स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

झालावाड़ ने अमन व भाईचारा से स्वीकारा फैसला

Hari Singh Gujar

Publish: Nov 10, 2019 20:03 PM | Updated: Nov 10, 2019 20:03 PM

Jhalawar

अयोध्या मामले में रात से ही मुस्तैद रही पुलिस, जिलेभर में बंद रहे शिक्षण संस्थान
-जिले में धारा 144 जारी


- चार लोगों से अधिक एकत्रित हुए तो होगी कार्रवाई

झालावाड़ लंबे समय से अयोध्या के फैसले का लोगों को बेसब्री से इंतजार था। लगातार चली सुनवाई के बाद आखिरकार शनिवार को फैसला रामलला के पक्ष में आया तो हिन्दू संगठनों में हर्ष की लहर दौड़ गई। वहीं दूसरे पक्ष को पांच एकड़ जमीन देने के फैसले पर मुस्लिम संगठनों ने भी हर्ष प्रकट कर सुप्रीम कोर्ट के फैसले को स्वीकार किया है। जिले में अयोध्या मामले में शनिवार को सुप्रीम कोर्ट के फैसले को देखते हुए झालावाड़ के जिले के सभी थाना क्षेत्रों में ऐतिहात के तौर पर धारा 144 लगा दी गई है। जिला मजिस्ट्रेट एवं कार्यवाहक जिला कलक्टर राजेन्द्र प्रसाद चतुर्वेदी ने शुक्रवार देर रात जिले में सभी कोचिंग संस्थान,स्कूल व कॉलेजों को बंद रखने के आदेश जारी किए हैं। वहीं,कलक्टर के आदेश पर जिले में शनिवार को शहर के चौराहे, बस स्टैण्ड, रेलवे स्टेशन और अन्य सार्वजनिक स्थलों पर सुरक्षा बल तैनात किया गया है। सोशल मीडिया की कड़ी निगरानी की जा रही है।

रविवार सुबह 10 बजे तक इंटरनेट सेवाएं बंद रहेगी-
जिले में फिलहाल इंटरनेट सेवाएं बंद होने से लोग सोशल मीडिया पर संदेश नहीं भेज पा रहे हैं। जिले में शनिवार सुबह दस बजे से रविवार सुबह 10 बजे तक 24 घंटे के लिए इंटरनेट सेवाएं बंद रखने के निर्देश दिए गए है। अगर जरूरत पड़ेगी तो इसे आगे भी बढ़ाएगा जाएगा।

जिले में कड़ी सुरक्षा, सोशल मीडिया पर पैनी-
पुलिस अधीक्षक राममूर्ति जोशी ने कहा कि शांति समिति एवं शहर के गणमान्य नागरिकों के होते हुए हमें किसी बल एवं हथियारों की आवश्यकता नहीं है। जिले में सभी जगह सदभावना रैलियां निकाली गई है, बैठकों में सीएलजी सदस्यों व आमजन का अच्छा साथ मिला इससे हम अच्छा काम कर पा रहे हैं। शर्मा ने बताया कि सोशल मीडिया पर पुलिस व प्रशासन द्वारा निगरानी रखी जा रही है। मोबाइल में भ्रामक सूचनाओं को रखना एवं फारवर्ड करना दोनों ही अपराध हैं। युवाओं को इससे सावचेत करें। किसी भी व्यक्ति द्वारा यदि अफवाह फैलाई जा रही है तो उसकी सूचना तत्काल संबंधित पुलिस थाने में या पुलिस के कंट्रोल रूम के नंबर 07432-230465 पर दे सकते । उन्होंने कहा कि पुलिस पूरी तरह से मुस्तैद है। हर हाल में शांति एवं सौहाद्र्र बनाए रखना है। पूरे जिले में धारा 144 लागू है, कहीं भी चार या अधिक लोगों समूह में एकत्रित नहीं हो सकते हैं।

अवकाश पर गए कार्मिकों को बुलाया-
पुलिस उप अधीक्षक अर्जुनङ्क्षसह शेखावत ने बताया कि जिले में जो पुलिस कर्मी अवकाश पर गए हुए थे उनका अवकाश रद्द कर ड्यूटी पर बुला लिया गया है, वहीं जो अवकाश पर जाना चाहते है उनको अभी आगामी निर्देश तक किसी प्रकार का अवकाश नहीं दिया जाएगा। सभी प्रमुख चौराहों पर पर्याप्त टाईगर रिजर्व पुलिस सहित अन्य पुलिस बल तैनात है। जिले में सादा वर्दी में भी पुलिस व गुप्तचर काम कर रहे हैं। किसी भी प्रकार की अप्रीय घटना नहीं होने दी जाएगी।

बंद रहे जिले के कोचिंग व शिक्षण संस्थान
हालात के मद्देनजर प्रशासन ने देर रात को शिक्षण बंद रहने के निर्देश जारी किए, शनिवार को शहर के सभी कोचिंग संस्थान व शिक्षण संस्थाअ बंद रहे, हालांकि फिर भी कुछ स्कूलों के बच्चे सुबह स्कूल जाने के लिए बस स्टॉप पर नजर आए, लेकिन बसें नहीं आने से घर लौट गए।

