स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

राशनकार्ड नवीनीकरण: छह दिन में 2.18 लाख आवेदनों की करनी होगी ऑनलाइन एंट्री

Vasudev Yadav

Publish: Aug 14, 2019 11:37 AM | Updated: Aug 14, 2019 11:37 AM

Janjgir Champa

Ration Card : तय समय में एंट्री नहीं हो पाने से नए राशनकार्ड वितरण का बिगड़ेगा शेड्यूल

जांजगीर-चांपा. राशनकार्ड नवीनीकरण के लिए 5 अगस्त तक जिले में कुल 4 लाख 7 हजार 611 आवेदन मिले हैं। नवीनीकरण के लिए आवेदन लेने के साथ ही ऑनलाइन एंट्री भी खाद्य विभाग ने शुरू करा दी थी मगर शुरूआत में ही सर्वर के चलते एंट्री का काम धीमे गति से हुआ। मंगलवार की स्थिति में 1 लाख 88 हजार 890 आवेदनों की एंट्री हो चुकी थी। यानी 45 प्रतिशत एंट्री ही हो पाई है। 55 प्रतिशत एंट्री अभी शेष है।
ऑनलाइन एंट्री का काम 20 अगस्त तक पूरा करना है। ऐसे में तय समय में काम पूरा करने के लिए बचे छह दिनों में 2 लाख 18 हजार आवेदनों की एंट्री करनी होगी। तभी समय पर राशनकार्डों का वितरण हितग्राहियों में हो पाएगा। डाटा एंट्री के काम में पिछडऩे से वितरण में भी देरी हो सकती है। लेकिन कार्डों की संख्या को देखकर तय समय में डाटा एंट्री हो पाना संभव नजर नहीं आ रहा। डाटा एंट्री के लिए जिले में करीब 400 कर्मचारी लगाए गए हैं। खाद्य अफसरों के मुताबिक छुट्टी के दिनों में भी डाटा एंट्री का काम कराया जा रहा है तभी 1 लाख 88 हजार से ज्यादा आवेदनों की ऑनलाइन एंट्री की जा सकी है। उल्लेखनीय है कि राज्य सरकार द्वारा प्रचलित राशनकार्डों का नवीनीकरण कराया जा रहा है। जिसके तहत पिछले दिनों 5 अगस्त तक आवेदन लिए गए हैं जिसकी ऑनलाइन एंट्री की जा रही है। एंट्री के बाद नए राशनकार्डों की छपाई होगी और फिर वितरण किया जाएगा।

READ : अज्ञात कारण से किशोरी ने अपनी ई लीला समाप्त कर ली, परिवार के लोग सदमे में पुलिस ने दर्ज किया मामला

1 सितंबर से शुरू होना है वितरण
निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार 20 अगस्त तक ऑनलाइन एंट्री होनी है। इसके बाद 21 से 30 अगस्त तक राशनकार्ड छपाई का काम होगा। फिर 1 सितंबर से शिविर लगाकर नए राशनकार्ड बांटे जाएंगे। वितरण का काम 8 सितंबर तक चलेगा मगर यह सब तभी संभव होगा जब तय समय में डाटा एंट्री का काम हो जाएगा। इसमें देरी होने पर वितरण कार्यक्रम का शेड्यूल भी बिगड़ सकता है। क्योंकि इसके बाद एपीएल कार्ड बनाने की शुरूआत भी होनी है।

READ : मंदिर के पास जंगल में मिली महिला की लाश, क्षेत्र में लोगों के बीच कौतूहल का विषय...

एंट्री के मामले में जिला आठवें क्रम पर
उल्लेखनीय है कि पूरे प्रदेशभर में एक साथ राशनकार्ड नवीनीकरण के लिए मिले आवेदनों की ऑनलाइन एंट्री का काम हो रहा है। डाटा एंट्री करने के मामले में जांजगीर-चांपा जिले का क्रम अभी आठवें नंबर पर है। पहले नंबर में बस्तर, दंतेवाड़ा दूसरा, राजनांदगांव तीसरे, रायगढ़ चौथे, कवर्धा पांचवें, बालोद छठवें और बीजापुर सातवें नंबर पर है। हांलाकि कार्डों की संख्या देखी जाई तो इन सभी जिलों से ज्यादा राशनकार्ड जांजगीर-चांपा जिले में है। ऐसे में डाटा एंट्री की रफ्तार इन जिलों से ज्यादा ही है।