स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

शहर में दमकल से हुई पेयजल आपूर्ति

Jitendra Jaikey

Publish: Aug 17, 2019 19:22 PM | Updated: Aug 17, 2019 19:22 PM

Jhalawar

-नदी के बहाव में बह गई थी जलदाय की लाइन
-दिन भर सुधारने में जुट रहे कर्मचारी


शहर में दमकल से हुई पेयजल आपूर्ति
-नदी के बहाव में बह गई थी जलदाय की लाइन
-दिन भर सुधारने में जुट रहे कर्मचारी
-जितेंद्र जैकी-
झालावाड़. शहर में पेयजल आपूर्ति के मुख्य स्त्रोत कालीसिंध नदी के पीपाजी दह पर 14 अगस्त को नदी के उफान के दौरान बही पेयजल पाइप लाइन को दुरस्त करने में शनिवार को विभाग का अमला जुटा रहा। इस दौरान शहर के कई मोहल्लों में पेयजल समस्या से जुझ रहे लोगों के लिए टेंकरों से जलापूर्ति कर व्यवस्था सुचारु करने का प्रयास किया गया। वहीं नगर परिषद की ओर से भी दमकल से पेयजल आपूर्ति की गई। जिले में लगातार हुई जोरदार बारिश के दौरान कालीसिंध नदी में उफान आ गया था। इस दौरान जलदाय विभाग के पीपाजी दह पर बने पम्प हाउस में भी नदी का पानी घुस गया था जिससें इलेक्ट्रीक पैनल खराब हो गया व पेयजल पाइप लाइन के चार बड़े पाइप बह गए थे। इससे शहर की जलापूर्ति भी ठप हो गई थी। विभाग ने इसके लिए शनिवार को नदी का पानी उतरने के बाद पेयजल पाइप लाइन की सुध ली व पाइपों को व्यवस्थित करने का काम शुरु किया। इस दौरान सुबह से ही दो जेसीबी की मदद से बीस कर्मचारियों ने मशक्कत कर सबसे पहले नदी में बहे चार पाईपों को बाहर निकाला। इसके बाद उन्हे व्यवस्थित किया गया। पम्प हाउस में लगे इलेक्टिक पैनल में भी फाल्ट आने से उसे भी ठीक करने में इलेट्रिशियन जुटे रहे।
-परेशान हुए प्रभावित क्षेत्रवासी
शहर में पीपाजी दह से राड़ी के बालाजी रोड़, हबीब नगर, धनवाड़ा, संजय कॉलोनी, इमामबाड़ा, मल्ल मोहल्ला, हरीजन मोहल्लाा, पीलखाना सहित करीब एक दर्जन मोहल्लों में जलापूर्ति होती है। इस दौरान जलापूर्ति नही होने से लोगों को टेंकरों व हेण्डपम्प पर निर्भर रहना पड़ा। टेंकर स ेपानी भरने के दौरान भी लड़ाई झगड़ा होता रहा। राड़ी के बालाजी रोड़ निवासी प्रहलाद सेन, रामप्रताप लोधा, प्रेम मेघवाल, हबीब नगर निवासी फिरोज खान, नसीम बानो, महमूदा बेगम, मुन्नी बाई, बेतूल, पीलखाना निवासी रेशमा, छम्मीबाई, कदीर बाई, शहजाद बेगम, हुस्तीपाड़ा निवासी सलीम खान, रेशमा, जुबेदा, जुनैद, एजाज व रुखसाना सहित मोहल्लेवासी पानी भरने के लिए मशक्कत करते रहे। इस दौरान पार्षद सागर कश्यप, पूर्व पार्षद फारूक अहमद, कांग्रेस नगर अध्यक्ष नफीस शेख व जिला प्रवक्ता ओम पाठक की अगुवाई में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने भी टेंकर व दमकल के साथ मौके पर पहुंचकर लोगों को पेयजल उपलब्ध करवाया।
-दमकल से हुई आपूर्ति
शहर में हबीब नगर, धनवाड़ा कच्ची बस्ती व ईदगाह रोड़ पर जलदाय विभाग की ओर से चलाए जा रहे टेंकरों को अपर्याप्त मानते हुए नगर परिषद की ओर से शनिवार को दो दमकलों से पेयजल आपूर्ति की गई। दस दौरान दमकलों ने हर मोहल्लों में तीन-चार चक्कर लगाए।
-जलापूर्ति सुचारु करने का प्रयास कर रहे है
इस सम्बंध में जलदाय विभाग के सहायक अभियंता मंगल सिंह परमार को कहना है कि पीपाजी दह स्थित जलदाय विभाग के पम्प हाउस में व्यवस्थाएं सुचारु करने का प्रयास कर रहे है। रविवार शाम तक व्यवस्था सुचारु हो जाएगी।
-शहर में पेयजल व्यवस्था बनाई
इस सम्बंध में नगर परिषद के आयुक्त महावीर सिंह सिसोदिया ने बताया कि शहर में कई मोहल्लों में पेयजल समस्या होने के कारण नगर परिषद की दो दमकलों से पेयजल उपलब्ध कराया गया। इससे लोगों को राहत मिली।
पुलिया पर जमी मिट्टी से परेशानी
-नदी उतरने के बाद की समस्या
झालावाड़. कालीसिंध व आहू नदी के शनिवार को उफान के कम होने के बाद पुलिया पर जमी मिट्टी से राहगीरों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। गत दिनो गागरोन रोड़ पर स्थित आहू नदी के उफान के दौरान पुलिया पर रास्ता बंद हो गया था। शनिवार शाम नदी के पानी के उतरने के बाद पुलिया व खुरंजे पर मिट्टी जमी हुई नजर आई। इस मार्ग पर करीब एक दर्जन गांवों के लोग रास्ता खुलते ही आवागमन के लिए शुरु हो गए लेकिन मिट्टी की फिसलन से उन्हे भारी परेशानी का सामना करना पड रहा है। वाहन चालक व पैदल चलने वाले भी फिसलन के कारण गिरने से गीली मिट्टी में सन रहे है। इस मार्ग पर दूध वाले व ग्रामीण नियमित रुप से शहर में आवागमन करते है गत तीन दिनों के बाद रास्ता तो खुला लेकिन परेशानी हल नही हुई। ग्रामीणों ने रास्ते की मिट्टी हटवाने की मांग की है।