स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

राजस्थान के झालवाड़ में तेज बारिश, दिल्ली-मुंबई रेल मार्ग पर भरा पानी, जनजीवन प्रभावित

rohit sharma

Publish: Sep 09, 2019 17:32 PM | Updated: Sep 09, 2019 17:32 PM

Jhalawar

Heavy Rain Effect in Rajasthan : राजस्थान के Jhalawar में बारिश का दौर जारी है। मानसून जिले में मेहरबान है जिसके चलते क्षेत्र के नदी, नाले, बांध लबालब हैं। झालावाड़ में सोमवार को Jhalrapatan, सुनेल, चौमहला समेत आसपास के इलाकों में तेज बारिश हुई। जिससे कई जगह जनजीवन प्रभावित हो गया।

झालावाड़। राजस्थान के झालावाड़ जिले में बारिश ( Rain in Jhalawar ) का दौर जारी है। मानसून ( Monsoon 2019 ) जिले में मेहरबान है जिसके चलते क्षेत्र के नदी, नाले, बांध लबालब हैं। झालावाड़ में सोमवार को झालरापाटन, सुनेल, चौमहला समेत आसपास के इलाकों में तेज बारिश हुई। जिससे कई जगह जनजीवन प्रभावित हो गया।

झालावाड़ जिले में झमाझम बारिश का दौर रात भर से जारी है। वहीं, दूसरे दिन सोमवार अलसुबह से तेज गर्जना के साथ तेज बारिश हो रही है। झालरापाटन में भी सुबह 6 बजे से बारिश का दौर शुरू हो गया। तेज बरसात शुरू होने से जनजीवन भी प्रभावित हुआ। जिले के सोजपुर, खानपुर में सुबह 5 बजे से झमाझम बारिश जारी है।

क्षेत्र में रविवार रात व सोमवार तड़के से झमाझम मूसलाधार बारिश हो रही है। फिर से बरसात का दौर शुरू होने से लोगों की दिनचर्या भी प्रभावित हुई। साथ ही खरीफ की फसलों में नुकसान की आशंका बढ़ गई है। पडौसी राज्य मध्य प्रदेश में भी बारिश होने से सोमवार तड़के कालीसिंध बांध के 8 गेट 26 मीटर तक खोलकर पानी की निकासी की जा रही है। मध्यप्रदेश में भी बारिश हो रही है। जिससे बांध में पानी की आवक बढ़ गई है। सोमवार को बांध से 1 लाख 2 हजार 88 क्यूसेक पानी की निकासी की जा रही है। तेज बारिश के कारण भीमसागर बांध के दो गेट खोलकर निकासी शुरू की गई है।

वहीं, सुनेल के अरनिया मार्ग पर बारिश से सड़कों पर पानी भर गया। बारिश के बाद सुनेल के भवानीमंडी मार्ग पर स्थित आहूनदी में भी उफान आ गया।

कस्बा हुआ जलमग्न, रेलवे ट्रैक जाम

जिले के गंगधार उपखण्ड में गत रात्रि से तेज बारिश को लेकर क्षेत्र के नदी नाले खाल उफान पर आ गए साथ ही चौमहला कस्बा जलमग्न हो गया। चौमहला कस्बे के मध्य से गुजर रही मुख्य दिल्ली-मुम्बई रेलवे मार्ग पर पानी आ गया। जिसके कारण मार्ग प्रभावित हो गया। रेलवे प्रशासन ने मुस्तैदी दिखते हुए फिलहाल रेलवे ट्रेक को रोक दिया है और ट्रेनों को भी रोक लिया गया है। वहीं, ट्रैक को देखने लोगों की भीड़ जमा हो गई है। पानी आने के कारण रेलवे फाटक के बाहर भी बाढ़ जैसे हालात हो गए।