स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

श्यामलाल का था नरकंकाल, पत्नी ने प्रेमी के साथ मिलकर की थी हत्या

Arun Tripathi

Publish: Sep 08, 2019 15:12 PM | Updated: Sep 08, 2019 15:12 PM

Jhalawar

पत्नी ने प्रेमी के साथ मिलकर की थी हत्या, दोनों गिरफ्तार

मनोहरथाना. जावर थाना क्षेत्र के बरुबेह के जंगल में 1 सितम्बर को मिले अज्ञात नर कंकाल की शिनाक्त श्यामलाल भील (40) के रूप मेंं शनिवार को हुई। वहीं पुलिस ने हत्या के आरोपी मृतक की पत्नी कृष्णाबाई और प्रेमी मृतक के भतीजे मुकेश कुमार को गिरफ्तार कर लिया।
थानाप्रभारी बन्नालाल चौधरी ने बताया कि अनुसंधान में मृतक के परिजनों और स्वतंत्र गवाह के बयान लिए। इस दौरान मुखबिर की सूचना पर यह सामने आया कि कृष्णाबाई व श्यामलाल भील के बीच आए दिन भतीजे मुकेश भील के अवैध संबंधों को लेकर झगड़ा होता था। इस पर पुलिस ने मुकेश को तलब कर सख्ती से पूछताछ की। मुकेश ने बताया कि उसके कृष्णाबाई से अवैध संबंध थे। कृष्णाबाई ने 17 अगस्त 2019 को शाम 6 से 7 बजे के करीब उसे जंगल में मिलने के लिए बुलाया था। इस बात की भनक श्यामलाल को लगने से उसने पीछा कर जंगल में हम दोनों को देख लिया। वहां तीनों के बीच झगड़ा हुआ। इसके बाद कृष्णाबाई और मैंने श्यामलाल को पकड़ लिया। कृष्णाबाई ने श्यामलाल के दोनों हाथ पकड़ लिए और मैने श्यामलाल के गले में पड़ी साफी से फंदा लगाकर श्यामलाल का गला घोट कर मार दिया। लाश को वहीं झाडिय़ों में छुपा दिया। इसके बाद दोनों घर आ गए। कृष्णाबाई ने देर रात को कुल्हाड़ी लाकर दी। इसके बाद लाश को जंगल में ले गए और दो टुकड़े कर अलग-अलग जगह पर दो गड्ढे खोदकर गाड़ दिया। दूसरे दिन मृतक श्यामलाल के पहने हुए कपडे व साफी व जूतों को भी सूनसान जंबगल में ले जाकर गाड़ दिए। थनाप्रभारी ने बताया कि इसी प्रकार कृष्णाबाई को भी थाने लाकर पूछताछ की तो उसने अपना जुर्म कबूल किया। दोनों को पूलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। जावर थानाप्रभारी बन्नालाल चौधरी, सिपाही हीरालाल, ओमराज, फतेहसिंह, महावीर, महिला सिपाही ममता व उर्मिला ने घटना का खुलासा किया।

पैर फिसलने से महिला नदी में गिरी, मृत्यु
खानपुर. डूंडा गांव में शनिवार को एनीकट से गुजरने के दौरान महिला का पैर फिसलने से नदी में जा गिरी, इससे उसकी मौत हो गई। डूंडा निवासी गीता बाई (45) पत्नी भीमराज धाकड़ खारण्ड नदी पर बने एनीकट पर होकर खेत पर चारा लेने जा रही थी, तभी पैर फिसलने से नदी में गिर गई और तेज बहाव में बह गई। ग्रामीणों को सूचना मिलते ही वे दौड़े और तलाश करने के बाद कई मीटर दूर एनीकट के आगे वह मृत मिली। उसे खानपुर चिकित्सालय लाया गया, जहां जांच के बाद मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम करा परिजनों को सौंपा।

बलात्कार का मामला दर्ज
डग. पुलिस ने शनिवार को विवाहिता से बलात्कार का मामला दर्ज किया। थानाधिकारी भंवर सिंह ने बताया कि विवाहिता ने पति के साथ थाने पहुंच कर रिपोर्ट दर्ज कराई की वह डेढ़ महीने पहले डग आई थी, जहां से मध्यप्रदेश के आम्बा गांव निवासी युवक श्याम सिंह उसे बहला फुसला कर घर ले गया और बलात्कार किया। पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर जांच शुरू की।

संदिग्ध अवस्था में मौत
खानपुर. कालारेवा गांव में शनिवार को व्यक्ति की संदिग्ध अवस्था में मौत हो गई। पुलिस ने बताया कि लक्षमीनाथ (50) पुत्र रामप्रताप खेत पर धान की फसल में खरपतवार साफ कर रहा था। इस दौरान बेहोश हो गया। पास के खेतों में काम कर रहे किसान उसे चिकित्सालय लाए, जहां मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने संदिग्ध अवस्था में मौत का मामला दर्ज किया।

17 किलो 500 ग्राम डोडा पोस्ता के साथ गिरफ्तार
भवानीमंडी. पुलिस द्वारा मादक पदार्थ के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान के तहत कार्रवाई करते हुए पुलिस ने उत्तर प्रदेश के युवक को 17 किलो 500 ग्राम डोडा पोस्ता सहित गिरफ्तार किया। थानाधिकारी महेन्द्र मीणा ने बताया कि बायपास पर नाकाबंदी के दौरान युवक पचपहाड़ से भवानीमंडी की ओर आ रहा था, वह पुलिस को देखकर भागने लगा। पीछा कर जांच की तो उसके पास से कट्टे में 17 किलो 500 ग्राम डोडा पोस्ता बरामद हुआ। पूछताछ में उसने पहचान उत्तर प्रदेश के जिला मुजफ्फरनगर के शाहपुरा थाना क्षेत्र के अदमपुर गांव निवासी अमित पुत्र सरपाल हरिजन के रूप में बताई। पुलिस ने आरोपी को न्यायालय में पेश किया, जहां से आरोपी को तीन दिन के रिमांड पर पुलिस को सौंपा।

102 किलो डोडा चूरा बरामद, गिरफ्ïतार
रायपुर. पुलिस ने 102 किलो अवैध मादक पदार्थ अफीम डोडा चूरा सहित एक जने को शनिवार को वाहन के साथ गिरफ्तार किया। थानाधिकारी बाबूलाल ने बताया कि थाने के सामने नाकाबन्दी के दौरान आरोपी जसविन्दर सिंह पुत्र जोगिन्दर सिंह निवासी पड्डी थाना डेहली जिला लुधियाना को 102 किलो ग्राम अवैध मादक पदार्थ अफीम डोडा चुरा के मय गाडी गिरफ्तार किया। टीम में राजेन्द्र प्रसाद हेड कांस्टेबल, सीताराम हेड कांस्टेबिल, लक्ष्मीकान्त हेड कांस्टेबल, फरसाराम, केसाराम, इशपाल, हम्मवीर सिंह, रामप्रसाद, सुनील कुमार, टोडाराम शामिल रहे।