्छी किस्म का लहसुन 120 रुपए से 150 रुपए किलो तक बिक रहा है। लगातार बारिश के कारण अन्य सब्जियों की आवक भी प्रभावित हुई है।
-जिले में 600 हैक्टर में प्याज की बोवनी हुई थी, जो लगातार बारिश से ओसतन 60 प्रतिशत खराब हो चुकी है व कहीं पर पूरी तरह से खराब हो चुकी है।
कैलाश चंद मीणा, उपनिदेशक कृषि विभाग, झालावाड़

सभी बैंकों का हो 2 लाख रुपए का लोन माफ , प्रदर्शन
-किसानों ने धरना प्रदर्शन व रैली निकाल दिया ज्ञापन
डग. क्षेत्र में लगातार हो रही अतिवृष्टि से किसानों की फसलों के चौपट होने के चलते बीमा क्लैम व मुआवजे की मांग को लेकर भारतीय किसान संघ के तत्वावधान में क्षेत्र के किसानों ने तहसील कार्यालय पर कलक्टर, मुख्यमंत्री व प्रधानमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा।
इससे पूर्व किसानों द्वारा कस्बे के गायत्री मन्दिर पर एकत्रित होकर रैली निकाली। जो गायत्री मन्दिर से प्रारम्भ होकर गंगधार गेट, नीम चोक, गणेश चोक, बुधवारिया दरवाजा, बस स्टैंड होते हुए तहसील कार्यालय पहुंची, जहां सरकार द्वारा कर्ज माफी के लिए की घोषणा में सभी बैंकों का 2 लाख रुपए का लोन माफ करने, अतिवृष्टि से खराब हुई फसलों का बीमा क्लेम व मुआवजा जल्द पास कराने की मांग की। इस दौरान सैंकड़ों की संख्या में किसान मौजूद रहे।
-मिले मुआवजा
असनावर. भारतीय किसान संघ ने शुक्रवार को रैली निकाल तहसील क्षेत्र में अतिवृष्टि से हुए नुकसान का उचित मुआवजा देने की मांग को लेकर मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन उपखण्ड अधिकारी को दिया। काश्तकारों ने जैविक खेती में पद्मश्री पुरस्कार से
सम्मानित हुकमचन्द पाटीदार की अगुवाई में मुख्यमंत्री के नाम दिए ज्ञापन में बताया कि अतिवृष्टि से खरीफ की सभी प्रकार की फसलों में नुकसान हुआ है। जल्द सर्वे कराकर फसल बीमा राशि व उचित मुआवजा देकर किसानों को राहत पहुंचाई जाए। तहसील अध्यक्ष दुर्गा प्रसाद पाटीदार, संभाग प्रमुख हरीसिंह खेरखेड़ा, जैविक प्रमुख केवलचन्द मानपुरा, रामबाबू जुनाखेड़ा, रामस्वरूप बालाजी, बबलू, रमेश, जगदीश, सुनील कुमार, सुरेश पाटीदार, अनीस मंसूरी धानोदा, श्यामलाल, रामेश्वर, प्रभुलाल, विष्णु प्रसाद व बड़ी संख्या में क्षेत्र के किसान शामिल रहे।
-जायजा लिया
रायपुर. क्षेत्र में अतिवृष्टि से नुकसान होने से किसान चितिंत हैं। दूसरी ओर क्षेत्र के कालीतलाई गांव में अतिवृष्टि से सोयाबीन, भिण्डी व मिर्ची की फसल में हुए नुकसान का कृषि पर्यवेक्षक अरविन्द पाटीदार व उद्यान पर्यवेक्षक दिनेश कुमार दांगी ने जायजा लिया।

इधर किसानों के खातों में डले रुपए
चौमहला. राजस्थान सरकार द्वारा चौमहला-डग क्षेत्र के किसानों की फरवरी 19 में ओलावृष्टि से नष्ट हुई फसल के करीब 45 करोड़ रुपए की मुआवजा राशि खातों में जमा होने से किसान खुश हैं। इससे बाजार सहित बैंकों व बैंक मित्रों के सामने किसानों की खासा भीड़ लगी रही।
सरकार ने गंगधार एवं डग क्षेत्र के 36 हजार 458 किसानों को 45 करोड़ 11 लाख 78 हजार की कृषि आदान अनुदान राशि खातों में सीधा जमा करा दी। किसानों के मोबाइल में बैंक से मुआवजा राशि ऑनलाइन डालने की सूचना मिली। पू
र्व विधायक मदनलाल वर्मा, ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष भगवानसिंह सिसोदिया, पीसीसी सदस्य भैरूसिंह परिहार, सलामत अली फौजदार, नगर कांग्रेस अध्यक्ष हरेश गौड़ ने कहा कि इससे किसानों को राहत मिलेगी।
-डग. क्षेत्र में पूर्व में हुई ओलावृष्टि से फसल खराबे का मुआवजा किसानों के खाते में डलते ही बैंकों में भीड़ लग गई। राम लाल, ईश्वर, नारायण सिंह सहित कई लोगों ने बताया कि मुआवजा खाते में डलने से किसानों ने राहत की सांस ली है। वहीं उपभोक्ताओं के ज्यादा पहुंचने सें बैंक में कैश की किल्लत हो गई। बैंक के बाहर जाम की स्तिथि बनी रही।