कार्यवाहक जिला कलक्टर राजेन्द्र प्रसाद चतुर्वेदी ने जारी की एडवाइजरी
अयोध्या फैसले को लेकर प्रशासन ने सोशल मीडिया पर पूर्ण रूप से ऐहतियात बरतने की एडवाइजरी जारी की है। जिसमें प्रमुख रूप से ये है।
-बेबुनियाद और अफ वाहों पर आधारित मैसेज को किसी हाल में भी फ ारवर्ड नहीं करें।
- कोई भी व्यक्ति विस्फोटक पदार्थ, रिवाल्वर, पिस्तोल एवं बन्दूक आदि व किसी भी प्रकार का धारधार हथियार जैसे- गंडासी, चाकू, तलवार, त्रिशुल, संगीन पंजा, कांच के टूकड़े, लाठी, डंडा आदि साथ नहीं रखेंगे।
- उपखंड मजिस्ट्रेट की बिना अनुमति के धार्मिक जुलूस नहीं निकाल सकेंगे।
- कोई भी व्यक्ति तरल पदार्थ बोतल आदि में लेकर विचरण नहीं करेंगे।
- कोई भी व्यक्ति साम्प्रदायिक तनाव व आपत्तिजनक ऑडिया, वीडियो,पोस्टर आदि नहीं बेचेंगे और ना ही सोशल मीडिया पर पोस्ट करेंगे।
-मंदिर, मस्जिद, गुरूद्वारों, गिरजाघरों का धार्मिक कार्यों के अतिरिक्त किसी अन्य कार्य में काम नहीं लेंगे।
- कोई भी व्यक्ति पटाखे एवं आतिशाबाजी न तो अपने पास रखेगा और न ही भंडारण करेगा।
-सोशल मीडिया का दुप्रचार या धार्मिक उन्माद फैलाने वालों को तुरंत प्रभाव से गिरफ्तार किया जाएगा।
-अति उत्साह में या मायूस होकर किसी भी प्रकार की विवादित सामग्री पोस्ट नहीं करें।
-शांति और सौहार्दपूर्ण वातावरण बनाए रखने में प्रशासन और पुलिस को पूरी तरह से सहयोग करें।
-याद रखें आपकी किसी भी अवांछित गतिविधियों पर प्रशासन की नजर है। इसलिए कोई भी ऐसा कृत्य नहीं करें जिससे आप और आपके परिवार को कोई कानूनी कार्रवाई की परेशानी उठानी पड़े।

स्टेशन व बस स्टैंड पर पर बढ़ाई सुरक्षा-
रेलवे सुरक्षा बल और राजकीय रेलवे पुलिस ने स्टेशन और ट्रेनों की सुरक्षा भी बढ़ा दी है। जीआरपी थाना अधिकारी ने सभी कार्मिकों को सचेत रहने के निर्देश दिए है, स्टेशन पर किसी भी प्रकार की संदिग्ध गतिविधि नजर आने पर तुरंत सूचना देने के लिए कहा है। शहर के बसस्टैंड पर भी पुलिस तैनात रही।

अफवाहें नहीं फैलाएं-
जिले के सभी नागरिक मिलकर अफ वाहों को फैलने से रोकने में सहयोग करें, चप्पे-चप्पे पर पुलिस बल तैनात है, शनिवार को जिलेभर में शांति रही, अकलेरा में एक व्यक्ति को सोशल मीडिया पर गलत पोस्ट डालने पर तुरंत गिरफ्तार किया गया है। आगामी निर्देश तक जिले में धारा 144 जारी रहेगी।
राममूर्ति जोशी, पुलिस अधीक्षक,झालावाड़

जिले में सभी कार्यपालक मजिस्ट्रेड, तहसीलदार, बीडीओ आदि को मुस्तैद कर रखा है। उनके सहयोग के लिए एसी, एक्सईन को लगाया गया है। सभी ने शाम 5-7 बजे के बीच अपने-थाना क्षेत्रों में लोगों से मिले है। रविवार को बारावफात होने से सभी धार्मिक संगठनों व पार्टी पदाधिकारियों से चर्चा की है। उन्होंने पहले की तरह जिले में शांति व सौर्हाद बनाए रखने का आश्वासन दिया है। अनुमति लेकर ही धार्मिक जुलूस निकाले जा सकेंगे। धारा 144लग रही है इसलिए कोई भी फटाखे, हथियार व बन्दूक आदि साथ लेकर घूमने व अखाड़े पर पाबंदी रहेगी।
राजेन्द्र प्रसाद चतुर्वेदी, कार्यवाहक जिला कलक्टर, झालावाड़।

रिपोर्ट-हरिसिंह गुर्जर,झालावाड़

[MORE_ADVERTISE1]

c
c